गुजरात चुनाव: सास-बहू का झगड़ा खत्म, 35 साल की सास ने 50 साल की बहू को दिया आशीर्वाद | Gujarat Assembly Elections: Saas Bahu fight for Kalol Assembly seat, Hindi News

गुजरात चुनाव: सास-बहू का झगड़ा खत्म, 35 साल की सास ने 50 साल की बहू को दिया आशीर्वाद

दरअसल बीजेपी ने पंचमहल ज़िले की कालोल सीट से बीजेपी ने सांसद प्रभात चौहान की बहू सुमन चौहान को टिकट दिया था जिसके विरोध में उनकी सास रंगेश्वरी देवी ने बिगुल बजा दिया. रंगेश्वरी देवी प्रभात चौहान की चौथी पत्नी है जबकि सुमन चौहान सांसद की पहली पत्नी रूपारी बेन के बेटे की पत्नी हैं.

By: | Updated: 27 Nov 2017 07:08 PM
Gujarat Assembly Elections: Saas Bahu fight for Kalol Assembly seat, Hindi News

नई दिल्ली: गुजरात की पंचमहल जिले की कालोल सीट पर चल रहा पारिवारिक ड्रामा खत्म हो गया है. सोमवार को बीजेपी से सांसद प्रभात चौहान ने अपनी पत्नी रंगेश्वरी देवी के साथ अपनी बहू सुमन चौहान के साथ मंच साझा किया और दोनों पति- पत्नी ने बहू को आशीर्वाद भी दिया. मंच पर केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर भी दिखे. सभी ने मिलकर बीजेपी को जिताने का आह्वान किया. सियासी संदेश देने के लिए बेशक सास बहू का झगड़ा खत्म हो गया हो लेकिन मंच पर सास बहू में दूरियां भी दिखीं. गुलाबी सूट में चश्मा लगाए बैठी 35 साल की सास रंगेश्वरी देवी और 50 साल की बहू बीजेपी प्रत्याशी सुमन चौहान दोनों अलग सोफे पर बैठी नज़र आईं.


जनसभा के बाद पूरा परिवार नामांकन दाखिल करवाने निकले. सांसद महोदय खुली जिप्सी में सवार होकर बड़े काफिले के साथ अपनी बहू सुमन चौहान का नामांकन दाखिल कराने उनके साथ पंहुचे. जिप्सी पर सांसद प्रभात चौहान, बीजेपी से प्रत्याशी और उनकी बहू सुमन चौहान, सुमन के पति प्रवीण चौहान आगे की तरफ नज़र आ रहे थे. लेकिन सुमन की सास रंगेश्वरी देवी जिप्सी में पीछे खड़ी दिखीं. तल्खियां नामांकन करते वक़्त भी दिखा. प्रभात चौहान और शुरू में तो साथ-साथ दिखे लेकिन बाद में नामांकन रूम में ही कुछ देर के लिए अपनी पत्नी रंगेश्वरी के साथ पीछे बैठ गए. हालांकि नामांकन दाखिल करने के बाद पूरा परिवार एबीपी न्यूज़ पर साथ आया.


Kolal


एबीपी न्यूज़ ने पूरे परिवार से बात की. बातचीत में सांसद प्रभात चौहान ने कहा कि पूरा परिवार एकजुट है और डेढ़ लाख वोटों से जीत दर्ज करेंगे. इसी तरह बहू सुमन के साथ खड़ी सास रंगेश्वरी ने भी कहा वो सब एकजुट हैं और जीत दर्ज करेंगे. इस तरह पूरे परिवार ने जीत का दंभ भरा.


दरअसल बीजेपी ने पंचमहल ज़िले की कालोल सीट से बीजेपी ने सांसद प्रभात चौहान की बहू सुमन चौहान को टिकट दिया था जिसके विरोध में उनकी सास रंगेश्वरी देवी ने बिगुल बजा दिया. रंगेश्वरी देवी प्रभात चौहान की चौथी पत्नी है जबकि सुमन चौहान सांसद की पहली पत्नी रूपारी बेन के बेटे की पत्नी हैं. रंगेश्वरी ने सुमन के खिलाफ प्रचार करने की धमकी भी दी थी. उनके साथ उनके पति सांसद प्रभात चौहान ने भी अपने बेटे की शिकायत पार्टी आलाकमान को चिट्ठी लिखकर कर दिया था. खैर अब सब सुलझ गया और परिवार एक जुट होकर चुनाव लड़ रहा है. अब पूरे परिवार के साथ होने का दावा किया किया जा रहा है.


सांसद प्रभात चौहान के निजी और सियासी जीवन पर एक नज़र


78 साल के प्रभात चौहान पंचमहल से दूसरी बार सांसद बने हैं. सांसद महोदय ने चार शादियां की हैं. पहली पत्नी रूपारी देवी से चार बेटे और दो बेटियां हैं. रूपारी बेन से बेटे प्रवीन चौहान की पत्नी सुमन चौहान कालोल से बीजेपी के टिकट से मैदान में हैं, जिन्हें लेकर विवाद था. दूसरी पत्नी रमीला बेन जो कालोल के पास ही मेहलोल में रहती हैं. रमीला बेन को एक बेटा और एक बेटी है. तीसरी पत्नी लीला बेन हैं. लीला बेन से एक बेटी है और गांधीनगर में रहती हैं. चौथी पत्नी हैं रंगेश्वरी देवी इनसे नौ साल का बेटा है जो गांधीनगर में चौथी क्लास में पढ़ता है. बताया जाता है कि 2009 में रंगेश्वरी से शादी और एक बेटा होने की बात सामने आई. तब इस बेटे की उम्र एक साल थी. रंगेश्वरी घोगम्बा तालुका से पंचायत प्रमुख हैं.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: Gujarat Assembly Elections: Saas Bahu fight for Kalol Assembly seat, Hindi News
Read all latest Gujarat Assembly Election 2017 News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story होटलों की तरह टिकट बुकिंग पर छूट पर विचार, फ्लेक्सी किराए में होगा सुधार: रेल मंत्री