ब्रिक्स देशों के प्रमुखों से PM मोदी ने कहा- विदेशों में से कालेधन की वापसी हमारी प्राथमिकता

By: | Last Updated: Saturday, 15 November 2014 2:32 AM

नई दिल्ली: पीएम नरेंद्र मोदी ऑस्ट्रेलिया के ब्रिस्बेन में आज से जी-20 देशों की बैठक में शामिल होने के लिए पहुंच गए हैं. ऑस्ट्रेलिया के पीएम टोनी एबॉट ने उनका गले लगाकर स्वागत किया है. फ्रांस के राष्ट्रपति ओलांद से भी पीएम मिले हैं. ओलांद से पीएम ने कहा है कि आतंकवाद से लड़ने के लिए मिलकर नीति बनानी होगी.

 

सांस्कृति प्रस्तुति के साथ जी 20 सम्मेलन शुरूआत हुई है.

 

बैठक से पहले दुनिया के कई देशों के नेताओं से पीएम की मुलाकात हुई है. रूस के राष्ट्रपति पुतिन से मिले पीएम. ब्रिक्स देशों के नेताओं के साथ पीएम की अनौपचारिक मुलाकात हुई है.

 

पीएम ने उसी मुलाकात में कहा कि विदेश में रखे बेहिसाब धन  को वापस लाना उनकी प्राथमिकता में है. पीएम ने कहा कि बेहिसाब धन सुरक्षा के लिए बड़ी चुनौती है. बेहिसाब धन के लिए पीएम ने ब्रिक्स के देशों से सहयोग की अपील की.

 

ऑस्ट्रेलिया ने मांगी माफी

जम्मू कश्मीर के बिना भारत का नक्शा दिखाने पर ऑस्ट्रेलिया ने मांगी माफी. क्वींसलैंड में पीएम मोदी के सामने प्रेजेंटशन के दौरान नक्शा गलत दिखाया गया था.

 

पीएम मोदी के सामने भारतीय नक्शे में कश्मीर नहीं दिखने पर विदेश सचिव सुजाता सिंह ने कड़ा विरोध जताया था. विवाद होने पर आयोजकों ने माफी मांगी. ब्रिस्बेन के क्वींसलैंड यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नोलॉजी पहुंचे थे प्रधानमंत्री मोदी.. यूनिवर्सिटी प्रशासन ने मोदी को यूनिवर्सिटी से रूबरू कराया था.

 

जी-20 में क्या होगा?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी-20 सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए ब्रिसबेन पहुंच चुके हैं दुनिया की नजर मोदी पर है कि भारत के प्रधानमंत्री जी-20 में कौन-कौन से मुद्दे उठाएंगे.

 

दुनिया भर की 20 बड़ी अर्थव्यवस्था वाले जी-20 सम्मेलन में वैश्विक विकास के लिए अहम फैसले लिए जाने हैं. ऑस्ट्रेलिया के ब्रिसबेन शहर में शुरू हो रहा G-20 शिखर सम्मेलन में साल 2018 तक जी-20 देशों की कुल विकास दर में 2 फीसदी की बढ़ोतरी का फॉर्मूला निकालने की कोशिश होगी.

 

इससे ग्लोबल जीडीपी में ना सिर्फ इजाफा होगा बल्कि लाखों की संख्या में नए रोजगार के अवसर पैदा होंगे.

 

जी-20 बैठक में प्रधानमंत्री मोदी काले धन के खिलाफ G-20 देशों के साथ टैक्स चोरी को लेकर आम राय बनाने पर जोर देंगे

 

जी-20 दुनिया का सबसे शक्तिशाली आर्थिक मंच है जहां पांचों महाद्वीपों से 20 विकसित और विकासशील अर्थव्यवस्थाएं शामिल हैं. विश्व की जीडीपी में में जी-20 देश की अर्थव्यवस्थाओं का 85 फीसदी हिस्सा है. इसमें देश की सरकारों के अलावा ..सेंट्रल बैंक के गवर्नर की भी अहम भूमिका रहती है.

 

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाने पर दुनिया के 130 देश राजी

योग दिवस मनाने को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रस्ताव को यूरोपीय संघ ने समर्थन किया है. अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाने को लेकर 130 देशों ने भारत के प्रस्ताव का समर्थन किया है. प्रस्ताव में योग के लाभ को मान्यता देने और संयुक्त राष्ट्र महासभा में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाने की बात शामिल है संयुक्त राष्ट्र के मंच से पीएम मोदी ने दुनिया को योग के फायदे बताए थे। मोदी ने अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाने की मांग की थी.

 

मोदी मिले कैमरन व आबे से, आर्थिक सहयोग पर चर्चा

जी 20 शिखर सम्मेलन से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी पहली द्विपक्षीय मुलाकात यूरोपीय संघ (ईयू) के अध्यक्ष हरमन वान रॉमपाय और ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरन से की जिसमें आर्थिक सहयोग का मुद्दा सबसे ऊपर था. इसके अलावा मोदी की मुलाकात जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे से रात्रि भोज के दौरान हुई. शनिवार से शुरू होने वाले जी 20 शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए मोदी शुक्रवार सुबह ही ब्रिस्बेन पहुंचे. यहां पर सबसे पहले वह क्वींसलैंड युनिवर्सिटी ऑफ टेक्नोलॉजी (क्यूयूटी) गए जहां पर उन्होंने कृषि में हुए आधुनिक विकास मुद्दे पर छात्रों को गौर से सुना और उनके साथ बातचीत भी की.

 

मोदी ने हरमन वान रॉमपाय की अध्यक्षता वाले यूरोपीय संघ के प्रतिनिधिमंडल से बात की. उन्होंने कहा कि दोनों गुट साथ आने के लिए उत्सुक हैं खास तौर पर व्यापार के क्षेत्र में. मोदी ने उन्हें बताया कि यूरोपीय संघ को भारत में निवेश के लिए बन रहे नए माहौल का फायदा उठाना चाहिए.

 

भारत और यूरोपीय संघ के बीच मुक्त व्यापार समझौते का निष्कर्ष निकाला जाना अभी भी बाकी है. वार्ता अभी भी महत्वपूर्ण मुद्दों व बिंदुओं पर अटकी हुई है. ईयू ने ऑटोमोबाइल क्षेत्र में शुल्क कटौती और वाइन, स्प्रिट और डेयरी उत्पादों पर कर में कटौती की मांग की है. साथ ही बौद्धिक संपदा अधिकारों के शासन की मांग की है. भारत और यूरोपीय संघ के बीच का व्यापार 2003 के 28.6 अरब यूरो से बढ़कर 2013 में 72.7 अरब यूरो पर पहुंच गया है.

 

यूरोपीय संघ ने मोदी द्वारा संयुक्त राष्ट्र में दिए गए एक अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के प्रस्ताव का भी समर्थन किया. रॉमपय ने कहा कि 28 सदस्यों वाला संघ भारत के योगा दिवस शुरू करने के प्रस्ताव का समर्थन करता है. विदेश मंत्रालय ने ट्वीट किया, “यूरोपीय संघ के अध्यक्ष हरमन वान रॉमपय ने मोदी से कहा कि उनका संघ संयुक्त राष्ट्र में सुझाए गए मोदी के योग दिवस के प्रस्ताव का समर्थन करता है.”

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: In an informal BRICS meet, PM Modi says, “repatriation of unaccounted money kept abroad is a key priority for us.”
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: blackmoney BRICS Narendra Modi PM Modi
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017