2016-17 में जम्मू-कश्मीर में पथराव की घटनाओं में कमी आई: केंद्र सरकार । In 2016-17, incidents of stone pelting in Jammu and Kashmir decreased: Central Government

2016-17 में जम्मू-कश्मीर में पथराव की घटनाओं में कमी आई: केंद्र सरकार

गृह राज्य मंत्री हंसराज अहीर ने राज्यसभा को एक प्रश्न के लिखित जवाब में बताया "जम्मू कश्मीर में साल 2016 में पथराव की 2,808 घटनाएं हुई थीं.

By: | Updated: 27 Dec 2017 06:29 PM
In 2016-17, incidents of stone pelting in Jammu and Kashmir decreased: Central Government

नई दिल्ली: सरकार ने बताया कि जम्मू-कश्मीर में पथराव की घटनाओं में कमी आई है. ऐसी घटनाएं साल 2016 में 2,808 थीं जो इस साल नवंबर तक घट कर 1,198 रह गईं. गृह राज्य मंत्री हंसराज अहीर ने राज्यसभा को एक प्रश्न के लिखित जवाब में बताया "जम्मू कश्मीर में साल 2016 में पथराव की 2,808 घटनाएं हुई थीं. लेकिन इस साल नवंबर तक पथराव की 1,198 घटनाओं की खबर आई. राज्य में पथराव की घटनाओं में कमी आई है."


उन्होंने एक और सवाल के लिखित जवाब में बताया कि कानून व्यवस्था बनाए रखने में राज्य सरकार की मदद करने के लिए केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल के पर्याप्त जवानों को जम्मू कश्मीर में तैनात किया गया है.


हंसराज अहीर ने बताया "सुरक्षा बलों की तैनाती के स्तर का खुलासा करना उचित नहीं होगा."

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: In 2016-17, incidents of stone pelting in Jammu and Kashmir decreased: Central Government
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story SSC CHSL Tier I: एसएससी ने जारी किया एडमिट कार्ड, ऐसे करें डाउनलोड