हरियाणा: EXIT POLL में मिली बीजेपी को बहुमत, लेकिन मुख्यमंत्री पद का कौन होगा दावेदार?

By: | Last Updated: Thursday, 16 October 2014 3:48 AM
haryana: who will be the cm

नई दिल्ली: एग्जिट पोल बीजेपी के लिए हरियाणा से भी अच्छी खबर लेकर आए हैं. एग्जिट पोल्स पर भरोसा करें तो हरियाणा में भी बीजेपी सरकार बना सकती है. लेकिन बीजेपी ने हरियाणा में भी मुख्यमंत्री को लेकर किसी तरह का एलान नहीं किया है.

 

असली तस्वीर तो 19 अक्टूबर को नतीजे आने के बाद ही साफ होगी लेकिन एग्जिट पोल के नतीजों के बाद बीजेपी हरियाणा में अपने मुख्यमंत्री के नाम पर चर्चा शुरू कर चुकी होगी. अभी सिर्फ 4 विधायकों वाली बीजेपी के हौसले यूं भी पहले से बुलंद नजर आ रहे थे.

 

मोदी लहर पर सवार होकर हरियाणा में अकेले चुनाव लड़ी बीजेपी के बहुमत का आंकड़ा पार करने का अनुमान है. अगर ऐसा होता है तो हरियाणा में पहली बार बीजेपी सरकार चलाएगी. लेकिन सरकार का मुखिया कौन होगा इसको लेकर तस्वीर साफ नहीं है.

 

हरियाणा बीजेपी में भी मुख्यमंत्री के कई दावेदार हैं. इन दावेदारों में कैप्टन अभिमन्यु, चौधरी बीरेंद्र सिंह, राव इंद्रजीत सिंह और रामबिलास शर्मा जैसे राज्य के दिग्गज नेताओं का नाम शामिल है. एक दौर था जब वर्तमान विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को मुख्यमंत्री पद का दावेदार घोषित करने की मांग उठी थी और बीजेपी के कई सांसद और नेता सुषमा के लिए वकालत करने लगे थे.

 

आज के हालात में मुख्यमंत्री के लिए हरियाणा में कैप्टन अभिमन्यु का दावा सबसे मजबूत माना जाता है. पार्टी अध्यक्ष अमित शाह उन्हें अपना बेहद करीबी मित्र बता चुके हैं. एक रैली के दौरान अमित शाह हरियाणा की कमान कैप्टन अभिमन्यु को सौंपने का संकेत भी दे चुके हैं.

पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता रह चुके कैप्टन अभिमन्यु की दिल्ली से नजदीकी भी उनके काम आ सकती है. लेकिन उनके लिए सबसे बड़ी चुनौती हैं मुख्यमंत्री बनने की हसरत पाले कांग्रेस से बीजेपी में शामिल हुए चौधरी बीरेंद्र सिंह. बीरेंद्र सिंह हरियाणा के बड़े जाट नेता माने जाते हैं और वो खुद भी मुख्यमंत्री बनने की इच्छा कई बार जाहिर कर चुके हैं.

 

चुनाव से ठीक पहले पार्टी बदलकर बीजेपी में आना और ढलती उम्र बीरेंद्र सिंह के लिए परेशानी खड़ी कर सकती है. वैसे भी बीरेंद्र सिंह इस बार खुद चुनाव नहीं लड़ रहे हैं उनकी पत्नी प्रेमलता चुनाव मैदान में हैं. बीरेंद्र सिंह अकेले ऐसे नेता नहीं हैं जो राजनीतिक महत्वाकांक्षा के चलते बीजेपी में शामिल हुए.

 

गुड़गांव से बीजेपी सांसद राव इंद्रजीत भी लोकसभा चुनाव से ठीक पहले कांग्रेस छोड़ बीजेपी में शामिल हो चुके हैं..राव इंद्रजीत सिंह के समर्थक उन्हें हरियाणा का मुख्यमंत्री बनाने की मुहिम चला रहे हैं. लेकिन राव इंद्रजीत को मोदी सरकार में योजना और रक्षा जैसे अहम मंत्रालय दिए जा चुके हैं..ऐसे में उन्हें केंद्र से हटाकर राज्य में भेजने की संभावना कम नजर आती है.

 

हरियाणा बीजेपी के मौजूदा अध्यक्ष रामबिलास शर्मा भी मुख्यमंत्री की रेस में हैं. रामबिलास शर्मा के प्रदेश अध्यक्ष रहते ही पार्टी ने लोकसभा की 8 में से 7 सीटें जीती थीं. रामबिलास शर्मा के साथ ही बीजेपी किसान मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओपी धनखड़ का नाम भी मुख्यमंत्री के दावेदार के तौर पर लिया जा रहा है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: haryana: who will be the cm
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017