हुदहुद तूफान से 6 की मौत, खौफ के साये में 10 घंटे

By: | Last Updated: Sunday, 12 October 2014 5:22 PM
hudhud_storm

नई दिल्ली: हुदहुद तूफान की वजह से आंध्र और ओडिशा में अबतक छह लोगों की मौत हो चुकी है. हुदहुद तूफान आज सुबह करीब साढ़े ग्यारह बजे विशाखापत्तनम पहुंचा था. लेकिन दोपहर बाद जब हुदहुद वहां से उत्तर पश्चिम की तरफ आगे बढ़ा तो उसकी रफ्तार कम पड़ गई.

 

आंध्र ओडिशा के कई इलाकों में तूफान की वजह से तेज बारिश हो रही है. समंदर के रास्ते से आया हुदहुद तूफान सबसे पहले सुबह करीब 11 बजे विशाखापट्टनम के तट से टकराया. उस समय 170 से 190 किमी प्रति घंटे की तेज रफ्तार से हवाएं चल रही थी. सात ही भारी बारिश की वजह से लोगं को खासी दिक्कत का सामना भी करना पड़ रहा था.

 

हुद-हुद की रफ्तार अब थम तो चुकी है. लेकिन उसने कहीं पेड़ उखड़ दिये हैं तो कहीं कच्चे मकानों की छत ढह चुकी है.

 

हुदहुद तूफान से अब तक सबसे ज्यादा नुकसान आंध्रप्रदेश के सबसे बड़े शहर विशाखापट्टनम को हुआ है.

 

हुदहुद तूफान की वजह से 62 ट्रेनें रद्द की जा चुकी है जबकि 51 ट्रेनों के रूट बदले जा चुके हैं. साथ ही मंगलवार को विशाखापट्टनम में खेले जाने वाले भारत और वेस्टइंडीज के बीच तीसरा वनडे मैच भी रद्द किया जा चुका है. संचार व्यवस्था को भी काफी नुकसान पहुंचा है. विशाखानपट्टनम के कई इलाके अंधेरे में हैं और उनसे संपर्क करना भी बेहद मुश्किल है.

 

तूफान की वजह से विशाखापट्टनम में अब तक एक हजार पेड़ उखड़ चुके हैं. साथ ही राज्य से होकर गुजरने वाले कई हाइवे पर भी आवाजाही बंद हो चुकी है. अब तक आंध्र प्रदेश के चार जिलों में करीब 90 हजार लोगों को सुरक्षित जगह पर पहुंचाया जा चुका है. वहीं ओडिशा के तटीय जिलों से भी 68 हजार लोगों को सुरक्षित निकाला जा चुका है.

 

लगातार भारी बारिश होने की वजह से कई इलाकों में बाढ़ की आशंका भी जताई जा रही है. मौसम विभाग के मुताबिक हुदहुद का असर बिहार, झारखंड, छत्तीसगढ़, पूर्वी यूपी और एमपी के कई इलाकों तक हो सकता है. जहां भारी बारिश हो सकती है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: hudhud_storm
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: hudhud storm
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017