India Foundation rejects Congress allegations इंडिया फाउंडेशन ने कांग्रेस के आरोपों को किया खारिज, कहा- ‘मंत्री बनने से पहले चारों नेता फाउंडेशन से जुड़े थे’

इंडिया फाउंडेशन ने कांग्रेस के आरोपों को किया खारिज, कहा- ‘मंत्री बनने से पहले चारों नेता फाउंडेशन से जुड़े थे’

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट करके मोदी सरकार पर तंज कसा था. राहुल ने लिखा था, ‘’शाह-जादा की 'अपार सफलता' के बाद भाजपा की नई पेशकश- अजित शौर्य गाथा’’.

By: | Updated: 05 Nov 2017 08:49 AM
India Foundation rejects Congress allegations
नई दिल्ली: बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के बेटे के बाद अब राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल के बेटे शौर्य डोभाल विवादों में घिर गए हैं. कांग्रेस का आरोप है कि मोदी के चार मंत्री अजीत डोभाल के बेटे के संस्थान को फायदा पहुंचा रहे हैं. लेकिन फाउंडेशन ने आरोपों से इनकार किया है.

इंडिया फाउंडेशन ने कांग्रेस की तरफ से लगाए गए सभी आरोपों को निराधार बताया है. फाउंडेशन ने कहा है कि सांसद और मंत्री बनने से पहले चारों मंत्री एनजीओ में निदेशक थे और एनजीओ ने कभी विदेशी फंडिंग नहीं ली है. फाउंडेशन ने यह भी कहा है कि हमने सभी नियमों का पालन किया और साल 2009 से राष्ट्र निर्माण में लगे हैं.

बता दें कि कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि शौर्य के इंडिया फाउंडेशन में मोदी सरकार के चार वरिष्ठ मंत्री बतौर निदेशक के तौर पर जुड़े हुए हैं. जो गैरकानूनी है. कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट करके मोदी सरकार पर तंज कसा. राहुल ने लिखा है, ‘’शाह-जादा की 'अपार सफलता' के बाद भाजपा की नई पेशकश- अजित शौर्य गाथा’’.




कांग्रेस ने शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से पूछा, ‘’वह कब कथित रूप से लाभ के पद पर बैठीं रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण, वाणिज्य मंत्री सुरेश प्रभु, नागर विमानन राज्य मंत्री जयंत सिन्हा व विदेश मंत्रालय के राज्य मंत्री एम. जे. अकबर को मंत्रिमंडल से निष्कासित करेंगे. मोदी के मंत्रिय़ों की मौजूदगी से अजीत डोभाल के बेटे के एनजीओ को स्पॉन्सर मिल रहे हैं. लिहाजा प्रधानमंत्री को इन्हें तुरंत बर्खास्त करना चाहिए.’’

कांग्रेस के मुताबिक, इंडिया फाउंडेशन के कार्यक्रम को कुछ ऐसी कम्पनियां प्रायोजित करती हैं, जिनका जुड़ाव रक्षा, विदेश, कॉमर्स और सिविल एविएशन से है. क्योंकि इन मंत्रालयों के मंत्री फाउंडेशन में निदेशक हैं. लिहाज़ा ये हितों के टकराव के अलावा इन कम्पनियों की लॉबिंग का मामला भी बनता है.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: India Foundation rejects Congress allegations
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story गुजरात चुनाव: रुझानों में बीजेपी को बहुमत मिलने के बाद सेंसेक्स संभला