नटवर विवाद: ABP न्यूज से सोनिया ने कहा, 'किताब का जवाब किताब से दूंगी'

By: | Last Updated: Thursday, 31 July 2014 8:04 AM

नई दिल्ली: पूर्व विदेश मंत्री नटवर सिंह की किताब पर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने खुलकर कोई भी टिप्पणी करने से इंकार कर दिया.

 

सोनिया गांधी ने एबीपी न्यूज़ से कहा है, “मैं खुद अपनी किताब लिखूंगी जिसमें सारी सच्चाई सामने आएगी, उससे पहले मैं नहीं बोलूंगी.”

 

मेरे पीएम रहते एक भी फाइल सोनिया गांधी ने नहीं देखी: मनमोहन 

सोनिया गांधी ने कहा कि वो इससे खुलासे से कतई आहत नहीं हैं, क्योंकि उन्होंने अपनी सास और पति की हत्या होते देखा है. 

 

आपको बता दें कि पूर्व कांग्रेस नेता नटवर सिंह ने किताब आने से पहले एक इंटरव्यू में बताया कि 2004 में सोनिया गांधी को पीएम बनने से राहुल गांधी ने रोका था. नटवर के दावे पर कांग्रेस ने बयान जारी किया है और कहा है कि नटवर सिंह पब्लिसिटी के लिए ये सब कह रहे हैं.

 

किताब में लिखा है, ‘राहुल गाधी ने सोनिया को प्रधानमंत्री बनने से रोका था.. राहुल नहीं चाहते थे कि उनकी मां की भी पिता राजीव गांधी की तरह हत्या हो जाए.’

 

अंतरात्मा की आवाज नहीं, बेटे की जिद

 

कभी कांग्रेस के कद्दावर नेता रहे और अब कांग्रेस से निकाले जा चुके नटवर सिंह ने ये खुलासा किया है. नटवर सिंह के मुताबिक 2004 में सोनिया गांधी के प्रधानमंत्री नहीं बनने का फैसला उनकी अंतरात्मा की आवाज नहीं बल्कि बेटे की जिद थी.

 

हेडलाइंस टुडे को इंटरव्यू को दिए 83 साल के नटवर सिंह के मुताबिक सोनिया गांधी उनके घर 6 मई को अपनी बेटी के साथ आई थीं और गर्मजोशी से मिली थीं. नटवर सिंह की किताब अगले महीने प्रकाशित हो रही है.

 

नटवर के मुताबिक, ‘सोनिया मुझसे मिलने आईं क्योंकि उन्हें किताब को लेकर चिंता थी.. किताब में कई ऐसे हिस्से हैं जो अगर प्रकाशित न हों तो सोनिया ज्यादा खुश होंगी.’

 

मनमोहन सरकार में विदेश मंत्री रहे नटवर सिंह को 2005 में इराक में फूड फॉर ऑयल घोटाले को लेकर मंत्रीपद छोड़ना पडा था. नटवर सिंह को 2006 से पार्टी से निलंबित दिया गया था. बताया जा रहा है कि नटवर सिंह अपनी किताब में कांग्रेस और खासकर गांधी परिवार पर कई बड़े खुलासे करने वाले हैं.

 

नटवर सिंह ने इंटरव्यू में खुलासा किया है कि सोनिया गांधी सरकार की फाइलें भी देखती थीं. नटवर सिंह ने कहा, “मैं दुखी था कि सोनिया गांधी ने कभी मुझे संपर्क नहीं किया लेकिन अब मैंने उन्हें को माफ कर दिया है.”