Exclusive: जानें- रोहित पर मारपीट का आरोप लगाने छात्र सुशील ने क्या कहा

hyderabad: Exclusive interview of abvp president shushil kumar

हैदराबाद यूनिवर्सिटी में दलित छात्र रोहित वेमुला की आत्महत्या का मामला गरमाता जा रहा है. राजनीतिक गलियारे से लेकर छात्र संगठन तक इस मामले में कूद पड़े हैं.

नई दिल्ली: हैदराबाद सेंट्रल यूनिवर्सिटी के छात्र रोहित वेमुला की खुदकुशी के बाद चौतरफा बवाल मचा हुआ है. आत्महत्या कर दुनिया को अलविदा कहने वाले रोहित वेमुला के मामले की जड़ एक फेसबुक पोस्ट है, जिसके बाद हुई कथित मारपीट से हैदराबाद सेंट्रल यूनिवर्सिटी का मौजूदा विवाद शुरू हुआ था और रोहित की आत्महत्या इसी का परिणाम बताया जा रहा है.

पिछले 3 दिन से मामले से जुड़े एबीवीपी नेता सुशील कुमार अंडर ग्राउंड चल रहे थे लेकिन अब सामने आते हुए उन्होंने अपना पक्ष रखते हुए कहा है कि रोहित की मौत का बहुत दुःख है. सुशील के मुताबिक रोहित मुद्दों के लिए संघर्ष करना वाला छात्र था और उसके साथ कई बार वे अलग-अलग मुद्दों पर वाद-विवाद कर रहे हैं. सुशील को लगता है कि रोहित के आत्महत्या करने के पीछे कोई अन्य कारण भी हो सकता है. उनका मानना है कि मामले की जांच होनी चाहिए.

फेसबुक पोस्ट वाले विवाद पर सुशील ने बताया कि याकुब मेनन की फांसी के खिलाफ एएसए अम्बेडकर स्टूडेंट असोसिएशन ने कार्यक्रम किया था जिसमें कुछ इस तरह के नारे लगे, ‘याकुब तेरे खून से इंकलाब आएगा’, ‘तुम एक याकुब मारोगे, हजारों याकुब पैदा होंगे’. सुशील के मुताबिक एएसए की इस हरकत को उन्होंने 3 अगस्त 2015 के अपने फेसबुक पोस्ट में गुंडागर्दी बताते हुए उन्हें बहस की चुनौती दी थी.

उसी रात एएसए से जुड़े 30 छात्र कथित तौर पर होस्टल के उनके कमरे में आए. जैसा कि वे बताते हैं कि पहले उन सबकी सुशील से बहस हुई और बाद में उन्होंने उसे पीट दिया. इस बीच सुशील ने पुलिस और यूनिवर्सिटी सिक्योरिटी को सूचित किया. सुशील के मुताबिक यूनिवर्सिटी सिक्योरिटी की मौजूदगी में भी एएसए के सदस्यों ने उसे गाड़ी से खींच कर मारा और फिर जबरदस्ती माफीनामा लिखवाया.

सुशील के मुताबिक उसके पेट पर लातों से मारा गया. सुशील आरोप लगाते हैं कि मारने वालों में रोहित भी शामिल था जिसने उसके सर पर चोट की थी. इस हमले के बाद सुशील ने अपने भाई को बुलाया और एक निजी अस्पताल में भर्ती हुआ. सुशील के मुताबिक उसे पीटने वाले लड़के कैम्पस में ही इकट्ठे थे इसलिए डर से उसने यूनिवर्सिटी हॉस्पिटल जाना ठीक नहीं समझा. हॉस्पिटल में उसके पेट में दर्द होता रहा और 2-3 दिनों के बाद रिपोर्ट में आया कि उसे अपेंडिक्स में चोट पहुंची है, जिसके बाद उसने वहीं अपेंडिक्स का ऑपरेशन करवाया.

इस बीच इस मामले की शिकायत पुलिस और यूनिवर्सिटी प्रशासन को की गई. जिसकी जांच में उसके साथ हुई पिटाई की बात साबित हुई और दोषी छात्रों को सस्पेंड किया गया. उसका आरोप है कि जब वे हॉस्पिटल से वापस लौटा तो उसको मानसिक तौर पर प्रताड़ित किया जाने लगा और धमकियां दी जाने लगी. एएसए से सहानुभूति रखने वाला यूनिवर्सिटी शिक्षक संगठन भी उसके खिलाफ हो गया. बाद में दोषी छात्रों का दंड भी घटा दिया गया.

इसकी वजह से सुशील की मां न्याय के लिए अदालत चली गईं. सुशील के मुताबिक उसे पीटने वाले एक छात्र ने यूनिवर्सिटी में उसकी मां के साथ भी बदसलूकी की. सुशील का कहना है कि जांच प्रक्रिया के दौरान भी उसने प्रस्ताव दिया था कि अगर दोषी छात्र आगे से इस तरह की घटना नहीं दोहराने का लिखित भरोसा दें तो वे उनका निलंबन नहीं चाहेंगे.

उसका कहना है कि एएसए से जुड़े छात्र पिछले काफी वक़्त से राष्ट्रविरोधी कार्यक्रम चलाते रहे हैं और विरोध पर मारपीट करते रहे हैं. अगर वो ऐसा ना करने का भरोसा दें तो वो भी चाहेंगे कि उनका निलंबन रद्द हो जाए. हालांकि ये फैसला यूनिवर्सिटी प्रशासन को लेना है.

