राजनाथ सिंह का चीन को कड़ा संदेश: कोई भारत को चेतावनी नहीं दे सकता

By: | Last Updated: Thursday, 16 October 2014 3:31 PM

मानेसर: अरूणाचल प्रदेश में सीमा सड़क बनाने की सरकार की योजना पर चीन की ओर से कड़ी प्रतिक्रिया आने के एक दिन बाद गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने आज यह कहते हुए उसे कड़ा संदेश दिया कि कोई भी भारत को चेतावनी नहीं दे सकता.

 

उन्होंने यहां आतंकवाद निरोधक एनएसजी के स्थापना दिवस के कार्यक्रम के इतर संवाददाताओं से कहा, ‘‘आज, कोई भी भारत को चेतावनी नहीं दे सकता. भारत दुनिया में एक मजबूत देश के रूप में उभरा है. जहां तक भारत चीन सीमा मुद्दे की बात है तो मैं समझता हूं कि चीन को भारत के साथ मिल-बैठकर बात करनी चाहिए और इस मुद्दे का हल निकालना चाहिए. ’’ सिंह से चीन के बुनियादी ढांचा विकास की बराबरी करने के लिए अरूणाचल प्रदेश के तवांग में मागो-थिंग्बू से से चांगलांग में विजयनगर तक मैकमोहन रेखा के समीप सड़क बनाने की योजना पर उसकी (चीन की) कड़ी प्रतिक्रिया के बारे में पूछा गया था.

 

चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता होंग ली ने बीजिंग में कहा था, ‘‘चीन-भारत सीमा के पूर्वी हिस्से के बारे में विवाद है. अंतिम निस्तारण होने से पहले हम आशा करते हैं कि भारत ऐसी कोई कार्रवाई नहीं करेगा जिससे स्थिति और जटिल हो जाए. ’’ सरकार चीन-भारत सीमा के समीप खासकर अरूणाचल प्रदेश और जम्मू कश्मीर में बुनियादी ढांचे में सुधार के लिए कई कदम उठा रही है.

 

दोनों देशों के सीमा प्रहरी 11 सितंबर से करीब एक पखवाड़े तक लद्दाख के चुमार में एक दूसरे के सामने डटे रहे और चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग की तीन दिवसीय यात्रा इसीके साए में हुई .

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चीनी राष्ट्रपति के समक्ष दो बार यह मुद्दा उठाया. जब चीनी श्रमिक वास्तविक नियंत्रण रेखा पारकर भारतीय क्षेत्र में पांच किलोमीटर अंदर अपने उपकरण लेकर सड़क बनाने पहुंच गए तब तनाव पैदा हो गया था. दोनों सेनाओं के बीच कई दौर की बातचीत के बाद गतिरोध समाप्त हुआ.

 

गृहमंत्री ने चीन से लगती 3488 किलोमीटर लंबी सीमा की वर्तमान स्थिति और भविष्य में अतिक्रमण रोकने के लिए उठाए जा रहे कदमों की मंगलवार को समीक्षा की थी.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: home minister
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017