गीता प्रेस की मदद को आगे आए मुसलमान

By: | Last Updated: Thursday, 3 September 2015 2:35 AM
Gorakhpur_Gita Press has shut down indefinitely owing to labour unrest

अलीगढ़: अलीगढ़ के मुस्लिम चैम्बर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (एमसीसीआई) ने गोरखपुर में स्थित गीता प्रेस में लंबे समय से जारी हड़ाल पर चिता व्यक्त की है. गीता प्रेस हिंदू धर्म पर आधारित पुस्तके प्रकाशित करती है.

 

एमसीसीआई ने बुधवार को हड़ताली कर्मचारियों की मांगें पूरी करने में मदद करने के लिए गीता प्रेस को 11,111 रुपये का एक चेक भेजा.

 

एमसीसीआई के निदेशक जसीम मोहम्मद ने बताया कि गीता प्रेस देश की सबसे पुरानी प्रकाशन संस्था है, जो लोगों को कम कीमत पर धार्मिक किताबें मुहैया कराती है.

 

उन्होंने कहा कि गोरखनाथ मंदिर की तरह ही गीता प्रेस भी उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले की पहचान है.

 

उन्होंने कहा, “गीता प्रेस हमारी मिश्रित संस्कृति का प्रतीक है. सभी धर्म के लोगों को आगे आकर गीता प्रेस की मदद कर उसे इस संकट से उबरने में मदद करनी चाहिए.”

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Gorakhpur_Gita Press has shut down indefinitely owing to labour unrest
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017