जहां तक बंडारु दत्तात्रेय और केंद्र सरकार के दबाव का सवाल है, सुशील के मुताबिक वो दत्तात्रेय के पास न्याय की मांग करने बीजेपी (भारतीय जनता पार्टी) सांसद या सरकार होने की वजह से नहीं बल्कि एक जन प्रतिनिधि के तौर पर गए थे. वहीं विरोधियों द्वारा उठाए जा रहे सवालों पर सुशील ने पूछा है कि क्या याकुब मेनन के समर्थन में कार्यक्रम करना राष्ट्रभक्ति है? सुशील ने बताया कि एक तरफ जब एएसए याकुब की मौत पर शोक मना रहा था तब एबीवीपी अब्दुल कलाम के लिए श्रधांजलि कार्यक्रम कर रहा था.

उसके मुताबिक ये जातीय नहीं विचारधारा की लड़ाई है. उसका कहना है दरअसल पिटाई और प्रताड़ना का शिकार वो खुद है और अब रोहित की मौत के कारण सदमे में भी है. सुशील भी रोहित की आत्महत्या के मामले में आरोपी हैं, उसने कहा कि वो चाहता है कि पूरे मामले की जांच हो अगर उसका दोष साबित होता है तो वो हर सजा के लिए तैयार हैं.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: hyderabad: Exclusive interview of abvp president shushil kumar
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

J&K: पुलवामा में सुरक्षाबलों ने लश्कर-ए-तैयबा के जिला कमांडर अयूब लेलहारी को किया ढेर
J&K: पुलवामा में सुरक्षाबलों ने लश्कर-ए-तैयबा के जिला कमांडर अयूब लेलहारी को...

श्रीनगर: जम्मू कश्मीर के पुलवामा जिले में आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के जिला कमांडर को आज...

गोरखपुर ट्रेजडी: डीएम की रिपोर्ट में डॉक्टर और ऑक्सीजन सप्लाई करने वाली कंपनी हादसे की जिम्मेदार
गोरखपुर ट्रेजडी: डीएम की रिपोर्ट में डॉक्टर और ऑक्सीजन सप्लाई करने वाली...

नई दिल्ली: गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में 10 अगस्त से 12 अगस्त के बीच 48 घंटे के भीतर 36 बच्चों की...

अमेरिका ने हिजबुल मुजाहिदीन को विदेशी आतंकी संगठन घोषित किया
अमेरिका ने हिजबुल मुजाहिदीन को विदेशी आतंकी संगठन घोषित किया

वाशिंगटन: आतंकी सैयद सलाहुद्दीन को इंटरनेशनल आतंकी घोषित करने के करीब दो महीने बाद आज अमेरिका...

RBI ने नहीं पूरी की नोटों की गिनती तो पीएम ने कैसे किया 3 लाख करोड़ वापस आने का दावा: कांग्रेस
RBI ने नहीं पूरी की नोटों की गिनती तो पीएम ने कैसे किया 3 लाख करोड़ वापस आने का...

नई दिल्ली: कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के स्वाधीनता दिवस के अवसर पर राष्ट्र के नाम...

'सोनू' के तर्ज पर कपिल मिश्रा का 'पोल खोल' वीडियो, गाया- AK तुझे खुद पर भरोसा नहीं क्या...?
'सोनू' के तर्ज पर कपिल मिश्रा का 'पोल खोल' वीडियो, गाया- AK तुझे खुद पर भरोसा नहीं...

नई दिल्ली : दिल्ली सरकार में मंत्री पद से बर्खास्त किए गए कपिल मिश्रा ने सीएम अरविंद केजरीवाल...

एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें
एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें

1. रिश्तों में टकराव के लिए चीन ने पीएम नरेंद्र मोदी को जिम्मेदार ठहराया है. http://bit.ly/2vINHh4  मंगलवार को...

 'ब्लू व्हेल' गेम पर सरकार सख्त, रविशंकर प्रसाद ने कहा- इसे स्वीकार नहीं किया जा सकता
'ब्लू व्हेल' गेम पर सरकार सख्त, रविशंकर प्रसाद ने कहा- इसे स्वीकार नहीं किया...

नई दिल्ली: जानलेवा ‘ब्लू व्हेल’ गेम को लेकर केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बुधवार को...

विपक्षी दलों के साथ शरद यादव कल करेंगे 'शक्ति प्रदर्शन'!
विपक्षी दलों के साथ शरद यादव कल करेंगे 'शक्ति प्रदर्शन'!

नई दिल्ली: जेडीयू के बागी नेता शरद यादव कल यानि गुरुवार को अपनी ताकत के प्रदर्शन के लिए सम्मेलन...

भगाए जाने के बाद बोला चीन, लद्दाख में टकराव की कोई जानकारी नहीं
भगाए जाने के बाद बोला चीन, लद्दाख में टकराव की कोई जानकारी नहीं

बीजिंग: चीन ने जम्मू-कश्मीर के लद्दाख में मंगलवार को दो बार भारतीय इलाके में घुसपैठ की कोशिश...

योगी राज में किसानों के 'अच्छे दिन'
योगी राज में किसानों के 'अच्छे दिन'

नई दिल्लीः यूपी के किसानों के लिए खुशखबरी का इंतजार खत्म हो गया है. कल सीएम योगी आदित्यनाथ 7 हज़ार...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017