जीएसटी के लिए सभी 5 कानून के मसौदे को मंजूरी, सेस की ऊपरी सीमा 15 फीसदी तय

जीएसटी के लिए सभी 5 कानून के मसौदे को मंजूरी, सेस की ऊपरी सीमा 15 फीसदी तय

नई दिल्ली: वस्तु व सेवा कर यानी जीएसटी लागू होने के बाद विलासिता के सामाना के साथ मिनरल वाटर, कोल्ड ड्रिंक और मोटर कार पर सेस की ऊपरी दर 15 फीसदी होगी. हालांकि अभी ये तय नहीं कि किस सामान पर वास्तव में कुल कितना कर लगेगा. इस बारे में अंतिम फैसला जीएसटी काउंसिल करेगी. सेस टैक्स के ऊपर लगाया जाता है.

इस बीच पहली जुलाई से जीएसटी लागू होने का रास्ता लगभग साफ हो गया है. वित्त मंत्री अरुण जेटली की अध्यक्षता में हुई काउंसिल की बैठक में नयी कर व्यवस्था लागू करने के लिए बचे दो कानून के मसौदे को मंजूरी दे दी गयी. इस तरह सेंट्रल गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स यानी सीजीएसटी, स्टेट गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स यानी एसजीएसटी, यूनियन टेरीटरी गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स यानी यूटी जीएसटी, इंटिग्रेटेड गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स यानी एसजीएसटी और मुआवजे से जुड़े कानून के मसौदे को मंजूरी दी जा चुकी है.

इनमें से चार से जुड़े विधेयक, सीजीएसटी, आईजीएसटी, मुआवजा और यूटीजीएसटी को संसद के मौजूदा सत्र में पेश करने की कोशिश है, वहीं एसजीएसटी से जुड़े विधेयक को 29 राज्यों के साध दिल्ली और पुड्डुचेरी के विधानसभाओं में मंजूरी दिलायी जाएगी.

काउंसिल की बैठक में ये तय हुआ कि

  • पान मसाले पर मूल कीमत के 135 फीसदी के बराबर तक सेस लगाया जा सकता है. यदि पान मसाले पर 28% जीएसटी की दर तय होती है तो टैक्स के बाद कुल 28+135 यानी 163% की दर से टैक्स और सेस लगेगा.
  • वहीं तंबाकू और तंबाकू से से बने उत्पादों जैसे सिगरेट पर 4170 रुपये प्रति हजार या फिर मूल कीमत के 290 फीसदी के बराबर तक सेस लगाने का प्रस्ताव है.
  • मिनरल वाटर, एरिटेडेट वाटर और फ्लैवर्ड वाटर पर सेस की दर मूल कीमत के 15 फीसदी के बराबर तक होगी. यदि जीएसटी की दर 28% तय होती है तो सेस मिलाकर ये दर 43% तक जा सकती है.
  • मोटर कार और दूसरे कार पर भी सेस की ऊपरी दर 15 फीसदी रखे जाने का प्रस्ताव है. यदि जीएसटी की दर 28% तय होती है तो सेस मिलाकर ये दर 43% तक जा सकती है.
  • कोयले पर 400 रुपये प्रति टन के हिसाब से पर्यावरण सेस लगाने का प्रस्ताव है.

वित्त मंत्रालय के अधिकारियों ने साफ किया कि ये सभी सेस की ऊपरी दरें हैं, अंतिम दर इससे कम भी हो सकती है. लेकिन कोशिश यही है कि अभी लग्जरी सामान के साथ पान मसाला, सिगरेट, मिनरल वाटर, कोल्ड ड्रिंक और कार वगैरह पर जितना कर अभी लगता है, जीएसटी लागू होने के बाद भी उतना ही कर लगे.

ध्यान रहे कि जीएसटी के तहत विभिन्न सामान और सेवाओं पर 5, 12, 15 और 28 फीसदी की दर से कर लगाने का प्रस्ताव है. विलासिता के सामान के साथ मिनरल वाटर, कोल्ड ड्रिंक और मोटर कार पर जीएसटी की चार दर के ऊपर सेस लगाया जाएगा. अब 31 मार्च के बाद तय होगा कि किस सामान पर कितना-कितना जीएसटी लगेगा.

काउंसिल की बैठक के फैसलों का ऐलान करते हुए वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि नियमों के नौ समूह में पांच को पहले ही मंजूरी मिल चुकी है. इन पांच में पंजीकरण, टैक्स के भुगतान, रिफंड, इनवॉयस और रिटर्न से जुड़े नियम शामिल हैं. वहीं कंपोजिशन, वैल्यूशन और इनपुट टैक्स क्रेडिट के साथ ट्रांजिशन से जुड़े नियमो पर 31 मार्च को होने वाली काउंसिल की अगली बैठक में चर्चा होगी.

