गुजरात: CM आनंदी बेन की कुर्सी खतरे में!

By: | Last Updated: Monday, 8 February 2016 8:43 AM
GUJARAT CM ANANDI BEN PATEL IN TROUBLE

नई दिल्लीः गुजरात सीएम आनंदीबेन पर संकट के बदल मंडराने लगे है, नगर निकाय चुनाव में हार के बाद अनार पटेल को ज़मीन आवंटन का मामला तूल पकड़ने लगा है, कांग्रेस ने इस मामले पर आनंदी बेन का इस्तीफा माँगा था.

सूत्रों के मुताबिक आनंदी बेन को मुख्यमंत्री से हटाने पर पार्टी के भीतर विचार शुरू हो सकता है. पार्टी में सोच बन रही है कि ज़मीन आवंटन मामले में निति के मुताबिक फैसले के बाद भी अगर आनन्दी बेन को मुख्यमंत्री बनाये रखा गया गया तो पार्टी और सरकार को नुक्सान होगा. जाहिर है पार्टी के भीतर अन्नादि बेन को हटाने पर विचार शुरू हो गया है.

सूत्रो का कहना है कि आनंदी बेन की बेटी को जिस नियम के तहत ज़मीन दी गयी है उस नियम के तहत कई और ट्रस्ट और कंपनी को ज़मीन मुहैया कराई गयी है ऐसे में अनार पटेल मामले में कुछ भी गलत नहीं हुआ है.

अनार पटेल मामले से उपजे राजनितिक माहौल की टोह लेने के लिए सह संगठन मंत्री वी सतीश को किसी बड़े नेता को गुजरात भेजने के लिए कहा गया है, वी सतीश संगठन देश के पश्चिम क्षेत्र का प्रभार देख रहे और उनके प्रभार वाले क्षेत्र में गुजरात भी शामिल है.

सूत्रो के मुताबिक ओम माथुर को अगले कुछ दिनों में विस्तृत कर्यक्रम बना कर गुजरात का दौरा करने भेजा जा सकता है उनके साथ पार्टी के एक राष्ट्रीय पदाधिकारी भी गुजरात का दौरा करेगे. हलाकि सूत्रो कंहना है की अभी ये फैसला नहीं हुआ है की आनन्दी बेन को मुख्यमंत्री पद से हटाया ही जायेगा लेकिन विकल्प पर विचार शुरू हो सकता है, पहले विकल्प तय होगा तब ये विचार होगा की आनंदी बेन को कब मुख्यमंत्री की कुर्सी से हटाया जाए. हलाकि सूत्रो का ये भी कहना है कि आनंदी बेन की राजनितिक बली नहीं दी जायेगी और अगर उनको हटाने के फैसला होता है तो राज्यपाल बना कर भी किसी दूसरे राज्य में भेजा जा सकता है.

सूत्रो के मुताबिक अभी स्पष्ट तौर पर नहीं कहा जा सकता की कौन गुजरात में अन्नादि बेन का विकल्प होगा क्योंकि अभी ये फैसला होना बाकी है कि अन्नादि बेन को हटाया जायेगा या नहीं. सूत्रो का मानना है की पिछले 15 सालो में बीजेपी पहली बार निकाय चुनावो में 119 से घट कर 72 सीटो पर आ गयी है ये बीजेपी का अभी तक का सबसे बुरा प्रदर्शन है और अनार पटेल के मामले में भले ही कुछ भी नियमो के विरोद्ध नहीं हुआ है फिर भी परसेप्शन की राजनीती में ऐसे आरोपो का फायदा विपक्ष को मिल सकता है, ऐसे किसी नुक्सान को धयान में रखते हुए पार्टी के एक बड़े नेता ने कहा कि “आनंदी बेन को बनाये रखना पार्टी और सरकार के लिए नुकसान दायक होगा.”

पिछले निकाय चुनाव के समय से गुजरात में पार्टी के शीर्ष स्तर पर गुजरात में बीजेपी के गिरते प्रदर्शन को धयान में रखते हुए बड़े नेता को ज़िम्मेदारी देने की बात होती रही लेकिन नए अध्यक्ष के चुनाव और संगठन में सह संगठन मंत्री वी सतीश की व्यस्तता के चलते किसी बड़े नेता के द्वारा हार का विश्लेषण की प्रक्रिया टलती रही. अमित शाह के घर पर मुख्यमंत्री आनंदीबेन को भले ही नये प्रदेश अध्यक्ष की नियुक्ति के लिए बुलाया गया हो लेकिन सूत्र बताते हैं अनार पटेल को भूमि आवण्टन से उपजी नयी राजनैतिक परिस्थितियों पर भी चर्चा हुई. बीजेपी आनंदी बेन पर क्या फैसला लेगी ये कुछ दिनों में साफ़ जायेगा लेकिन ये महत्वपूर्ण है की पार्टी के भीतर शीर्ष स्तर पर ये मानने लगे है कि आनंदी बेन को मुख्यमंत्री बनाये रखना नुकसान पहुँचा सकता है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: GUJARAT CM ANANDI BEN PATEL IN TROUBLE
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Anandi Ben Patel Gujrat
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017