हिरासत में लेने के बाद छोड़े गए हार्दिक, समर्थकों ने की तोड़फोड़-आगजनी

By: | Last Updated: Tuesday, 25 August 2015 3:20 PM

अहमदाबाद : सूरत में हार्दिक पटेल के समर्थकों ने बस में आग लगाई गई. जूनागढ़ और मेहसाणा में भी पथराव की घटना हुई है. अहमदाबाद में दो बाइक भी फूंकी गई. हार्दिक पटेल के समर्थकों पर इस हिंसा का आरोप लग रहा है. निकोल पुलिस चौकी में भी तोड़फोड़ हुई है.

 

अहमदाबाद में पटेलों को आरक्षण की मांग को लेकर आंदोलन कर रहे नेता हार्दिक पटेल को हिरासत में लेने के बाद छोड़ दिया गया है. हार्दिक पटेल को अहमदाबाद के जीएमडीसी मैदान पर रैली के बाद बिना इजाजत धरना देने के आरोप में हिरासत में लिया गया था. पटेल समाज ने सिर्फ रैली करने की इजाजत मांगी थी. हार्दिक पटेल ही इस आंदोलन का नेतृत्व कर रहे हैं.

 

एबीपी न्यूज़ संवाददाता ब्रजेश कुमार सिंह का कहना है कि पुलिस एफआईआर दर्ज कर रही है और जल्द हार्दिक पटेल को बाजापता तौर पर गिरफ्तार किया जा सकता है.

 

पुलिस ने धरने की जगह जीएमडीसी मैदान को खाली करा लिया है.

 

पुलिस ने उन्हें बिना इजाजत धरने पर बैठने, सरकार अधिकारी के कामकाज में रुकावट डालने और गाली गलोज की भाषा इस्तेमाल करने के आरोप में हिरासत में लिया है.

 

आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गढ़ गुजरात में ही कमल को उखाड़ फेंकने की धमकी देने वाले 22 साल के हार्दिक पटेल ने आज अहमदाबाद में रैली की जिसमें पाटीदार समाज के लाखों लोग शरीक हुए.

 

पाटीदार समाज की मागं है कि उन्हें गुजरात के 27 फीसदी ओबीसी आरक्षण के कोटे में शामिल किया जाए, जबकि राज्य सरकार उनकी मांग को ठुकरा चुकी है.

 

गुजरात की सीएम आनंदी बेन पटेल का कहना है कि पटलों को आरक्षण नहीं दिया जा सकता. याद रहे हैं कि गुजरात में पाटीदार समाज आर्थिक रुप से संपन्न और राजनीतिक रूप से काफी मजबूत है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Hardik Patel has been detained
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: ??????? ???? OBC status patel community
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017