भारत एक है, भारतीय एक हैं: मोहन भागवत । India is one, Indians are one: Mohan Bhagwat

भारत एक है, भारतीय एक हैं: मोहन भागवत

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ(आरएसएस) के प्रमुख मोहन भागवत ने कहा कि ‘इंडिया’ नाम का शब्द सिंधु नदी (इंडस) से निकला है. उन्होंने यह भी कहा कि ‘भारत’ शब्द ज्यादा समावेशी है और देश को संबोधित करने का वैकल्पिक तरीका है.

By: | Updated: 17 Apr 2018 12:50 AM
India is one, Indians are one: Mohan Bhagwat

मुंबई: राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ(आरएसएस) के प्रमुख मोहन भागवत ने कहा कि ‘इंडिया’ नाम का शब्द सिंधु नदी (इंडस) से निकला है. उन्होंने यह भी कहा कि ‘भारत’ शब्द ज्यादा समावेशी है और देश को संबोधित करने का वैकल्पिक तरीका है.


सोमवार शाम बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए भागवत ने कहा, ‘‘इंडिया सिंधु से आया, क्या इसमें कावेरी है? भारत में यह नहीं है? भारत एक है, सभी भारतीय एक हैं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘अंग्रेजी में भी आप भारतीय लिख सकते हैं. इसे ‘भारतीय’ के रूप में लिखने से भाषा के किसी नियम का उल्लंघन नहीं होता क्योंकि व्यक्तिवाचक संज्ञा का अनुवाद नहीं होता.’’


व्यक्तिवाचक संज्ञा के बारे में अपनी बात को और स्पष्ट करते हुए भागवत ने कहा कि उन्हें हर जगह ‘‘मोहन’’ कहकर बुलाया जाता है. उन्होंने कहा, ‘‘मोहन का अनुवाद संभव नहीं है. मैं दुनिया में जहां कहीं जाता हूं, मोहन कहलाता हूं, हम सब भारतीय हैं.’’

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: India is one, Indians are one: Mohan Bhagwat
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story CJI के खिलाफ महाभियोग प्रस्ताव खारिज, जानें विपक्ष का अगला कदम क्या हो सकता है?