HDFC Bank savings account minimum average monthly balance: Norms changed | एचडीएफसी बैंक अपने ‘क्लासिक कस्टमर्स’ के लिए कर रहा है ये नए बदलाव

एचडीएफसी बैंक अपने ‘क्लासिक कस्टमर्स’ के लिए कर रहा है ये नए बदलाव

नए नियम के मुताबिक एचडीएफसी बैंक के ‘क्लासिक कस्टमर्स’ को 1 लाख रुपये के न्यूनतम मासिक बैलेंस के साथ-साथ 5 लाख रुपये का फिक्सड डिपॉजिट अपने सेविंग्स एकाउंट्स के साथ रखना जरूरी कर दिया गया है

By: | Updated: 10 Nov 2017 05:03 PM
HDFC Bank savings account minimum average monthly balance: Norms changed
नई दिल्ली : अगर आप एचडीएफसी बैंक के कस्टमर हैं तो आपके लिए यह बेहद अहम खबर हो सकती है. एचडीएफसी बैंक ने अपने ‘क्लासिक कस्टमर्स’ के लिए महीने के मिनिमम बैलेंस की नई लिमिट तय कर दी है. बैंक द्वारा किए गए बदलाव 9 दिसंबर 2017 से लागू हो जाएंगे.
नए नियम के मुताबिक एचडीएफसी बैंक के ‘क्लासिक कस्टमर्स’ को 1 लाख रुपये के न्यूनतम मासिक बैलेंस के साथ-साथ 5 लाख रुपये का फिक्सड डिपॉजिट अपने सेविंग्स एकाउंट्स के साथ रखना जरूरी कर दिया गया है.

बैंक की तरफ से अपने ‘क्लासिक कस्टमर्स’ के लिए कई सुविधाएं देने की घोषणा भी की गई है. नए नियम के तहत क्लासिक कस्टमर्स को बैकिंग से संबंधित सलाह के लिए एक सलाहकार की सुबिधा भी प्रदान की जाएगी और ऑनलाइन ट्रांजेक्शन की कई सुबिधाएं भी मुफ्त होंगी.

इस तरह की कई अन्य सुबिधाएं भी ‘क्लासिक कस्टमर्स’ को बैंक की तरफ से मुहैया कराई जाएंगी जो कि ग्राहक के साथ-साथ उसके परिवार के सदस्यों को भी प्राप्त होंगी.

अभी कुछ दिनों पहले ही एचडीएफसी बैंक ने अपने ग्राहकों को बड़ा तोहफा देते हुए उस सुविधा को सस्ता कर दिया था जिस सुविधा के लिए अन्य बैंक आपसे पैसे ले रहे हैं.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कुछ दिन पहले ही एचडीएफसी बैंक ने अपने ग्राहकों में कैशलेस ट्रांजेक्शन को बढ़ावा देने के लिए ऑनलाइन ट्रांजेक्शन चार्ज हटा दिए हैं. अब ग्राहकों को इसके लिए NEFT और RTGS चार्ज नहीं देने होंगे.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: HDFC Bank savings account minimum average monthly balance: Norms changed
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story आज से शुरू होगा संसद का शीतकालीन सत्र, इसमें हुई देरी समेत कई मुद्दों पर इसके हंगामेदार रहने के आसार