अमेरिका में बढ़ीं ब्याज दरें, भारत में बढ़ सकती है महंगाई

By: | Last Updated: Thursday, 17 December 2015 10:05 AM
How Feds Historic Rate Hike Will Impact India

नई दिल्ली/वाशिंगटन : अमेरिका के फेडरल रिजर्व ने ब्याज दरें बढ़ा दी हैं. इसका सीधा असर भारत पर पड़ने वाला है. भारत में महंगाई बढ़ सकती है. विशेषज्ञों का कहना है कि भारत जिन चीजों का आयात करता है, उनका मूल्य डॉलर में चुकाता है और वो सभी महंगी हो जाएंगी.

अमेरिका में ब्याज दरें बढ़ने से रुपये के मुकाबले डॉलर औऱ मजबूत होगा जिससे भारत में फेड रिजर्व का सीधा असर होगा. असर यह होगा कि भारत में डेढ़-दो साल बाद ब्याज दरें नीचे की तरफ आ रही हैं. लेकिन, फेड के फैसले के बाद ब्याज दरें बढ़ाने का दबाव रिजर्व बैंक पर पड़ेगा.

शेयर बाजार थोड़ी देर में खुलने वाला है, जहां फेड के फैसले का असर दिखेगा. वैसे जापान, हांगकांग, सिंगापुर समेत एशिया के सभी शेयर बाजार फेड के फैसले के बाद ऊपर चल रहे हैं. गौरतलब है कि अमेरिका में सात साल बाद ब्याज दरें बढ़ाई गई हैं.

अमेरिका के सेंट्रल बैंक, फेडरल रिजर्व ने ब्याज दरों को 0.25 फीसदी से बढ़ाकर 0.50 फीसदी करने का ऐलान किया है. फेडरल रिजर्व के इस फैसले को अमेरिकी अर्थव्यवस्था में मजबूती के संकेत के रूप में देखा जा रहा है. साल 2008 में वित्तीय संकट के बाद अमेरिका में ब्याज दरों में कटौती की थी.

अमेरिका में ब्याज दरें बढ़ने का असर भारत में भी दिखेगा. डॉलर के मजबूत होने से रुपए पर असर दिखेगा. वहीं विदेशी निवेश में भी कटौती की आशंका बन सकती है. कच्चे तेल और सोने के भाव पर भी इसका असर दिख सकता है. उसमें और गिरावट आ सकती है.

भारत की आईटी कंपनियों पर भी इसका बड़ा असर दिखेगा, क्योंकि उनकी कमाई का बड़ा हिस्सा अमेरिका से आता है.
रिजर्व बैंक के गवर्नर रघुराम राजन ने पिछले हफ्ते इसका अनुमान जताया था और कहा था कि वो इससे निपटने के लिए तैयार हैं.

Business News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: How Feds Historic Rate Hike Will Impact India
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017