गोरखपुर ट्रेजडी: मासूमों की मौत पर सीएम योगी ने साधी चुप्पी, गंदगी को ठहराया जिम्मेदार

गोरखपुर ट्रेजडी: मासूमों की मौत पर सीएम योगी ने साधी चुप्पी, गंदगी को ठहराया जिम्मेदार

इलाहाबाद में हुए कार्यक्रम में सीएम योगी इस मामले में सीधे तौर पर बोलने की बजाय चुप्पी साधे रहे, लेकिन इशारों-इशारों में उन्होंने बीमारी को बच्चों की मौत के पीछे की वजह बताने की कोशिश की.

By: | Updated: 12 Aug 2017 06:23 PM

लखनऊ: यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ के गृह जनपद गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में अब तक तीन दर्जन बच्चों की मौत हो चुकी है. मरने वाले बच्चों के घर में मातम का माहौल है, लेकिन इलाहाबाद के एक कार्यक्रम में सीएम योगी आदित्यनाथ के भाषण में इस दर्दनाक हादसे का दर्द सुनाई नहीं दिया.


इलाहाबाद में हुए कार्यक्रम में सीएम योगी इस मामले में सीधे तौर पर बोलने की बजाय चुप्पी साधे रहे, लेकिन इशारों-इशारों में उन्होंने बीमारी को बच्चों की मौत के पीछे की वजह बताने की कोशिश की. सीएम योगी ने कहा कि बच्चों की मौत जापानी इंसेफेलाइटिस नाम की बीमारी की वजह से हुई है और यह बीमारी गंदगी की वजह से होती है.


सीएम योगी ने सफाई पेश करते हुए यह भी कहा कि उनकी सरकार समस्या पैदा नहीं करती, बल्कि समस्याओं का समाधान करती हैं. उन्होंने कहा कि जो सरकार समाधान के बजाय समस्या पैदा करती है, उसे सत्ता में रहने का कोई हक़ नहीं होता.


इलाहाबाद में गंगा ग्राम सम्मेलन में बोलते हुए योगी आदित्यनाथ ने अपने भाषण की शुरुआत गोरखपुर में बच्चों की मौत की घटना के साथ की. उन्होंने ऑक्सीजन की कमी से इंकार तो नहीं किया लेकिन यह जरूर कहा कि गोरखपुर में जापानी इंसेफेलाइटिस पहली बार नहीं फैला है. यह बीमारी यहां साल 1978 से लगातार फैल रही है. इस पर अब तक काबू इसलिए नहीं पाया जा सका क्योंकि पहले के सरकारों ने सफाई को लेकर कोई दिलचस्पी नहीं दिखाई.


सीएम योगी ने इस मौके पर पीएम मोदी की ओर से तीन साल पहले शुरू किए गए स्वच्छता अभियान की जमकर तारीफ की और कहा कि उनके इस अभियान में अगर जनता भी सक्रियता से योगदान दे तो इंसेफेलाइटिस जैसी बीमारी को काबू में किया जा सकता है. सीएम योगी से गोरखपुर के मामले में बातचीत करने की कोशिश की गई लेकिन उन्होंने कुछ भी बोलने से मना कर दिया.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story राहुल के इंटरव्यू पर बढ़ा विवाद, EC पहुंची कांग्रेस ने कहा- पीएम मोदी और अमित शाह पर भी हो FIR