मानसून अगले 48 घंटों में पहुंच सकता है केरल: IMD

By: | Last Updated: Thursday, 4 June 2015 3:37 PM
indian meteorological department

नई दिल्ली: भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) ने आज कहा कि चार दिन की देरी के बाद दक्षिण पश्चिम मानसून के अगले 48 घंटे में केरल तट पर पहुंचने की संभावना है. आईएमडी ने बताया कि केरल में वष्रा की गतिविधि बढ़ गयी है और मानसून किसी भी वक्त राज्य में पहुंच सकता है.

 

केरल में मानसून के पहुंचने को देश में वष्रा के मौसम का विधिवत आगमन माना जाता है. भारत में मानसून के आगमन की सामान्यत: तारीख एक जून है.मौसम विभाग ने शुरू में कहा कि मानसून 30 मई को केरल तट पर पहुंचेगा लेकिन बाद में उसने अपनी भविष्यवाणी संशोधित करते हुए मानसून के आगमन की पांच जून बताया और इसके लिए उसकी धीमी गति को जिम्मेदार ठहराया.

 

आईएमडी ने एक बयान में कहा, ‘‘दक्षिण पूर्व अरब सागर और उसके आसपास के लक्षद्वीप क्षेत्र में आज निम्न दबाव का क्षेत्र बना हुआ है.उसके प्रभाव से केरल में वष्रा गतिविधि बढ़ गयी है.’’

 

उसने कहा, ‘‘दक्षिण पूर्व अरब सागर में चल रहे पवन भी अनुकूल होते जा रहे हैं.अगले 48 घंटों में करेल में दक्षिण पश्चिम मानसून के आगमन के लिए स्थितियां अनुकूल बनी हुई हैं.’’ निजी मौसम अनुमान एजेंसी स्काईमेट ने भी कहा कि वष्रा अगले दो दिन में तेज हो सकती है.

 

स्काईमेट ने कहा, ‘‘केरल में पिछले दो-चार दिनों से वष्रा न्यूनतम रही है लेकिन पिछले 24 घंटे में वह तेज हुई है .वष्रा गतिविधि अगले दो दिन में और तेज हो सकती है तथा राज्य एवं उसके आसपास के क्षेत्र में ज्यादा वष्रा हो सकती है.जब हम आगे बढ़ेंगे तो केरल के और अधिक हिस्सांे में अच्छी मानसून पूर्व वष्रा की संभावना है जो भारत में मानसून का आगमन है.’’

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: indian meteorological department
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017