क्या है गंगा पर जहाज चलाने की योजना ?

By: | Last Updated: Friday, 5 June 2015 11:49 AM
ganga

नई दिल्ली: नरेंद्र मोदी सरकार की योजना देश को 1620 किलोमीटर लंबा जलमार्ग देने की है. पिछले साल बजट में वित्त मंत्री ने इस योजना का प्रस्ताव रखा था. ये जलमार्ग गंगा नदी पर तैयार किया जाएगा. जो इलाहाबाद को पश्चिम बंगाल के हल्दिया तक जोड़ेगा. क्या है गंगा पर जहाज चलाने की योजना आपको बताते हैं.

 

गंगा जल विकास मार्ग है योजना का नाम. इस योजना से क्या होगा ?

 

इस योजना के तहत गंगा नदी में 1 हजार 620 किलोमीटर लंबा ऐसा रास्ता तैयार किया जाएगा जिस पर बड़े-बड़े जहाज चलेंगे. लंदन की थेम्स नदी में बड़े-बड़े जहाज माल से लेकर लोगों को मंजिल तक पहुंचाते हैं.

 

जैसे इटली के वेनिस शहर में.. जर्मनी की राइन नदी में.. जैसे इन देशों में नदियों पर बड़े-बड़े जहाज नजर आते हैं वैसे ही भारत में भी इलाहाबाद से कोलकाता के हल्दिया तक के 1620 किलोमीटर के रास्ते पर जहाज चलेंगे.

 

इस योजना को पूरा करने में करीब 4200 करोड़ के खर्च का अनुमान है. करीब 1500 टन वजन के जहाज गंगा में आसानी से चल सके इसके लिए 45 मीटर चौड़ा और 5 मीटर गहरा रास्ता मशीनों की मदद से तैयार किया जाएगा इस योजना को पूरे होने में करीब 6 साल का वक्त लग सकता है.

 

इलाहाबाद से हल्दिया तक के रास्ते में 17 टर्मिनल बनाए जाएंगे. टर्मिनल हल्दिया जैसे ही पोर्ट हो सकते हैं जहां पर ये जहाज रुकेंगे. इन टर्मिनलों पर सामान उतारा और चढ़ाया जाएगा.

 

ये योजना गंगा को साफ और पर्यटन के साथ ही उद्योग के नजरिए से उपयोगी बनाने के मोदी के वादे का हिस्सा है जो उन्होंने वाराणसी में किया था.

 

एबीपी न्यूज के कार्यक्रम गंगा की सौगंध में नितिन गडकरी ने जलमार्ग के फायदे को भी समझाया था. भारत में नदियों के जरिए सिर्फ 7 फीसदी माल ही जहाजों से भेजा जाता है. चीन में कोयले के कुल उत्पादन का 40 फीसदी हिस्सा नदियों के जरिए ही लाया ले जाया जाता है. जबकि भारत में कोयले के कुल उत्पादन का 80 फीसदी हिस्सा रेलवे के जरिए देश के कोने-कोने में भेजा जाता है.

 

तय है कि अगर गंगा जल मार्ग विकास योजना को अमली जामा पहनाया गया तो सुविधा के साथ-साथ खर्च में भी कमी आएगी और अर्थव्यवस्था के विकास को भी गति मिलेगी.

 

लेकिन ये सबकुछ इतना आसान नहीं है. इलाहाबाद से हल्दिया तक के रास्ते पर मालवाहक जहाज को चलाने के लिए रास्ते तैयार करना सबसे बड़ी चुनौती है. इन चुनौतियों से भूतल परिवहन मंत्री नितिन गडकरी कैसे निपटेंगे?

 

इलाहाबाद में है गंगा यमुना का संगम . इसके बाद जो धारा बनती है उस प्राकृतिक संसाधन का इस्तेमाल जल परिवहन के लिए करने की योजना बनाई जा रही है. इलाहाबाद के अलावा गंगा के किनारे वाराणसी, पटना जैसे शहर बसे हैं. गंगा अकेली ऐसी नदी है जिस पर परिवहन से करोड़ों लोग जुड़ सकते हैं. लेकिन गंगा सस्ता और सुविधा देने वाला रास्ता बन सके इसमें पहली मुश्किल है गंगा की गाद.

 

पहली समस्या

गंगा की गाद

गंगा जब पहाड़ों से उतरती है तो साथ आते हैं पत्थरों के टुकड़े और रेता . ये सब गाद बनकर गंगा के साथ बहते हैं या तलहटी में बैठते जाते हैं अगर गंगा में जहाज चलाने हैं तो सबसे पहले गंगा के तल को समतल बनाया जाना जरूरी है.