Tags: GST,
First Published:

Related Stories

हिंदुस्तान पेट्रोलियम को रिकॉर्ड मुनाफा, हर दो शेयर पर मिलेगा एक बोनस शेयर
हिंदुस्तान पेट्रोलियम को रिकॉर्ड मुनाफा, हर दो शेयर पर मिलेगा एक बोनस शेयर

नई दिल्ली: इंडियन ऑयल के बाद अब हिंदुस्तान पेट्रोलियम ने अब तक का सबसे ज्यादा मुनाफा कमाने का...

शेयर बाजार में बहार: पहली बार सेंसेक्स 31,000 के पार, निफ्टी 9600 के करीब
शेयर बाजार में बहार: पहली बार सेंसेक्स 31,000 के पार, निफ्टी 9600 के करीब

मुंबई: मोदी सरकार के तीन साल पूरे होने पर शुक्रवार को बंबई शेयर बाजार में बहार देखने को मिला....

जीएसटी लागू होने पर सुबह की चाय-कॉफी का जायका और होगा बेहतर
जीएसटी लागू होने पर सुबह की चाय-कॉफी का जायका और होगा बेहतर

नई दिल्ली: जीएसटी लागू होने के बाद दिन की शुरुआत बेहतर होगी. कम से कम वित्त मंत्रालय के ताजा बयान...

GST से इंडियन ऑयल को नुकसान की आशंका, 2016-17 में 19 हजार करोड़ से ज्यादा का मुनाफा
GST से इंडियन ऑयल को नुकसान की आशंका, 2016-17 में 19 हजार करोड़ से ज्यादा का मुनाफा

नई दिल्ली: सरकारी तेल कंपनी इंडियन ऑयल ने कहा है कि वस्तु व सेवा कर यानी जीएसटी लागू होने से उसे...

400 बेनामी लेन-देन उजागर, 600 करोड़ की संपत्ति जब्त
400 बेनामी लेन-देन उजागर, 600 करोड़ की संपत्ति जब्त

 नई दिल्लीः काले धन के खिलाफ कार्रवाई की कड़ी में आयकर विभाग ने 400 से भी ज्यादा बेनामी लेन-दन का...

GST के फायदे जानते हैं आप? इन वस्तुओं-सर्विसेज पर घटेगा टैक्स, होंगी सस्ती
GST के फायदे जानते हैं आप? इन वस्तुओं-सर्विसेज पर घटेगा टैक्स, होंगी सस्ती

नई दिल्लीः 1 जुलाई से देश में जीएसटी लागू होने वाला है और पूरे देश में एक टैक्स व्यवस्था हो...

IT सेक्टर में रोजगार पर ग्रहण नहीं: 2016-17 में 1.7 लाख नई नौकरियां
IT सेक्टर में रोजगार पर ग्रहण नहीं: 2016-17 में 1.7 लाख नई नौकरियां

नई दिल्लीः सरकार ने आज दावा किया कि सूचना तकनीक यानी आईटी के क्षेत्र में 3 सालों के दौरान 6 लाख नई...

पाक चौकी पर हमले की खबर से गिरा बाजारः आखिरी मिनटों में सेंसेक्स 200 अंक टूटा
पाक चौकी पर हमले की खबर से गिरा बाजारः आखिरी मिनटों में सेंसेक्स 200 अंक टूटा

नई दिल्लीः आज सुबह से भारतीय बाजार में तेजी का माहौल था लेकिन दोपहर 3 बजे के करीब भारतीय सेना के...

पूजन सामग्री पर GST नहीं: स्मार्टफोन भी नहीं होंगे महंगे
पूजन सामग्री पर GST नहीं: स्मार्टफोन भी नहीं होंगे महंगे

नई दिल्लीः सरकार ने साफ किया कि जीएसटी लागू होने के बाद हवन सामग्री समेत पूजन सामग्री पर जीएसटी...

अप्रैल में मारुति SWIFT रही सबसे ज्यादा बिकने वाली हैचबैक कार, ALTO को पीछे छोड़ा
अप्रैल में मारुति SWIFT रही सबसे ज्यादा बिकने वाली हैचबैक कार, ALTO को पीछे छोड़ा

नई दिल्ली: मारुति सुजुकी देश की सबसे ज्यादा बिकने वाली कारों की मैन्यूफैक्चर्र कंपनी है और कार...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017