केजरीवाल ने मोदी को लिखी चिट्ठी, कहा- पहले मौन मोहन थे, अब मौन मोदी हैं

By: | Last Updated: Saturday, 20 September 2014 3:40 AM
in his letter to PM Modi Kejariwal questions his silence

नई दिल्ली: पीएम मोदी को आम चुनावों में वाराणसी लोकसभा सीट से चुनौती देने वाले आम आदमी पार्टी के प्रमुख अरविंद केजरीवाल ने उन्हें लिखे खुले पत्र में लव जिहाद, ‘आप’ के विधायक खरीदने के आरोप, बढ़ती महंगाई, हो रहे भ्रष्टाचार, चीन की घुसपैठ और पाकिस्तान की ओर से हो रहे सीजफायर उल्लंघन जैसे मुद्दों पर उनके चुप रहने पर निशाना साधा.

चीठ्ठी में दिल्ली के मुख्यमंत्री ने प्रमुखता से भ्रष्टाचार के मुद्दे पर केंद्र सरकार की नीयत पर सवाल उठाए हैं. केजरीवाल ने एक अंग्रेजी अख़बार के हवाले से कहा है कि कोयला मंत्री ने नौ निजी कंपनियों को 1500 रुपये प्रति टन के हिसाब से 25 साल के लिए सरकारी कोयला बेचने का अनुबंध किया है. उन्होंने इस आवंटन पर आपत्ति जताई है.

 

यहां पढ़ें केजरीवाल की पूरी चिट्ठी-

 

माननीय प्रधानमंत्री जी,

सरकार के 4 महीने पूरे हुए. लोगों में इन 4 महीनों की खूब चर्चा है. लोगों की भावनाओं को इस पत्र के जरिए मैं बयान कर रहा हूं.

लोगों का मानना है कि आप बहुत अच्छा बोलते हैं. बहुत अच्छे भाषण देते हैं. लेकिल आपकी पार्टी के नेता और मंत्री आपकी बातों के ठीक विपरीत काम कर रहे हैं. आप उस पर ना कुछ कहते हैं ना ही कुछ करते हैं. इससे लोगों में असमंजस है.

जैसे अभी कुछ दिन पहले आपने कहा कि अगले 10 सालों तक देश में सांप्रदायिकता की बातें नहीं होनी चाहिए. आपने कहा कि सांप्रदायिकता से किसी का भला नहीं होता.

 

लोगों को आपकी ये बातें बहुत अच्छी लगीं. लेकिन लोग तब दंग रह गए जब आपके भाषण के कुछ दिन बाद ही आपकी पार्टी के सांसद योगी आदित्यनाथ ने धर्म के नाम पर जहरीले भाषण दिए. आपकी पार्टी के लोगों ने लव जिहाद के नाम पर धर्मों के बीच जहर घोलना शुरू किया.

 

लोगों को आश्चर्य हुआ कि आपकी पार्टी के लोग ही आपकी बातों को नहीं मान रहे? लोगों को उम्मीद थी कि आप योगी आदित्यनाथ और अपनी पार्टी के अन्य लोगों को यह सब करने से रोकेंगे. लेकिन जब आप भी चुप रहे तो लोग असमंजस में पड़ गए.

 

आपने लोगों को भ्रष्टाचार मुक्त भारत का सपना दिखाया. आपने यहां तक कहा “ना खाउंगा, ना खाने दूंगा.” सबको यह सुनकर बहुत अच्छा लगा. लोगों में विश्वास जगा कि अब भ्रष्टाचारियों को जोल होगी और ईमानदार की कद्र होगी. लेकिन जब आप के स्वास्थ्य मंत्रीडॉ हर्ष वर्धन ने एक बोहद ईमानदार अफसर श्री संजीव चतुर्वेदी को अपने पद सेहटा दिया तो लोगों को आश्चर्य हुआ.

 

सारा देश जानता है कि किस तरह हुए संजीव चतुर्वेदी ने सरकार में रहते हुए भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई लड़ी और कई भ्रष्टाचारियों को जेल पहुंचाया. यहां तक कि स्वयं राष्ट्रपति और संसदीय समिति ने भी श्री संजीव चतुर्वेदी के काम को सराहा है.

 

लोगों को तो उम्मीद थी कि ऐसे अफसर को आप पद्म भूषण से सम्मानित करेंगे. उनके हटाए जाने का मीडिया और जनता ने कड़ा विरोध किया.लोगों को उम्मीद थी आप स्वयं इस मामले में हस्तक्षेप करेंगे और संजीव चतुर्वेदी को फिर से बहाल करवाएंगे. लेकिन जब आप इस मामले में भी चुप रहे तो लोगों को आश्चर्य हुआ.

