Gujarat Assembly Election 2017: PM Modi on Ram Temple issue, attacks on congress राम मंदिर को लेकर पीएम मोदी का कांग्रेस पर हमला, पूछा- ‘2019 में वक्फ बोर्ड चुनाव लड़ेगा या कांग्रेस’

राम मंदिर को लेकर पीएम मोदी का कांग्रेस पर हमला, पूछा- ‘2019 में वक्फ बोर्ड चुनाव लड़ेगा या कांग्रेस’

कपिल सिब्बल समेत तीन वकीलों ने कल सुप्रीम कोर्ट में मामले की सुनवाई जुलाई साल 2019 के बाद करने की मांग की है. कपिल सिब्बल की इसी मांग पर बीजेपी ने हमला बोला है.

By: | Updated: 06 Dec 2017 01:30 PM
Gujarat Assembly Election 2017: PM Modi on Ram Temple issue, attacks on congress
अहमदाबाद: गुजरात में चुनावी सरगर्मियों के बीच राम मंदिर का मुद्दा गरमा गया है. आज अहमदाबाद में धुंधाआ में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राम मंदिर मामले को लेकर कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा. पीएम मोदी ने कांग्रेस से पूछा है कि साल क्या 2019 में सुन्नी वक्फ बोर्ड चुनाव लड़ेगा या कांग्रेस?

क्या आप चुनाव के लिए राम मंदिर को लटकाना चाहते हो?- पीएम मोदी

रैली में पीएम मोदी ने कहा, ‘’कांग्रेस के सांसद कपिल सिब्बल सुप्रीम कोर्ट में मुस्लिम समाज का पक्ष रख रहे हैं. ये उनका हक है, मुझे इसपर कोई शिकायत नहीं है. वह बाबरी मस्जिद बचाने के लिए वकालत कर रहे हैं, मुझे कोई समस्या नहीं है.’’ उन्होंने आगे कहा, ‘’आप दलील रख सकते हैं लेकिन सुप्रीम कोर्ट में ये कहने की हिम्मत कर रहे हो कि साल 2019 के चुनाव तक सुनवाई टाल दी जाए, क्या आप (कांग्रेस) चुनाव के लिए राम मंदिर को लटकाना चाहते हो?’’

चुनाव सुन्नी वक्फ बोर्ड लड़ेगा या कांग्रेस पार्टी लड़ेगी- पीएम मोदी

पीएम मोदी ने आगे कहा, ‘’कांग्रेस ने इसी तरह देश की दुर्दशा की है, मुझे अब समझ में आया.’’ उन्होंने कहा, ‘’कांग्रेस कह रही है कि कपिल सिब्बल ने कोर्ट में जो कहा वो उनकी निजी राय है. आप ये बताइए कि चुनाव सुन्नी वक्फ बोर्ड लड़ेगा या कांग्रेस पार्टी लड़ेगी. राम मंदिर का फैसला सुप्रीम कोर्ट करेगा और आप राजनीतिक नफा नुकसान में लगे हो.’’

क्या है पूरा मामला?

दरअसल अयोध्या विवाद को लेकर कल सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री कपिल सिब्बल ने कल सुन्नी वक्फ बोर्ड की तरफ से सुप्रीम कोर्ट में पक्ष रखा. कपिल सिब्बल समेत तीन वकीलों ने कल सुप्रीम कोर्ट में मामले की सुनवाई जुलाई साल 2019 के बाद करने की मांग की है. कपिल सिब्बल की इसी मांग पर बीजेपी ने हमला बोला है और राहुल गांधी से राम मंदिर पर अपना स्टैंड साफ करने की अपील की है.

विवादित जमीन पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई

अयोध्या केस में सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई का कल पहला दिन था. सुप्रीम कोर्ट को तय करना है कि अयोध्या में विवादित जमीन किसकी है? रामलला विराजमान की, निर्मोही अखाड़ा की या फिर सुन्नी वक्फ बोर्ड की? सुप्रीम कोर्ट में अब इस मामले की अगली सुनवाई आठ फरवरी को होगी. राम मंदिर का मुद्दा बरसों से चुनावों में खूब उछलता रहा है, इस बार भी गुजरात चुनाव से ऐन पहले मंदिर पर संग्राम छिड़ गया है.

यह भी पढ़ें-

अयोध्या विवाद: BJP प्रवक्ता नरसिम्हा राव ने राहुल को बताया ‘बाबर भक्त’ और ‘खिलजी के रिश्तेदार’

बाबरी विध्वंस विशेष: चार घंटे के अंदर पूरी मस्जिद का नामोनिशान मिटा दिया गया

ABP न्यूज़ पर बाबरी विध्वंस की पूरी कहानी, पढ़ें 10 चश्मदीदों की जुबानी

राम मंदिर विवाद: जानें- छह दिसंबर 1992 को अयोध्या में क्या हुआ था?

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: Gujarat Assembly Election 2017: PM Modi on Ram Temple issue, attacks on congress
Read all latest Gujarat Assembly Election 2017 News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story आज से शुरू होगा संसद का शीतकालीन सत्र, इसमें हुई देरी समेत कई मुद्दों पर इसके हंगामेदार रहने के आसार