घोषणापत्र: मैं नहीं बनूंगा सीएम, चुनाव में विरोधियों को रगड़ देंगे- नितिन गडकरी

By: | Last Updated: Friday, 10 October 2014 2:41 AM
Ghoshnapatra: Nitin Gadakari

नई दिल्ली: ABP न्यूज के खास कार्यक्रम घोषणापत्र में केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने दावा किया कि बीजेपी महाराष्ट्र में अपने दम पर सरकार बनाएगी. महाराष्ट्र में चुनाव बाद गठबंधन पर गडकरी बोले कि राजनीति में कब क्या हो जाए किसी को पता नहीं. गडकरी ने ये भी साफ कर दिया कि वे सीएम पद के दावेदार नहीं है और दिल्ली नहीं छोड़ेंगे.

 

महाराष्ट्र में बीजेपी के सीएम पद के दावेदार पर कुछ गडकरी नहीं बोले. इसमें गडकरी के एक बयान पर हंगामा हो सकता है. गडकरी ने कहा कि सालों से मोदी और हमपर निशाना साधा गया और अब सबको रगड़ देंगे. रगड़ने का मतलब बताया चुनाव में हराना.

 

सवाल- महाराष्ट्र में बीजेपी का मुख्यमंत्री कौन होगा?

जवाब- मैं महाराष्ट्र का CM नहीं बनना चाहता हूं. महाराष्ट्र बीजेपी में कई दिग्गज चेहरे हैं. CM पद को लेकर कोई झगड़ा नहीं है.

 

सवाल- उद्धव और राज ने मोदी के खिलाफ मोर्चा क्यों खोला?

जवाब- सालों से मोदी और हम पर निशाना साधा गया. लेकिन अब सबको चुनाव में रगड़ देंगे. विरोधियों को चुनाव में हरा देंगे. बीजेपी की भारी जीत होगी.

 

सवाल- पाकिस्तान के खिलाफ सरकार क्या कर रही है?

जवाब- हम किसी के ऊपर आक्रमण नहीं करना चाहते हैं. हम डरपोक सरकार नहीं है. लेकिन पाक को उसकी फायरिंग का कड़ा जवाब मिलेगा. हम शांति चाहते हैं लेकिन अगर फायरिंग जारी रही तो पाकिस्तान कोकीमत चुकानी पड़ेगी.

 

सवाल- महाराष्ट्र में कोई मुद्दा है या सिर्फ मोदी है?

जवाब- इस समय देश के सबसे लोकप्रिय नेता मोदी हैं. तो अगर मोदी महाराष्ट्र में प्रचार कर रहे हैं तो इसमें क्या बुराई है. अमेरिका दौरे पर भी भारत में उनको कवर किया गया क्योंकि इस समय उनकी टीआरपी बहुत ज्यादा है. लोकसभा चुनाव में भी यह देखने को मिला.

 

सवाल- क्या अलग विदर्भ की मांग से पीछे हटी?

जवाब- महाराष्ट्र में विदर्भ के अलग राज्य बनाने या नहीं बनाने पर मोदी ने कुछ नहीं कहा. BJP अलग विदर्भ राज्य चाहती है.

 

सवाल- क्या बीजेपी ने NCP से डील की थी?

जवाब- बीजेपी और NCP में कोई डील नहीं हुई. दिल से चाहता हूं कि राज ठाकरे और उद्धव साथ आएं.

 

सवाल- क्या शिवसेना से गठबंधन तोड़ने की कहानी पहले से तय थी?

गडकरी का जवाब- हमने आखिरी समय तक शिवसेना के साथ गठबंधन बचाने की कोशिश की

 

सवाल-सीटें कम पड़ीं तो क्या शिवसेना से हाथ मिलाएंगे?

जवाब- राजनीति में कब क्या हो जाए किसी को नहीं पता. हमें पूर्ण बहुमत मिलेगा, किसी के साथ की जरूरत नहीं पड़ेगी.

 

कौन हैं नितिन गडकरी?

बेबाक अंदाज, बड़े रणनीतिकार और बीजेपी में सबसे बड़े संकटमोचक नितिन गडकरी हैं. नाराज लाल कृष्ण आडवाणी, सुषमा, मुरली मनोहर जोशी, उद्धव और जब राज ठाकरे को साधना हो तो गडकरी.

 

बीजेपी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष और संघ के समर्पित सिपाही नितिन गडकरी. मोदी सरकार में नितिन गडकरी केन्द्रीय परिवहन मंत्री का पदभार संभाल रहे हैं.

 

उम्र 56 साल, महाराष्ट्र के नागपुर में जन्म, कॉमर्स और कानून की पढ़ाई. छात्र जीवन में ABVP के जरिए राजनीति से जुड़े. बीजेपी युवा मोर्चा से भी जुड़े रहे. 32 साल की उम्र में विधान परिषद पहुंचे.

 

20 साल से विधान परिषद के सदस्य. 1995 में बीजेपी-शिवसेना सरकार में PWD मंत्री बने. गडकरी के कार्यकाल में कई बड़े हाईवे, एक्सप्रेस वे और फ्लाईओवर बने.

 

1995 में पूर्ति ग्रुप का गठन . चीनी, ऊर्जा, बायो डीजल , एग्रोटेक जैसे कारोबार. नितिन गडकरी खुद को किसान- व्यापारी कहलाना पसंद करते हैं.

 

गडकरी ने आम कार्यकर्ता से अध्यक्ष तक का सफर तय किया. पहले वह महाराष्ट्र में बीजेपी के महासचिव से लेकर अध्यक्ष तक बने. साल 2009 में देश की राजनीति में गडकरी तब चमके जब उन्हें बीजेपी का राष्ट्रीय अध्यक्ष चुना गया.

 

उन्हें दूसरी बार अध्यक्ष बनाने के लिए बीजेपी के संविधान तक में बदलाव किया गया. लेकिन भ्रष्टाचार के आरोपों की वजह से गडकरी ने पद छोड़ दिया.

 

आम आदमी पार्टी ने गडकरी पर गंभीर आरोप लगाए गडकरी पर महाराष्ट्र का सिंचाई घोटाला न उठाने का आरोप लगा. सरकार से फायदा लेने का आरोप लगा. किसानों की जमीन हड़पने का आरोप लगा.

 

फर्जी कंपनियों के जरिए पूर्ति ग्रुप में निवेश के आरोप लगे. गडकरी के पूर्ति ग्रुप में इनकम टैक्स के छापे भी पड़े. लेकिन भ्रष्टाचार का कोई आरोप गडकरी पर अब तक साबित नहीं हो सका है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Ghoshnapatra: Nitin Gadakari
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017