गडकरी जासूसी कांड: विपक्ष का हमला तेज, सरकार और गडकरी ने कहा- जासूसी की बात झूठी

By: | Last Updated: Wednesday, 30 July 2014 6:38 AM

नई दिल्ली: केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के घर कथित तौर पर निगरानी संबंधी उपकरण  मिलने की बात को गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने खारिज कर दिया है. इसके साथ ही खुद नितिन गडकरी ने पहली बार इस मुद्दे पर बोलते हुए कहा कि उनकी जासूसी होने की बातें झूठी, बेबुनियाद और आधारहीन हैं.

 

गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने गडकरी के घर निगरानी उपकरण पाए जाने की खबरों को बेबुनियाद बताते हुए कहा कि खुद केंद्रीय मंत्री इसे खारिज कर चुके हैं.

 

क्या है जासूसी का सच?

 

आपको बता दें कि जब नितिन गडकरी के घर की जासूसी की खबरें आईं थीं तो उन्होंने इसे खारिज कर दिया था, लेकिन बीच में ये भी खबरें आईं कि उन्होंने पार्टी के बड़े नेताओं को ये जानकारी दी है कि दिल्ली नहीं मुंबई के घर पर जासूसी के उपकरण मिले थे, लेकिन अब उन्होंने एक बार फिर इनकार किया है. 

 

इससे पहले भी गडकरी ने अपने घर की कथित ‘जासूसी’ का खंडन किया था. गडकरी ने कहा था कि उनके घर में टैपिंग के उपकरण लगाए जाने की बात सरासर गलत है.

 

फिर दोहराता हूं, कहीं भी मेरे घर की जासूसी नहीं हुई: गडकरी

 

हंगामे की वजह से उच्च सदन में प्रश्नकाल नहीं चल पाया.

 

सदन की बैठक शुरू होते ही कांग्रेस के सदस्यों ने केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के घर कथित तौर पर निगरानी संबंधी उपकरण पाए जाने का मुद्दा उठाया. कांग्रेस के आनंद शर्मा ने कहा कि विपक्ष के तत्कालीन नेता और अब सदन के नेता अरूण जेटली के कथित तौर पर फोन कॉल अनधिकृत तरीके से रिकॉर्ड किए जाने का मुद्दा इसी सदन में उठा था और उस पर चर्चा की गई थी. अब वर्तमान केंद्रीय मंत्री की निगरानी किए जाने की खबरें हैं. यह मुद्दा बेहद गंभीर है और उस पर सदन में चर्चा की जानी चाहिए.

 

सभापति हामिद अंसारी ने उनसे यह मुद्दा शून्यकाल में उठाने और प्रश्नकाल चलने देने को कहा. लेकिन कांग्रेस के सदस्य अपनी मांग पर कायम रहे.

 

विवादों में गडकरी ही क्यों फंसते हैं?

 

वित्त मंत्री और रक्षा मंत्री अरूण जेटली ने कहा कि कल्पना और हकीकत में बहुत अंतर होता है. उन्होंने कहा कि गृह मंत्री इस बारे में बयान देंगे. गृह मंत्री ने कहा कि मीडिया की इन खबरों में कोई सचाई नहीं है कि केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के शयनकक्ष में उच्च क्षमता वाला श्रवण उपकरण पाया गया है. उन्होंने कहा कि खुद गडकरी इन खबरों को बेबुनियाद और तथ्यात्मक रूप से गलत बता चुके हैं.

 

सिंह ने कहा कि इस संबंध में गडकरी ने या किसी और ने कोई शिकायत भी दर्ज नहीं कराई है. लेकिन सिंह के जवाब से असंतुष्ट सदस्यों का हंगामा जारी रहा जिसके बाद सभापति ने कार्रवाई शुरू होने के कुछ ही देर बाद बैठक 15 मिनट के लिए स्थगित कर दी.

 

बैठक 11 बज कर 21 मिनट पर पुन: शुरू होने पर वही नजारा था. कांग्रेस सदस्य गडकरी के घर कथित तौर पर निगरानी संबंधी उपकरण पाए जाने के मुद्दे पर चर्चा की मांग करते हुए हंगामा करने लगे.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: gadkari_spy_case
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017