ओखला बर्ड सेंचुरी : एक लाख लोंगों को अब मिल जाएगा आशियाना

By: | Last Updated: Wednesday, 19 August 2015 4:18 AM
Govt clears eco-sensitive zone around Okhla bird sanctuary

फाइल फोटो

नई दिल्ली : ओखला पक्षी विहार के ईको सेंसेटिव जोन का दायरा कम होने जा रहा है. पर्यावरण मंत्रालय एक सप्ताह के अंदर नई व्यवस्था लागू कर देगा. नोएडा में करीब एक लाख फ्लैट खरीदारों को इस नई व्यवस्था का सीधा लाभ होगा.

 

मंत्रलय की नई अधिसूचना जारी होने के बाद पक्षी विहार की पूर्वी, पश्चिमी व दक्षिणी सीमा से अब सिर्फ 100 मीटर व उत्तरी सीमा से 1.27 किमी तक ही इको सेंसिटिव जोन होगा.

 

इससे पहले संवेदनशील क्षेत्र का दायरा 10 किलोमीटर तक था. अधिसूचना जारी होने के बाद रीयल एस्टेट की उन परियोजनाओं पर लटकी तलवार हट जाएगी जो संवेदनशील क्षेत्र में आ रही थीं. खरीददार अपने फ्लैटों का कब्जा ले सकेंगे. 

 

गौरतलब है कि कुछ समय पूर्व नेशनल ग्रीन टिब्यूनल (एनजीटी) ने नोएडा में कई परियोजनाओं पर काम रुकवा दिया था क्योंकि ये ओखला पक्षी विहार के संवेदनशील जोन में आती हैं.

 

राष्ट्रीय वन्यजीव बोर्ड की बैठक के बाद पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने संवाददाताओं से कहा कि ओखला पक्षी विहार के संबंध में स्थिति स्पष्ट हो गई है।

 

मंत्रलय जल्द ही इसके आस-पास संवेदनशील क्षेत्र की एक तार्किक सीमा तय करते हुए अधिसूचना जारी करेगा। इससे पहले मंत्रलय इस अधिसूचना का मसौदा जारी कर चुका है और 60 दिन की निर्धारित समयसीमा के भीतर किसी ने भी इस पर आपत्ति नहीं की है इसलिए मंत्रलय एक सप्ताह के भीतर अधिसूचना जारी कर देगा।

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Govt clears eco-sensitive zone around Okhla bird sanctuary
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017