बीयर की बोतल पर गांधी का चित्र, अमेरिकी कंपनी ने माफी मांगी

By: | Last Updated: Sunday, 4 January 2015 10:14 AM
gandhi bot

हैदराबाद/वाशिंगटन: बीयर के डिब्बे और बोतल पर महात्मा गांधी का चित्र छापे जाने को लेकर एक अमेरिकी कंपनी के खिलाफ हैदराबाद की एक अदालत में एक याचिका दायर की गई है जिसमें आरोप लगाया गया है कि कंपनी ने राष्ट्रपिता का अपमान किया है. इसके बाद अमेरिकी कंपनी ने माफी मांग ली है.

 

कनेक्टीकट आधारित न्यू इंग्लैण्ड ब्रूइंग कंपनी ने यह भी दावा किया कि उसका इरादा शांति दूत के प्रति सम्मान व्यक्त करने का था और गांधी की पौत्री एवं पौत्र लेबल के लिए उसकी प्रशंसा कर चुके हैं.

 

बीयर ब्रांड का नाम ‘‘गांधी बॉट’’ है, जिसके बारे में कंपनी का कहना है कि इसमें अमेरिकन हॉप्स की तीन किस्म की बीयर का मिश्रण है .

 

सुंकारी जनार्दन नाम के वकील ने मेट्रापॉलिटन मजिस्ट्रेट, साइबराबाद के समक्ष याचिका दायर की है जिसमें कहा गया है कि शराब के डिब्बे पर गांधी की तस्वीर और राष्ट्रपिता का विवरण अत्यंत निंदनीय और भारतीय कानूनों के तहत दंडनीय है .

 

याचिका में कहा गया है कि यह प्रीवेंशन ऑफ इंसल्ट्स टू नेशनल ऑनर एक्ट, 1971 और भादंसं की धारा 124 के तहत आने वाले अपराध के बराबर है .

 

याचिका सुनवाई के लिए कल आएगी . न्यू इंग्लैण्ड कंपनी में भागीदार मैट वेस्टफाल ने हालांकि कहा कि यदि भारतीय लोगों की भावनाएं आहत हुई हैं तो कंपनी माफी मांगती है. उन्होंने कहा, ‘‘यदि भारत के लोग हमारे गांधी-बॉट लेबल को अपमानजनक मानते हैं तो हम माफी मांगते हैं . हमारा इरादा किसी का अपमान करने का नहीं है, बल्कि हम एक ऐसे व्यक्ति को सम्मान देना और याद करना चाहते हैं जिसका हम काफी आदर करते हैं .’’

 

वेस्टफाल ने ई-मेल पर दिए जवाब में कहा, ‘‘हम कोई उत्पाद बनाते समय काफी सावधानी बरतते हैं और उम्मीद करते हैं कि हमारे उत्पाद की आलोचना उस हिसाब से नहीं की जाएगी जैसा कि महात्मा गांधी शराब के बारे में कहा करते थे.’’ कंपनी ने अपनी वेबसाइट पर कहा, ‘‘सुगंधित और पूर्ण शाकाहारी, गांधी बॉट आत्म शुद्धि के लिए एक आदर्श सहायता है और यह सच एवं प्रेम की बात करती है.’’ वेस्टफाल ने कहा, ‘‘हम उम्मीद करते हैं कि हमारा उत्पाद अच्छे भोजन और मित्रों के साथ न सिर्फ जिम्मेदारी से इस्तेमाल किया जाता है, बल्कि वे महात्मा गांधी और सविनय अवज्ञा के उनके अहिंसा के तरीकों के बारे में अधिक जानने के लिए भी प्रेरित होते हैं .’’

 

उन्होंने कहा, ‘‘गांधी की पौत्री और पौत्र ने लेबल देखा है तथा लेबल की सराहना की है. हम उम्मीद करते हैं कि आप हमारे नेक इरादे को समझेंगे और गांधी के प्रति आदर व्यक्त करने के हमारे तरीके तथा स्वतंत्रता का सम्मान करेंगे.’’ कंपनी के उत्पाद अंतरराष्ट्रीय स्तर पर नहीं बेचे जाते .

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: gandhi bot
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017