सरकार ने लिया छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज दर घटाने का फैसला

By: | Last Updated: Friday, 12 February 2016 5:47 PM
Govt to lower interest rate on small saving schemes

नई दिल्ली: अगर आप NSC या PPF जैसी छोटी बचत योजनाओं के जरिए बचत कर ज्यादा फायदा कमाने की सोच रहे हैं, तो अब आप ऐसा नहीं कर पाएंगे क्योंकि सरकार ने छोटी ब्याज दरों पर पहली अप्रैल से ब्याज दर घटाने का फैसला किया है. ऐसा करके सरकार कर्ज की EMI सस्ता करने की कोशिश में है.

रिजर्व बैंक ने नीतिगत ब्याज दर यानी रेपो रेट में कमी कर बैंक जमा पर ब्याज दर घटाने का रास्ता साफ किया तो अब सरकार ने छोटी बचत योजनाओं जैसे पोस्ट ऑफिस सेविंग्स स्कीम, नेशनल सेविग्स सर्टिफिकेट और पब्लिक प्रॉविडेंट फंड पर ब्याज दर घटाने का फैसला किया है.

इसके फैसले के मुताबिक

  • नई ब्याज दरें पहली अप्रैल से लागू होंगी.
  • अब ब्याज दरों में समीक्षा सालाना आधार के बजाए हर तीन महीने पर होगी.
  • समीक्षा के लिए सरकारी बांड पर मिलने वाले ब्याज दर को आधार बनाया जाएगा.
  • ताजा फैसले से पोस्ट ऑफिस की 1 से 5 साल के टर्म डिपॉजिट, 5 और 10 साल के एनएससी, 100 महीने वाले किसान विकास पत्र और 15 साल वाले पब्लिक प्रॉविडेंट फंड पर ब्याज दर में कमी हो जाएगी.
  • हालांकि सुकन्या समृर्द्धि योजना और सीनियर सीटिजंस सेविंग्स स्कीम पर ब्याज दर में किसी तरह की कमी नहीं करने का फैसला किया गया है.

फिलहाल, ब्याज दरों में कितनी कमी होगी, उस बारे में औपचारिक ऐलान 1-2 दिनों में होगा. अभी अलग अलग छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज की दर 8.4 से 9.3 फीसदी के बीच है, जबकि बैंकों की मियादी जमा योजनाओं में 7.5 से 8 फीसदी की दर से ब्याज मिलता है.

बैंकों का कहना था कि उन्हें पैसा जुटाने में दिक्कत हो रही है और वो रिजर्व बैंक की ओर से नीतिगत ब्याज दर में साल भर के भीतर की गयी सवा फीसदी की कटौती का पूरा-पूरा फायदा कर्ज पर नहीं दे पा रहे. बैंक और रिजर्व बैंक दोनों ही चाहते थे कि सरकार छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज घटाए. अब सरकार उम्मीद कर रह है कि बैंक जल्द ही कर्ज पर ब्याज दरों में और कमी करेंगे जिससे आम लोगों की ईएमआई कम हो सके.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Govt to lower interest rate on small saving schemes
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017