पटेलों के बाद मछुआरों पर कांग्रेस की नजर, राहुल गांधी ने चला मछली मंत्रालय का दांव | Gujarat Polls: Rahul Gandhi reaches out to fishermen, promises fisheries ministry

पटेलों के बाद मछुआरों पर कांग्रेस की नजर, राहुल गांधी ने चला मछली मंत्रालय का दांव

चुनाव प्रचार के लिए दो दिन की गुजरात यात्रा पर आए राहुल गांधी ने दौरे के पहले दिन मछुआरा समुदाय को संबोधित करते हुए विश्वास जताया कि कांग्रेस राज्य में जीत हासिल करेगी, जहां वह पिछले 22 सालों से सत्ता से बाहर है.

By: | Updated: 24 Nov 2017 07:56 PM
Gujarat Polls: Rahul Gandhi reaches out to fishermen, promises fisheries ministry

नई दिल्ली: गुजरात चुनाव में कांग्रेस अपनी खोई हुई राजनीतिक छवि को दोबारा हासिल करने की हर संभव कोशिश कर रही है. राहुल गांधी लगातार गुजरात का दौरा कर रहे हैं. पटेलों को अपने साथ लाने के लिए कांग्रेस ने जहां एक तरफ आरक्षण का वादा किया तो अब गुजरात में मछुआरों के बीच पहुंचे राहुल गांधी ने मछली मंत्रालय का दांव चला है. शुक्रवार को राहुल गांधी ने मछुआरा समुदाय के लोगों से मुलाकात की और कहा कि अगर केंद्र में उनकी सरकार बनती है तो अलग से मत्स्य मंत्रालय बनाया जाएगा.


इसके साथ ही कांग्रेस उपाध्यक्ष ने मछुआरों को नौका के लिए डीजल की खरीद पर मिलने वाली सब्सिडी को समाप्त करने के लिए बीजेपी सरकार की आलोचना की. उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि गुजरात के मछुआरों को प्रदूषण के कारण अब मछली पकड़ने के लिए गहरे समुद्र में जाना पड़ता है. ये प्रदूषण 10-15 उद्योगपतियों ने फैलाया है जो कि ‘मोदी जी’ के दोस्त हैं.


चुनाव प्रचार के लिए दो दिन की गुजरात यात्रा पर आए राहुल गांधी ने दौरे के पहले दिन मछुआरा समुदाय को संबोधित करते हुए विश्वास जताया कि कांग्रेस राज्य में जीत हासिल करेगी, जहां वह पिछले 22 सालों से सत्ता से बाहर है. राहुल गांधी ने कहा, ‘‘ मछुआरों का काम किसानों की ही भांति होता है. कुछ समय पहले आप लोगों ने मांग की थी कि कृषि क्षेत्र के लिए मंत्रालय है तो मछुआरों के लिए क्यों नहीं? मैं आपसे सहमत हूं, और मैं आपसे वादा करता हूं कि केन्द्र में सरकार बनाने के बाद कांग्रेस इसका गठन करेगी. ’’ उन्होंने दावा किया कि नरेंद्र मोदी के मुख्यमंत्री रहते बीजेपी नीत राज्य सरकार ने नैनो कार परियोजना के लिए टाटा मोटर्स को 33,000 करोड़ रुपए दिए थे.


कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा, ‘‘जब कांग्रेस सत्ता में थी मछुआरों को डीजल खरीद में 25 प्रतिशत सब्सिडी मिलती थी. वह सब्सिडी जो महज 300 करोड़ रुपए सालाना थी, को यहां बीजेपी सरकार ने समाप्त कर दिया. ये किस तरह का जादू है? वे 33,000 करोड़ रुपए नैनो फैक्ट्री के लिए दे सकते हैं लेकिन आपको 300 करोड़ रुपए नहीं दे सकते? उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘मुझे पता चला है कि आपको मछलियां पकड़ने के लिए गहरे समुद्र में उतरना पड़ता है. क्यों? प्रदूषण के कारण. लेकिन ये फैलाया किसने? यकीनन मछुआरो ने नहीं. इसे 10-15 उद्योगपतियों ने फैलाया है जो कि मोदी जी के दोस्त हैं.....उन्होंने आपके सारे पैसे ले कर उन 10-15 लोगों को दे दिए हैं.’’


राहुल गांधी ने कहा कि मछुआरों के लिए कुछ भी ठोस करने की बजाए मोदी ने सारे बंदरगाह 'अपने कुछ उद्योगपति दोस्तों' को दे दिए हैं. उन्होंने पीएम मोदी के रोडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ का भी मखौल उड़ाया और कहा कि गुजरात में सत्ता में आने के बाद कांग्रेस सरकार के दरवाजे खोल दिए जाएंगे. उन्होंने कहा, ‘‘मुझे विश्वास है कि कांग्रेस ये चुनाव जीतेगी और उसके बाद मुख्यमंत्री कार्यालय और विधानसभा के दरवाजे आपके लिए खोल दिए जाएंगे ताकि आप हमें अपने ‘मन की बात’ बता सकें. अभी तक वो दरवाजे केवल अमीरों के लिए खुले थे और केवल उन्हीं की बात सुनी जाती थी. आपकी आवाज कभी सरकार तक नहीं पहुंची.’’ गुजरात में नौ और 14 दिसंबर में दो चरणों में मतदान होना है.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: Gujarat Polls: Rahul Gandhi reaches out to fishermen, promises fisheries ministry
Read all latest Gujarat Assembly Election 2017 News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story वड़ोदरा विधानसभा चुनाव रिजल्ट LIVE : शुरुआती रुझानों में बीजेपी को बढ़त