जानें कौन था सिडनी का हमलावर हारून मुनिस

By: | Last Updated: Tuesday, 16 December 2014 2:18 AM

नई दिल्ली: आस्ट्रेलिया के सिडनी के लिंट कैफे में बंधक बनाने वाले बंदूकधारी और आंतकी के बीच गोलीबारी के बाद अब ऑपरेशन खत्म हो गया है. लेकिन सबसे महत्वपूर्ण बात यह कि 16 घंटे तक सिडनी के कैफे में लोगों को बंधक बनाने वाला शख्स कौन हैं?

 

आपको बता दें कि कैफे में लोगों को बंधक बनाने वाले की पहचान हो गई है. यह शख्स ईरानी शरणार्थी है और इसका नाम हारुन मुनिस है. हारुन मुनिस 1996 में ऑस्ट्रेलिया आया था.

 

हारुन पर हत्या के साथ-साथ रेप का भी आरोप है. इसके साथ ही साथ हारुन मुनिस पूर्व पत्नी की हत्या की साजिश का आरोपी भी है. मुनिस पर 7 महिलाओं से रेप का भी आरोप है. मुनिस आईएसआईएस का आतंकी नहीं है. सिडनी के बंधको में एक भारतीय भी है.

 

सिडनी के कैफे में कोहराम मचाने वाले बंदूकधारी हारून मुनिस के पूर्व वकील ने 50 साल के इस शख्स के बारे में बताया कि इसे अलग थलग रहना पसंद था. हारून हमले की इस घटना को अकेले अंजाम देने आया था.

बंदूकधारी 1996 में शरणार्थी के तौर पर ऑस्ट्रेलिया आया था. वह अफगानिस्तान में जान गंवाने वाले ऑस्ट्रेलियाई सैनिकों के परिवारों को चिट्ठियां लिखकर चर्चा में आया था. ऑस्ट्रेलियाई सैनिकों को वह हत्यारा बताता था.

 

पुलिस ने आरोप लगाया है कि मोनिस स्वयंभू (स्व घोषित) ‘मुस्लिम तांत्रिक’ था और वेंटवर्थविल में स्टेशन स्ट्रीट परिसरों में सक्रिय रहता था. आरोप है कि वह स्थानीय अख़बारों में विज्ञापन देकर लोगों को ‘आध्यात्मिक सलाह’ देने की पेशकश करता था. उसपर 7 महिलाओं से रेप का भी आरोप है. वह आईएसआईएस का आतंकी नहीं है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Horis Monis: the man behind sydneysiege
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017