खराब मौसम के चलते जीसैट 16 का प्रक्षेपण एक बार फिर टला

By: | Last Updated: Saturday, 6 December 2014 4:16 AM
GSAT 16 launch deferred for second time due to bad weather

बेंगलूर: भारत के नवीनतम संचार उपग्रह (कम्युनिकेशन सेटेलाइट) जी सैट-16 का कल सुबह फ्रेंच गुयाना के कौरू से होने वाला प्रक्षेपण खराब मौसम के चलते दूसरी बार टाल दिया गया है. नये कार्यक्रम के तहत इसे कल तड़के एरियन-5 रॉकेट के जरिए किया जाने वाला था.

 

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान विकास संगठन (इसरो) ने पहली बार प्रक्षेपण टाले जाने के बाद घोषणा की थी कि शनिवार को तड़के दो बजकर नौ मिनट पर प्रक्षेपण होगा लेकिन कुछ घंटों के अंदर कौरू में मौसम खराब होने का हवाला देते हुए इसे फिर से टाल दिया गया.

 

इसरो ने अपनी वेबसाइट पर कहा है, ‘‘छह दिसंबर को तड़के दो बजकर नौ मिनट पर जीसैट-16 के प्रक्षेपण का नया कार्यक्रम फ्रेंच गुयाना में मौसम खराब होने के चलते टाल दिया गया है.’’

 

इससे पहले, इसरो ने बृहस्पतिवार रात घोषणा की थी कि खराब मौसम के चलते इसके प्रक्षेपण को टाल दिया है. जीसैट-16 को शुक्रवार को तड़के दो बजकर आठ मिनट पर एरियन-5 वीए 221 रॉकेट से प्रक्षेपित किया जाना था.

 

इसे संचार सेवाओं में राष्ट्रीय अंतरिक्ष क्षमता को मजबूत बनाने के लिए डिजाइन किया गया है. इस दोहरे उपग्रह मिशन जीसैट-16 और डायरेक्ट 14 को प्रक्षेपित किया जाना था.

 

प्रक्षेपण के समय का इसका भार 3,181 किलोग्राम है. यह कुल 48 संचार ट्रांसपोर्डर से लैस होगा. इसरो द्वारा अब तक विकसित किसी उपग्रह द्वारा ले जाए गए ट्रांसपोर्डरों की यह सर्वाधिक संख्या है.

 

यह उपग्रह सरकारी और निजी टीवी और रेडियो सेवाओं, बड़े पैमाने पर इंटरनेट और टेलीफोन ऑपरेशन को मजबूत करेगा. यह उपग्रह इनसैट-3 ई का स्थान लेगा.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: GSAT 16 launch deferred for second time due to bad weather
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: bad weather deferred GSAT 16 launch
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017