हाई कोर्ट ने विकास बराला को परीक्षा में शामिल होने की दी अनुमति-High Court granted Vikas Barla to join the examination

छेड़छाड़ प्रकरण: विकास बराला को नहीं मिली जमानत, हाई कोर्ट ने एग्जाम देने की अनुमति दी

हरियाणा बीजेपी प्रमुख सुभाष बराला के पुत्र विकास बराला को पुलिस हिरासत में 18 दिसम्बर को एक परीक्षा में शामिल होने की अनुमति दे दी. विकास बराला पर 29 वर्षीय युवती का पीछा करने और उसका अपहरण के प्रयास का मामला दर्ज है.

By: | Updated: 08 Dec 2017 09:28 AM
High Court granted Vikas Barla to join the examination

चंडीगढ़: पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय ने गुरूवार को हरियाणा बीजेपी प्रमुख सुभाष बराला के बेटे विकास बराला को पुलिस हिरासत में 18 दिसम्बर को एक परीक्षा में शामिल होने की अनुमति दे दी. विकास बराला पर 29 वर्षीय युवती का पीछा करने और उसका अपहरण के प्रयास का मामला दर्ज है.


बुड़ैल कारागार में बंद विकास बराला कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी से कानून में ग्रेजुएशन की पढ़ाई कर रहा है. अदालत ने गुरूवार को उसे पुलिस हिरासत में 18 दिसंबर को परीक्षा में शामिल होने की अनुमति दे दी. विकास बराला के वकील ने अदालत से नियमित जमानत मांगी थी. जमानत याचिका में वकील ने कहा था कि उनका अभियुक्त पिछले करीब चार माह से कारागार में बंद है और उसे जमानत दी जानी चाहिए.


हालांकि न्यायाधीश लिजा गिल ने इस मामले की सुनवाई 20 दिसंबर तक के लिये स्थगित कर दी, लेकिन विकास बराला को परीक्षा में उपस्थित होने की अनुमति दे दी.


स्थानीय अदालत की ओर से चौथी बार जमानत आवेदन खारिज किये जाने के बाद विकास बराला ने पिछले माह उच्च अदालत में जमानत की याचिका दी थी. वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी की पुत्री से संबंधित मामले में विकास बराला और उसके दोस्त आशीष कुमार के खिलाफ आरोप तय किये गये हैं.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: High Court granted Vikas Barla to join the examination
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story कभी मटके में जाता था टीकाकरण का वैक्सीन