यूपी में निर्भया रेप जैसी वारदात, पुलिस ने रेप के बाद प्राइवेट पार्ट में लगवाया टांका

By: | Last Updated: Monday, 29 June 2015 3:21 AM

लखनऊ : एक बार फिर उत्तर प्रदेश में निर्भया कांड जैसी ही दरिंदगी दोहराई गई है, लेकिन दुख की बात ये है कि इस मामले में सभी दोष पुलिस की है.

 

पुलिस ने ना ही अपना काम नहीं किया, बल्कि लड़की को नाजुक हालत में पहुंचाने में बड़ी भूमिका निभाई.

 

गोरखपुर के सहजनवां के एक गांव की 23 वर्षीय युवती की शादी 2012 में हुई थी. शादी के कुछ समय बाद वह मानसिक रोग से पीड़ित हो गई. इसके बाद से वह अपने मायके में रह रही थी. कुछ दिन पहले वह अपनी ननिहाल गई थी. 20-21 जून की शाम वहां से गायब हो गई. 21 जून की सुबह वह सहजनवां के समधिया चौराहे के पास बेहोश मिली.

 

स्थानीय लोगों के मुताबिक उसके प्राइवेट पार्ट से खून बह रहा था और कपड़े खून से भीगे हुए थे. शरीर पर नोच-खरोंच के निशान थे. मौके पर पहुंचे पुलिसकर्मियों ने पीएचसी सहजनवां में उसके प्राइवेट पार्ट में टांके लगवा दिए और उसके घर छोड़ आए. उसके परिवार को भी कुछ नहीं बताया गया.

 

मानसिक मंदित युवती को नहलाने के दौरान परिवार की महिलाओं ने उसके घाव देखे तो पुलिस को बताया पर पुलिस ने फिर भी टाल दिया. हालत खराब होने पर शुक्रवार को परिवारीजन महिला को लेकर जिला अस्पताल पहुंचे. डॉक्टरों के कहने के बाद शनिवार को पुलिस ने केस दर्ज किया और युवती को जिला हॉस्पिटल पहुंचाया. जिला हॉस्पिटल से उसे बीआरडी मेडिकल कॉलज रेफर कर दिया. यहां वह लेबर रूम में गंभीर हालत में भर्ती है.

 

पीएचसी सहजनवां के डॉक्टर ने युवती की हालत देखने के बावजूद न एफआईआर करवाई और न उसके परिवार को बुलवाया. गंभीर घाव होने के बावजूद भर्ती या जिला अस्पताल रेफर न कर वापस भेज दिया.

 

वहीं दूसरी ओर सहजनवां के पुलिसकर्मियों को युवती ने पूरा वाकया बताया लेकिन उन्होंने एफआईआर नहीं लिखी. परिवार को दो बार टाल दिया. खबर सुर्खियों में आने के बाद सहजनवां पुलिस ने धारा 376घ और 323 आईपीसी तहत मामला दर्ज करने का दावा किया है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: gorakhpur rape case
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017