CISCE की 10वीं, 12 वीं की परीक्षा पास होने के लिए नंबर किए गए कम | ICSE pass marks to be lowered from 2018

CISCE की 10वीं, 12 वीं की परीक्षा पास होने के लिए नंबर किए गए कम

सीआईएससीई सचिव एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी गेरी एराथन ने बताया कि यह 2018 से प्रभावी होगा.

By: | Updated: 11 Jan 2018 08:56 PM
ICSE pass marks to be lowered from 2018

कोलकाता: काउंसिल ऑफ इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशंस (सीआईएससीई) ने इस अकादमिक सत्र से 10वीं और 12वीं में पास होने के लिए नंबर घटाने का फैसला किया है. सीआईएससीई सचिव एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी गेरी एराथन ने बताया कि आईसीएसई छात्रों के लिए उत्तीर्ण अंक 35 फीसदी से घटा कर 33 फीसदी और आईएससी छात्रों के लिए यह 40 फीसदी से घटाकर 35 फीसदी किया गया है.


गेरी एराथन ने बताया कि यह 2018 से प्रभावी होगा. एराथन द्वारा जारी एक सरकुलर में कहा गया है, ‘‘कृपया ध्यान दें, आईसीएसई और आईएससी परीक्षाओं में उत्तीर्ण होने के अंकों में बदलाव साल 2018 से प्रभावी होगा.’’ आईसीएसई स्कूल (पश्चिम बंगाल) प्रमुखों के संगठन के महासचिव नाबरून डे ने बताया कि राज्य में सभी संबद्ध स्कूलों को नोटिस भेज दिया गया है.


आईएससी परीक्षाएं सात फरवरी से दो अप्रैल के बीच होनी. वहीं आईसीएसई परीक्षाएं 26 फरवरी से 28 मार्च के बीच होने का कार्यक्रम है.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: ICSE pass marks to be lowered from 2018
Read all latest Education News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story ओम प्रकाश रावत होंगे नए मुख्य चुनाव आयुक्त, 23 जनवरी से संभालेंगे कामकाज