 

नदी की तलहटी में बैठी गाद या रेत को उठा कर धारा को गहरा किया जाता है. इसके बाद तलहटी को समतल बनाया जाता है ताकि जहाजों को दिक्कत ना हो. इसके बिना छोटी नाव तो चल सकती हैं लेकिन ज्यादा क्षमता वाले जहाज नहीं. इस पूरी प्रकिया के लिए किनारों को भी बराबर बनाया जाता है

 

दूसरी समस्या

प्रवाह

 

किसी भी जहाज को चलने के लिए पानी की जरूरत होगी. गंगा का प्रवाह कई जगह ऐसा है जहां जहाज चलना मुश्किल है. ऐसे में गंगा को प्रवाह कैसे मिलेगा ये बड़ी चुनौती है? लेकिन केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी के मुताबिक इस समस्या का बैराज बनाकर इलाज किया जाएगा. यानी ये बैराज पानी रोकेंगे भी और जरूरत के वक्त पानी छोड़ेंगे भी. गाजीपुर से कोलकाता तक के बीच तो आना जाना चल ही रहा है लेकिन रास्तों में प्रवाह की समस्या है जिसे दूर करना है.

 

तीसरी समस्या

पर्यावरण

दिक्कत ये भी है कि नदियों में जहाज चलने पर नदियों का अपना परिस्थिति तंत्र गड़बड़ा सकता है. WWF की एक रिपोर्ट के मुताबिक नदियों में जहाज चलने से अक्सर देखा गया है कि नई पैदा हुई मछलियां खत्म होने लगती हैं. क्योंकि वो जहाज से पैदा हुई लहरों को संभाल नहीं पातीं और ऐसे में लंबे वक्त में फायदा होने की बजाए नुकसान होने लगता है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: ganga
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: ganga Nitin Gadkari PM Narendra Modi
First Published:

Related Stories

गोरखपुर ट्रेजडी: इलाहाबाद HC ने योगी सरकार से पूछा सवाल, बच्चों की मौत कैसे हुई ?
गोरखपुर ट्रेजडी: इलाहाबाद HC ने योगी सरकार से पूछा सवाल, बच्चों की मौत कैसे...

इलाहाबाद: गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में बच्चों की मौत के मामले की न्यायिक जांच की मांग को...

योगी के बयान पर बोले अखिलेश- थानों में पहले भी मनती थी जन्माष्टमी, हमने रोक नहीं लगाई
योगी के बयान पर बोले अखिलेश- थानों में पहले भी मनती थी जन्माष्टमी, हमने रोक...

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के नेता अखिलेश यादव ने मुख्यमंत्री...

ABP न्यूज़ का खुलासा: सृजन NGO में बाहर से सामान मंगाकर सिर्फ पैकिंग होती थी
ABP न्यूज़ का खुलासा: सृजन NGO में बाहर से सामान मंगाकर सिर्फ पैकिंग होती थी

भागलपुर:  बिहार में जिस सृजन घोटाले को लेकर राजनीति गरम है उसको लेकर बड़ा खुलासा किया है. एबीपी...

CCTV में कैद दिल्ली का 'दुशासन': 5 स्टार के सिक्योरिटी मैनेजर ने की महिला से छेड़खानी
CCTV में कैद दिल्ली का 'दुशासन': 5 स्टार के सिक्योरिटी मैनेजर ने की महिला से...

नई दिलली: राजधानी दिल्ली के एक फाइव स्टार होटल में महिला से छेड़खानी का एक सनसनीखेज मामला सामने...

आज हर कीमत पर चुनाव जीतना चाहती हैं राजनीतिक पार्टियां: चुनाव आयुक्त
आज हर कीमत पर चुनाव जीतना चाहती हैं राजनीतिक पार्टियां: चुनाव आयुक्त

गुरुवार को एडीआर के एक कार्यक्रम में चुनाव आयुक्त ने कहा, जब चुनाव निष्पक्ष और साफ सुथरे तरीके...

भारत को मिला जापान का साथ, डोकलाम में सेना की तैनाती को सही ठहराया
भारत को मिला जापान का साथ, डोकलाम में सेना की तैनाती को सही ठहराया

नई दिल्ली: डोकलाम को लेकर चीन से तनातनी के बीच भारत को जापान का समर्थन मिला है. जापान ने डोकलाम...

2015 से पहले के तेजाब हमला पीड़ितों को मिल सकता है मुआवजा
2015 से पहले के तेजाब हमला पीड़ितों को मिल सकता है मुआवजा

नई दिल्ली: दिल्ली की आप सरकार तेजाब हमलों के उन मामलों पर विचार करेगी, जो सरकार की 2015 में...

बलात्कार पीड़ित 10 साल की लड़की ने  बच्चे को जन्म दिया
बलात्कार पीड़ित 10 साल की लड़की ने बच्चे को जन्म दिया

चंडीगढ़: बलात्कार पीड़ित एक 10 साल की लड़की ने कल अस्पताल में एक बच्चे को जन्म दिया. लड़की के...

‘साझी विरासत’ को बचाने के लिए एकजुट होकर लड़ेंगी विपक्षी पार्टियां
‘साझी विरासत’ को बचाने के लिए एकजुट होकर लड़ेंगी विपक्षी पार्टियां

नई दिल्ली:  लगभग एक दर्जन से ज्यादा विपक्षी पार्टियों ने कल एक मंच पर आकर आरएसएस पर तीखा हमला...

गुजरात में स्वाइन फ्लू से अबतक 230 की मौत, राज्य ने केंद्र से मांगी मदद
गुजरात में स्वाइन फ्लू से अबतक 230 की मौत, राज्य ने केंद्र से मांगी मदद

अहमदाबाद: गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने राज्य में स्वाइन फ्लू की स्थिति के बारे में...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017