मैं जैन नहीं, हिंदू वैष्णव हूं: अमित शाह | I am a Hindu Vaishnav, not Jain says Amit Shah

मैं जैन नहीं, हिंदू वैष्णव हूं: अमित शाह

अमित शाह ने कहा, ‘‘यूपीए सरकार ने 2013 में सिफारिश (लिंगायत को अल्पसंख्यक समूह का दर्जा देने की) को खारिज कर दिया था. मौजूदा फैसला सिर्फ येदियुरप्पा को मुख्यमंत्री बनने से रोकने के लिए है. यह एक चुनावी चाल है.’’

By: | Updated: 06 Apr 2018 09:43 PM
I am a Hindu Vaishnav, not Jain says Amit Shah

मुंबई: कर्नाटक के मुख्यमंत्री के दावे को खारिज करते हुए बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने आज कहा कि वह हिंदू वैष्णव हैं. इसके साथ ही उन्होंने कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया के इस दावे को खारिज कर दिया कि बीजेपी अध्यक्ष एक जैन हैं. बीजेपी के 38 वें स्थापना दिवस पर एक रैली को संबोधित करने के बाद अमित शाह संवाददाओं से बातचीत कर रहे थे.


अमित शाह ने कहा, ‘‘यूपीए सरकार ने 2013 में सिफारिश (लिंगायत को अल्पसंख्यक समूह का दर्जा देने की) को खारिज कर दिया था. मौजूदा फैसला सिर्फ येदियुरप्पा को मुख्यमंत्री बनने से रोकने के लिए है. यह एक चुनावी चाल है.’’ शाह से सिद्धारमैया के उस बयान के बारे में सवाल किया गया जिसमें उन्होंने कहा था कि शाह एक जैन हैं. इस पर शाह ने कहा, ‘‘ मैं जैन नहीं बल्कि एक हिंदू वैष्णव हूं.’’


बीजेपी अध्यक्ष ने एक दूसरे सवाल के जवाब में कहा कि 2014 में बहुमत हासिल करने के बाद भी बीजेपी ने हमेशा अपने सहयोगी दलों को शामिल किया है. उन्होंने उम्मीद जतायी कि शिवसेना भाजपा के साथ बनी रहेगी.


अमित शाह ने कहा कि त्रिपुरा, असम और अन्य स्थानों पर बहुमत हासिल करने के बाद भी बीजेपी ने अपने सहयोगियों को सरकार में शामिल किया. उन्होंने कहा कि 2019 में भी हम एनडीए की सरकार बनाएंगे, हालांकि बीजेपी को अपने दम पर बहुमत प्राप्त होगा.


शिवसेना के बारे में पूछे गए एक सवाल पर शाह ने कहा कि वे अभी सरकार में हमारे साथ हैं और हमारी पूरी इच्छा है कि वे हमारे साथ रहें. उन्होंने कहा कि बीजेपी को अलग थलग करने के विपक्ष के प्रयासों के बाद भी पार्टी अपने सहयोगियों के साथ 2019 के चुनाव में विजयी होगी.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: I am a Hindu Vaishnav, not Jain says Amit Shah
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story आधार नहीं है लाभ पहुंचाने के लिए सर्वश्रेष्ठ मॉडल: सुप्रीम कोर्ट