पाकिस्तान के पाले में गेंद: भारत

By: | Last Updated: Thursday, 7 January 2016 5:50 PM
India makes stand clear to Pakistan: action on Pathankot first, talks later

नई दिल्ली: पठानकोट हमले की वजह से 15 जनवरी को भारत-पाकिस्तान के बीच होने वाली विदेश सचिव स्तर की बातचीत खटाई में पड़ गई है. भारत ने फिर साफ किया है कि इस हमले में सारे सबूत पाकिस्तान को सौंप दिए हैं और अब गेंद पाकिस्तान के पाले में है कि वो कार्रवाई करे, उसी के बाद बातचीत होगी.

अजीत डोभाल सख्त
पठानकोट एयरबेस पर हुए हमले पर एबीपी न्यूज़ ने आपको 31 दिसंबर से अब तक हुए पूरे घटनाक्रम की जानकारी दी थी. आज एबीपी न्यूज़ पठानकोट हमले से जुड़ा एक बड़ा खुलासा कर रहा है.

एबीपी न्यूज़ को उच्च सूत्रों से पता चला है कि एक जनवरी से चार जनवरी के बीच पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार नसीर जनजुआ ने भारत के राष्ट्रीय सुक्षा सलाहकार अजित डोभाल को चार बार फोन किया था.

पठानकोट में ऑपरेशन के मद्देनजर अजित डोभाल ने पाकिस्तानी एनएसए से फोन पर बात नहीं की. सूत्रों की माने तो अजित डोभाल ने जनजुआ से पठानकोट में हमले के चौथे दिन फोन पर बात की. डोभाल ने जनजुआ से हमले पर सख्त कार्रवाई करने और हमले के पाकिस्तान से लिंक होने की बात कही.

आपको बता दें पठानकोट पर हमले की चौथी रात को एबीपी न्यूज़ से सबसे पहले खबर दी कि पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय बयान जारी कर कहा है कि वे भारत से मिले सबूतों पर काम कर रहे हैं. सरकार के उच्च सूत्रों ने एबीपी न्यूज़ से इस बात की भी पुष्टि की थी कि सरकार ने पाकिस्तान से पठानकोट हमले से जुड़े सबूत साझा किए.

एबीपी न्यूज़ की खबर के बाद भारत के राजनयिकों को यह पता कि पाकिस्तान ने यह बयान जारी किया है. इससे पहले दोनों राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकारों के बीच बातचीत की जानकारी किसी को नहीं थी.

आपको बता दें पाकिस्तान की ओर जारी किए बयान की भाषा और समय से भारतीय राजनयिक इस निष्कर्ष पर पहुंचे कि पाकिस्तान ने यह अमेरिकी दवाब में किया. पाकिस्तान यह भी चाहता था कि इससे दुनिया में यह संदेश जाए कि पाकिस्तान ने हमले पर त्वरित कार्रवाई की.

अगली सुबह यानि पांच दिसंबर को नसीर जनजुआ ने श्रीलंका से अजित डोभाल को एक बार फिर फोन किया. नसीर जनजुआ श्रीलंका में पाक पीएम नवाज शरीफ के साथ दौरे पर थे. इसी दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से पाक पीएम नवाज शरीफ ने फोन पर बात की थी. पीएम मोदी ने नवाज शरीफ से हमले पर सख्त प्रतिक्रिया दर्ज कराई और सख्त कार्रवाई करने की अपील की.

एबीपी न्यूज़ को सरकार के उच्च सूत्रों से जानकारी मिली है कि 15 जनवरी को होने वाली सचिव स्तर की वार्ता पर अभी कोई अंतिम निर्णय नहीं हुआ है. सूत्रों के मुताबिक अगर पाकिस्तान पठानकोट हमले पर कोई सख्त कार्रवाई नहीं करता तो ऐसे में बातचीत कैसे होगी.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: India makes stand clear to Pakistan: action on Pathankot first, talks later
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Pakistan Pathankot
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017