हेमा ने कहा-मुझे इस पर शर्मिन्दगी नहीं है

By: | Last Updated: Thursday, 18 September 2014 2:52 PM

नई दिल्ली: अपने विवादित बयान के बाद भी हेमा मालिनी अभी भी उस बयान पर अड़ी हैं. बीजेपी सांसद हेमा ने कहा है कि उन्हें अपने बयान पर कोई शर्मिन्दगी नहीं है. लेकिन हेमा ने ट्वीट करके अपने बयान पर सफाई जरूर दी है.

 

अपने बयान पर सफाई देते हुए हेमा मालिनी ने ट्वीट किया, ‘मैं केवल इतना कहना चाहती हूं कि बच्चों को अपनी मां को ऐसे घर से नहीं निकालना चाहिए बल्कि उनकी पूरी देखभाल करनी चाहिए. बच्चों में इसको लेकर सजगता नहीं है.’ हेमा ने आगे लिखा है, ‘पश्चिम बंगाल, बिहार, ओडिशा से ऐसी विधवाओं की संख्या अधिक है, जो घर से निकाली गई हैं. मेरी यहां के लोगों से दरख्वास्त है कि विधवाओं के लिए और भी ज्यादा मानवीय रुख अपनाने के साथ-साथ उनका पूरा ख्याल भी रखें.’

 

हेमा मालिनी ने ट्वीट में लिखा, ‘कृपया मुझे बताएं कि ऐसा कहकर मैंने क्या गलती की कि बच्चों को अपने कर्तव्य का ख्याल रखना चाहिए. अपनी विधवा मां को ट्रेन में सामान की तरह चढ़ाकर उन्हें भूल नहीं जाना चाहिए.’ 

 

गौरतलब है कि धर्मनगरी वृंदावन में हेमा मालिनी ने कहा कि सभी राज्यों को अपने विधवाओं को वृंदावन भेजने के बजाए अपने प्रदेश में ही रखना चाहिए.

 

मथुरा से बीजेपी की सांसद हेमा ने कहा, हमें कोई ऐसा कारण नहीं दिखता कि बंगाल और बिहार की विधवाएं वृंदावन में रहें, क्योंकि उन राज्यों में भी विधवाओं के लिए बेहतर इंतजाम हैं.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Hema Malini clarifies her controversial ‘Vrindavan widows
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Hema Malini vrindavan widows
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017