 

अभी कुछ पहले ही आपके ही गृहमंत्री ने नोटिफिकेशन जारी करके दिल्ली की एंटी करप्शन  ब्रांच की शक्तियों को कम कर दिया जाए और उसे नकारा बना दिया जाए.

 

यदि आप वाकई भ्रष्टाचार से लड़ना चाहते हैं तो आपको एंटी करप्शन ब्रांच को और सुविधाएं और और पॉवर देनी चाहिए थीं और उसमें ईमानदार अफसरोंम की भर्ती करनी चाहिए थी. उसे पंगु बनाकर तो आपके मंत्री भ्रष्टाचार को बढ़ावा दे रहे हैं.

 

लोगों को उम्मीद थी चूंकि आपने देश से भ्रष्टाचार को दूर करने का वादा किया था इसलिए आप राजनाथ सिंह को कहकर ये नोटिफिकोशन रद्द करवाएंगे. लेकिन इस पर भी आप चुप रहे.

 

अभी कुछ दिन पहले ऐसा सुनने में आया कि आपके एक मंत्री के बेचे ने दिल्ली पुलिस में ट्रांसफर करवाने के लिए कुछ लोगों से पैसे लिए. जब आपको पता चला तो आपने उन मंत्री जी और उनके बेटे को बुलाकर खूब ड़ांटा. लोगों को यह बहुत अच्छा लगा. लेकिन आपसे विनम्र निलेदन हा कि अगली बार किसी मंत्री का बेटा अगर रिश्वत लेते हुए पाया जाता है, तो उसे आप ड़ांटने के साथ साथ पुलिस के हवाले भी कर दीजिएगा.

 

दिल्ली में आपकी पार्टी के उपाध्यक्ष कैमरे पर दूसरी पार्टी के विधायकोंको खरीदते हुए नज़र आए. दिल्ली में आपकी पार्टी खुले आम जोड़ तोड़ करके बेइमानी से सरकार बनाने की कोशिश कर रही है. लोग बेचैनी से इंतजार करते रहे कि आप अपनी पार्टी को गलत काम करने से रोकेंगे.  लेकिन अब तक आप चुप हैं.

 

चुनाव से पहले आपने तत्कालीन यूपीए सरकार को इस बात के लिए कई बार आड़े हाथों लिया था कि पाक सीमा पर हमारे सिपाहियों के सिर कटने के बावजूद चीन सीमा पर चीनी सैनिकों के घुसपैठ करने के बावजूद डॉ मनमोहन सिंह सरकार ने की ठोस कदम नहीं उठाया.

 

जब आप अपने भाषण में इस बात को उठाते थे तो लोगों में जज्बा पैदी होता था और लोगों को अच्छा लगता था. लेकिन आपकी सरकार बनने के बाद भी चीन और पाक की घुसपैठ पहले की तरह लगातार जारी है. चुनाव से पहले आप इस मुद्दे को इतने जोर शोर से उठाते रहे. लेकिन अब आप भी कुछ ठोस नहीं कर पा रहे हैं.

 

अभी कुछ दिन पहले अंग्रेजी के एक बड़े अखबार में खबर छपी थी कि आपके कोयला मंत्री 9 प्राइवेट कंपनियों 1500 रुपए प्रति टन के हिसाब से 25 सालों के लिए सरकारी कोयला बेचने का एग्रीमेंट कर रहे हैं.

 

जबकि उस कोयले का बाजार भाव 4000 रुपए प्रति टन है. उस खबर के मुताबिक देश को इससे डेढ़ लाख करोड़ रुपए का नुकसान होगा. मतलब नई सरकार में भी घोटालों का सिलसिला चालू हो गया?

 

डॉ मनमोहन सिंह जी की ठीक नाक के नीचे घोटाले होते रहे और वे चुप रहे. आपसे विनम्र निलेदन है कि आप घोटालों में चुप मत रहिएगा. कृपया इस घेटाले को होने से पहले रोक दीजिएगा.

 

चुनाव से पहले आपने कहा था कि अच्छे दिन आने वाले हैं. पिछले 65 सालों से इस देश के लोग अच्छे दिनों का  इंतजार कर रहे हैं. इस देश के लोगों को पता ही नहीं कि अच्छे दिन कैसे होते हैं. लेकिन फिलहाल तो महंगाई की वजह से लोगों का जीना मुश्किल होता जा रहा है.

 

जिस मिडिल क्लास और और गरीब लोगों ने आपको वोट दिया. आज उनके लिए अपना घर चलाना मुश्किल हो गया है. बच्चे पालना मुश्किल हो गए हैं. आप तो सर्वशक्तिमान हैं.

