व्यापार की संभावनाएं देख चीनी भाषा सीख रहे हैं गुजराती

By: | Last Updated: Monday, 22 September 2014 8:21 AM
gujarati_learning_english

नई दिल्ली: चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग की हालिया गुजरात यात्रा के बाद चीन के साथ व्यापार बढ़ने की उम्मीदों के बीच अधिकतर गुजराती यहां विदेशी भाषा शिक्षण संस्थानों का रूख कर रहे हैं. इनमें भी अधिकतर पड़ोसी देश चीन के साथ व्यापार संभावनाएं तलाशने के लिए चीनी भाषा को अधिक महत्व दे रहे हैं.

 

चीनी राष्ट्रपति शी की तीन दिवसीय भारत यात्रा के दौरान उनके गुजरात दौरे के समय कई समझौतों पर हस्ताक्षर किए गए. इनमें राज्य में औद्योगिक पार्क स्थापित करने के समझौते के अलावा चीन की ग्वांगझू और गुजरात की मेगा सिटी अहमदाबाद के बीच समान आधार पर विकास किए जाने संबंधी करार भी शामिल था.

 

हालांकि गुजरात के लोग अब तक केवल ऐसे अवसर के इंतजार में नहीं बैठे थे और काफी पहले ही माओ त्से तुंग के समय से ही वे चीन में कारोबारी संभावनाओं का पता लगा रहे थे.

 

लेकिन शहर के चीनी भाषा के शिक्षकों और छात्रों के मुताबिक शी की यात्रा के बाद इस भाषा को सीखने के चलन में जबर्दस्त इजाफा हुआ है.

 

शहर में चीनी भाषा सिखाने वाली शिक्षिका लावण्या त्रिवेदी ने बताया, ‘‘गुजराती लोगों के बीच चीनी भाषा सीखने का चलन बढ़ा है. राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री और वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा उठाए गए कदमों के कारण चीन और गुजरात के बीच नए व्यापार संबंधों के शुरू होने के बाद पिछले दो सालों में इस चलन में तेजी से इजाफा हुआ है.’’ त्रिवेदी ने दावा कि चीनी भाषा सीखने वालों में व्यापारी, चिकित्सा क्षेत्र से जुड़े छात्र और इंटीरियर डिजाइनर प्रमुख हैं जो ‘पिपुल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना’ में खुद को स्थापित कर करना चाहते हैं.

 

त्रिवेदी ने बताया, ‘‘विदेशी भाषा का प्रशिक्षण देने वाले शहर के विभिन्न शिक्षण संस्थानों में चीनी भाषा मंदारिन सीखने वालों की संख्या 60 से ज्यादा है. हालिया चलन के मुताबिक व्यापारी, चिकित्सा क्षेत्र से जुड़े छात्र और इंटीरियर डिजाइनरों की संख्या ज्यादा है.’’ उन्होंने बताया कि गुजरात में चीनी इंटीरियर डिजाइनरों की काफी मांग है . यह एक कारण हो सकता है कि इंटीरियर डिजाइनर चीन के साथ कारोबार में काफी इच्छुक हैं.

 

त्रिवेदी ने कहा कि इसके अलावा चीन और गुजरात के बीच संबंधों में नया अध्याय जुड़ने से भी गुजराती कारोबारियों के बीच उम्मीद बढ़ी है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: gujarati_learning_english
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Chinese Gujarati
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017