गुजरात : पंचायत का फरमान, छात्राओं के मोबाइल इस्तेमाल पर रोक

By: | Last Updated: Monday, 22 February 2016 2:14 PM
Gujarat village bans mobile phone for school girls

नई दिल्ली/अहमदाबाद : गुजरात के मेहसाणा जिले के एक गांव में नाबालिग लड़कियों के लिए मोबाइल फोन रखने या उसका इस्तेमाल करने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है. यह प्रतिबंध इस दावे के साथ लगाया गया है कि गैजेट इन लड़कियों का ध्यान पढ़ाई से भटकाते हैं. ऐसा न करने पर जुर्माने का प्रावधान भी किया गया है.

हाल ही में लगाया गया यह प्रतिबंध मेहसाणा की काडी तालूका स्थित सूरज गांव की पंचायत ने लागू किया है. नाबालिग लड़कियों को यदि मोबाइल पास रखते हुए या उसका इस्तेमाल करते हुए पाया गया तो उनपर 2100 रूपए का जुर्माना लगाया जाएगा. उन्हें अपने माता-पिता के मोबाइल फोनों का इस्तेमाल सिर्फ घर के भीतर ही करने की आजादी होगी.

गांव के सरपंच देवशी वांकर के अनुसार, यह फैसला पंचायत ने सर्वसम्मति से लिया है. क्योंकि, अधिकतर ग्रामीणों को लगता है कि मोबाइल फोन लड़कियों और उनके माता-पिता के लिए परेशानियां पैदा कर रहे हैं. गांव की पंचायत ने सेल फोनों को एक ऐसा जरिया भी माना, जिसका इस्तेमाल युवा प्रेमी-प्रेमिका घरों से भागने के लिए करते हैं.

वांकर ने कहा, ‘सभी ग्रामीण उन स्कूली लड़कियों के मोबाइल फोन के इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगाने के लिए सहमत हो गए हैं, जिनकी उम्र 18 साल से कम है. सभी समुदाय के लोग इस पर सहमत हुए हैं, फिर चाहे वे दलित हों, पटेल हों, ठाकुर हों या रबाड़ी. हमने इस नियम का उल्लंघन करने वालों पर 2100 रूपए का जुर्माना लगाया है.’

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Gujarat village bans mobile phone for school girls
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017