 

संसद में आपके पास पूर्ण बहुमत है. इसी लिए आपसे विनिती है कि अच्छे दिनों के बिना तो फिर भी लोग रह लेंगे. फिलहाल तो महंगाई से किसी तरह लोगों को छुटकारा दिलवा दीजिए.

 

प्राधानमंत्री जी आपको ऐतिहासिक मौका मिला है. लोगों को आपसे बहुत उम्मीदें हैं. उपचुनाव के नतीजे दिखाते हैं कि लोगों कि लोगों की उम्मीदें धीरे धीरे टूट रहीं हैं.

 

धन्यवाद

अरविंद केजरीवाल

 

 

 

 

 

 

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: in his letter to PM Modi Kejariwal questions his silence
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

'सोनू' के तर्ज पर कपिल मिश्रा का 'पोल खोल' वीडियो, गाया- AK तुझे खुद पर भरोसा नहीं क्या...?
'सोनू' के तर्ज पर कपिल मिश्रा का 'पोल खोल' वीडियो, गाया- AK तुझे खुद पर भरोसा नहीं...

नई दिल्ली : दिल्ली सरकार में मंत्री पद से बर्खास्त किए गए कपिल मिश्रा ने सीएम अरविंद केजरीवाल...

एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें
एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें

1. रिश्तों में टकराव के लिए चीन ने पीएम नरेंद्र मोदी को जिम्मेदार ठहराया है. http://bit.ly/2vINHh4  मंगलवार को...

 'ब्लू व्हेल' गेम पर सरकार सख्त, रविशंकर प्रसाद ने कहा- इसे स्वीकार नहीं किया जा सकता
'ब्लू व्हेल' गेम पर सरकार सख्त, रविशंकर प्रसाद ने कहा- इसे स्वीकार नहीं किया...

नई दिल्ली: जानलेवा ‘ब्लू व्हेल’ गेम को लेकर केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बुधवार को...

विपक्षी दलों के साथ शरद यादव कल करेंगे 'शक्ति प्रदर्शन'!
विपक्षी दलों के साथ शरद यादव कल करेंगे 'शक्ति प्रदर्शन'!

नई दिल्ली: जेडीयू के बागी नेता शरद यादव कल यानि गुरुवार को अपनी ताकत के प्रदर्शन के लिए सम्मेलन...

भगाए जाने के बाद बोला चीन, लद्दाख में टकराव की कोई जानकारी नहीं
भगाए जाने के बाद बोला चीन, लद्दाख में टकराव की कोई जानकारी नहीं

बीजिंग: चीन ने जम्मू-कश्मीर के लद्दाख में मंगलवार को दो बार भारतीय इलाके में घुसपैठ की कोशिश...

योगी राज में किसानों के 'अच्छे दिन'
योगी राज में किसानों के 'अच्छे दिन'

नई दिल्लीः यूपी के किसानों के लिए खुशखबरी का इंतजार खत्म हो गया है. कल सीएम योगी आदित्यनाथ 7 हज़ार...

दिल्ली में तेज रफ्तार ने ली 24 साल के हिमांशु बंसल की जान
दिल्ली में तेज रफ्तार ने ली 24 साल के हिमांशु बंसल की जान

नई दिल्ली: दिल्ली के कनॉट प्लेस इलाके में तेज रफ़्तार स्पोर्ट्स बाईक से एक्सिडेंट का बड़ा मामला...

कर्नाटक में राहुल ने लॉन्च की इंदिरा कैंटीन, ₹10 में खाना और ₹5 में नाश्ता
कर्नाटक में राहुल ने लॉन्च की इंदिरा कैंटीन, ₹10 में खाना और ₹5 में नाश्ता

बेंगलुरू: कर्नाटक में अगले साल विधानसभा के चुनाव होने हैं और इसकी तैयारी अब से शुरू हो गई है. इसी...

यात्रियों को सौगात, रेलवे ने शुरू की कई नई ट्रेनें, यहां है पूरी List
यात्रियों को सौगात, रेलवे ने शुरू की कई नई ट्रेनें, यहां है पूरी List

नई दिल्ली : भारतीय रेलवे ने बीते हफ्ते यात्रियों को नई सौगात देते हुए कई सारी नई ट्रेनों को शुरु...

गुजरात में स्वाइन फ्लू का कहर, रविवार को 11 तो इस साल अब तक 208 की मौत
गुजरात में स्वाइन फ्लू का कहर, रविवार को 11 तो इस साल अब तक 208 की मौत

अहमदाबाद शहर स्वाइन फ्लू से सबसे ज्यादा प्रभावित है. प्रशासन भरपूर कोशिश कर रहा है लेकिन...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017