प्रद्युम्न हत्याकांड में गिरफ्तार दो आरोपियों सहित पिंटो परिवार को मिली जमानत

प्रद्युम्न हत्याकांड में गिरफ्तार दो आरोपियों सहित पिंटो परिवार को मिली जमानत

8 सितंबर को गुरुग्राम के भोंडसी स्थित स्कूल परिसर में 7 साल के प्रद्युम्न की गला रेंतकर हत्या कर दी गई है. प्रद्युम्न हत्या मामले की जांच अब सीबीआई कर रही है.

By: | Updated: 07 Oct 2017 04:38 PM

नई दिल्ली: गुरुग्राम के रायन इंटरनेशनल स्कूल में प्रद्युमन की हत्या के बाद गिरफ्तारी का सामना कर रहे रायन इंटरनेशल ग्रुप के मालिकों को जमानत मिल गई है. कोर्ट ने ऑगस्टिन पिंटो, रेयान पिंटो, ग्रेस पिंटो को पांच दिसंबर तक के लिए राहत दे दी है. साथ ही मैनेजमेंट के अधिकारी जयश थॉमस और फ्रांसिस थॉमस को भी जमानत दे दी गई है.


प्रद्युम्न हत्या मामले में नया खुलासा, शुरुआती जांच में शारीरिक शोषण की बात आई सामने


हालांकि कोर्ट ने कहा है कि पिंटो परिवार देश छोड़कर नहीं जा सकता. कोर्ट ने यह भी कहा है कि इस केस को लेकर जब भी जरुरत पड़ेगी उनको जांच में सहयोग करना होगा.


 


बता दें कि जब इस केस ने तूल पकड़ा था तभी रायन इंटरनेशनल स्कूल के मालिकों में आगस्टीन पिंटो, ग्रेसी पिंटो और रायन पिंटो ने हाईकोर्ट का दरवाज़ा खटखटाया था. अब इन्हें 5 दिसंबर तक जमानत मिल गई है.


क्या है मामला?


8 सितंबर को गुरुग्राम के भोंडसी स्थित स्कूल परिसर में 7 साल के प्रद्युम्न की गला रेंतकर हत्या कर दी गई है. प्रद्युम्न हत्या मामले की जांच अब सीबीआई कर रही है. हत्या के दूसरे दिन इस मामले में पुलिस ने आरोपी बस कंडक्टर अशोक को गिरफ्तार किया था, लेकिन अब तक मामला सुलझ नहीं पाया है कि आखिर 7 साल के प्रद्युम्न की हत्या क्यों की गई, जबकि उसके पिता की किसी से दुश्मनी नहीं है.


इस पूरे मामले में स्कूल की लापरवाही सामने आई, इसी वजह से स्कूल के मालिकों पर गिरफ्तारी की तलवार लटक रही थी.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story पीएम मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार की नीतियों पर जनता ने फिर से लगाई मुहर: रघुवर दास