शीला दीक्षित ने दिल्ली में बीजेपी सरकार बनने का किया समर्थन

By: | Last Updated: Thursday, 11 September 2014 10:34 AM

नई दिल्ली : दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के बयान ने दिल्ली की राजनीति में नया तूफान मचा दिया है. शीला दीक्षित ने दिल्ली में बीजेपी की सरकार बनने का समर्थन किया है.

 

अगर बीजेपी के पास नंबर है तो सरकार बनानी चाहिए. शीला दीक्षित के इस बयान से कांग्रेस में कोहराम मचा है. शीला दीक्षित ने आज कहा है कि यदि इस स्थिति पर पहुंच गई है बीजेपी कि वह सरकार बना सके तो अच्छी बात है दिल्ली के लिए. आरोप हमेशा लगते हैं. सरकार बनने दीजिए फिर फैसला होगा, जैसे आप कह रहे हैं कि बीजेपी अध्यक्ष ने ये कहा है तो जिम्मेदारी से कहा होगा ना.

 

कांग्रेस पार्टी अब तक बीजेपी की सरकार बनने का विरोध करती रही है. शीला के बयान के बाद कांग्रेस नेता मुकेश शर्मा ने शीला के बयान को निजी करार दिया है. मुकेश शर्मा तब शीला दीक्षित के संसदीय सचिव थे जब शीला दिल्ली की सीएम थीं.

 

दिल्ली में बीजेपी सरकार बनने का समर्थन करने के बाद लगता है कि दिल्ली में सरकार बन ही जाएगी. दिल्ली के एलजी नजीब जंग बीजेपी सरकार बनाने के पक्ष में आ चुके हैं. अब तो कांग्रेस नेता और पूर्व दिल्ली सीएम शीला दीक्षित ने कहा है कि दिल्ली में सरकार बननी चाहिए और अगर बीजेपी के पास नंबर हैं तो उसे सरकार बनानी चाहिए. सवाल ये है कि शीला दीक्षित जो कह रही हैं क्या कांग्रेस की भी राय है? सवाल इसलिए है क्योंकि दिल्ली में कांग्रेस बीजेपी सरकार बनाने के खिलाफ है औऱ चुनाव की मांग कर रही है ?

 

शीला दीक्षित के बयान को लेकर कांग्रेस विधायक दल की राय बंट गई है . कांग्रेस विधायक दल के नेता हारुन यूसुफ शीला के बयान पर हैरानी जता रहे हैं तो विधायक मतीन अहमंद शीला के साथ खड़े दिख रहे हैं.

 

शीला दीक्षित के बयान को लेकर कांग्रेस के नेता नाराज हैं. पूर्व विधायक भीष्म शर्मा ने तो शीला दीक्षित को कांग्रेस से हटाने के लिए सोनिया गांधी को चिट्ठी भी लिख दी है. शीला दीक्षित के बयान से बीजेपी को बड़ी हिम्मत मिली है. इसलिए बीजेपी के बयान का स्वागत किया है. 

 

 

शीला दीक्षित दिल्ली में पंद्रह साल तक मुख्यमंत्री रहीं . फिर केरल की राज्यपाल बनीं . इस्तीफे के बाद दिल्ली की राजनीति में उनकी वापसी की चर्चा हो रही थी . लेकिन इस बयान के बाद अब पार्टी से निकालने तक की मांग होने लगी है .

 

कांग्रेस के पूर्व विधायक भीष्म शर्मा ने शीला पर बीजेपी से मिलीभगत का आरोप लगाते हुए शीला को हटाने के लिए पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी को चिट्ठी लिख दी है. लेकिन ऐसा नहीं है कि शीला दीक्षित पार्टी में अकेली पड़ गई हैं . कांग्रेस विधायक मतीन अहमद शीला के पक्ष में खड़े हो गये हैं . मतीन अहमद का भी कहना है कि अगर नंबर है तो सरकार बनने दीजिए अगर फ्लोर पर सरकार गिरी तो फिर चुनाव हो जाएंगे.

 

पार्टी के मीडिया प्रमुख अजय माकन ने भी शीला के बयान को निजी बताया है. शीला का ये बयान बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के इस बयान के बाद आया है जिसमें उन्होंने कहा है कि दिल्ली में कोई चुनाव नहीं चाहता है. डेढ़ साल में बीजेपी को दो बार जनादेश मिला है. जहां तक बहुमत का सवाल है तो मुझे मालूम नहीं कि कौन समर्थन देगा कौन नहीं. कोई समर्थन देना चाहता है तो हम कैसे मना कर सकते हैं.

 

शीला के बयान को लेकर कांग्रेस भले ही विरोध में खडी है बीजेपी स्वागत में जुटी है . पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सतीश उपाध्याय ने शीला की खुले दिल से तारीफ की है.

 

ये हर कोई जानता है कि दिल्ली में बीजेपी के पास बहुमत नहीं है . ऐसे में शीला ने पार्टी लाइन से हटकर ऐसे बयान क्यों दिया पार्टी समझ नहीं पा रही .

 

आपको बता दें कि इकनॉमिक टाइम्स को दिए एक इंटरव्यू में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि, ”दिल्ली में बीजेपी के पास जनादेश है और इसीलिए बीजेपी दिल्ली में सरकार बनाना चाहती है. लेकिन सरकार बनाने के लिए कोई भी अनैतिक कदम नहीं उठाना चाहिए.”

 

दिल्ली में सरकार बनाने को लेकर राजनीतिक पार्टियों के बीच कशमकश जारी है. लेकिन अब बीजेपी अध्यक्ष के इस बयान से बीजेपी के सरकार बनाने से जुड़ी तमाम अटकलों पर विराम लग गया है. दिल्ली में बीजेपी के खिलाफ किए गए स्टिंग पर अमित शाह ने कहा कि, ”एक छोटे राज्य में किसी सदस्य का ‘उत्साह’ किसी राष्ट्रीय पार्टी का प्रतिबिंब नहीं बन सकता.”

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: if bjp forms government in delhi its good sheila dikshit
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: BJP Congress government sheila dikshit
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017