महज 2.5 रूपये रोज में भूकंप समेत सभी आपदाओं से बच जाएगा आपका घर

By: | Last Updated: Tuesday, 28 April 2015 2:43 PM
home insurance

नई दिल्ली: भूकंप या किसी अन्य आपदा में जान के नुक्सान की भरपाई तो नहीं हो सकती. लेकिन, टूटे हुए घरों को दोबारा ज़रूर खड़ा किया जा सकता है. सिर्फ 2.5 रुपये रोज़ाना के खर्च पर 20 लाख का इनश्योरेंस लिया जा सकता है जो भूकंप, बाढ़ और सभी प्रकार की आपदाओं से आपके आशियाने को इनश्योरेंस कवर देगा.

 

नेपाल में आये भयंकर भूकंप के बाद अब दिल्ली एनसीआर समेत देश भर में हाई राइज बिल्डिंगों में रहने वाले लोगों के मन में अपने घरों को लेकर चिंतित हैं. ऐसे में आप अपनी चिंता काफी हद तक कम कर सकते हैं. ज़रूरत है तो बस एक होम इनश्योरेंस पालिसी लेने की. और इसके लिए आपको कोई भारी भरकम रकम खर्च करने की भी ज़रूरत नहीं है. सिर्फ 900 रुपये सालाना के प्रीमियम पर यानी 2.5 रुपये रोज़ाना से भी कम पर, आप अपने मकान या फ्लैट का 20 लाख रुपये तक का इनश्योरेंस करवा सकते हैं. इतने कम प्रीमियम से आपका घर भूकंप, बाढ, तूफ़ान, सुनामी आदि सभी प्राकृतिक आपदाओं से सुरक्षित हो जाएगा.

 

होम इनश्योरेंस पालिसी आमतौर पर 3 प्रकार की होती हैं. पहली पालिसी होती है स्टैण्डर्ड पालिसी (standard fire and special peril policy). इस पालिसी में घर को आग, बिजली गिरना, एक्स्प्लोज़न, भूस्खलन और बाढ़ से insured किया जा सकता है. अगर 20 लाख की पालिसी ली है तो इसके लिए लगभग 600 से 700 रुपये सालाना का प्रीमियम देना होगा. वहीँ दूसरी पालिसी होती है comprehensive पालिसी. इस पालिसी में स्टैण्डर्ड पालिसी के अलावा अर्थक्वेक यानी भूकंप को भी जोड़ दिया जाता है. 20 लाख की पालिसी के लिए सालाना प्रीमियम लगभग 900 रुपये बैठता है. वहीँ, तीसरे तरह की पालिसी होती है पैकेज पालिसी. इस पालिसी में comprehensive पालिसी के साथ साथ आप ज्वेलरी, इलेक्ट्रॉनिक आइटम्स, ग्लास आदि का भी इनश्योरेंस करवा सकते हैं. जो भी अतिरिक्त कवर लेंगे उसके लिए उतना ही अतिरिक्त प्रीमियम देना होगा.

 

आमतौर पर ये भ्रांति है की होम इनश्योरेंस पालिसी घर की कीमत पर लेनी होती है. लेकिन ऐसा नहीं है. होम इनश्योरेंस कंस्ट्रक्शन कास्ट यानी घर बनाने की लागत पर दिया जाता है.

 

भारत में सालाना सभी प्रकार के इनश्योरेंस से लगभग 80 हज़ार करोड़ का प्रीमियम कंपनियां इकठ्ठा करती हैं. इसमें से 1 फीसदी से भी कम हिस्सेदारी है होम इनश्योरेंस प्रीमियम की. इस आंकड़े से पता चलता है की हमारे देश में बहुत कम लोग होम इनश्योरेंस करवाते हैं. ऐसे में लोगों को ज़रूरत है की अपने सपनों के आशियाने का इनश्योरेंस करवाएं.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: home insurance
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: ????? EARTH QUAKE home insurance
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017