सेना ने कबूला- नहीं है पर्याप्त गोला बारूद

By: | Last Updated: Sunday, 26 July 2015 10:13 AM
indian military

जम्मू-कश्मीर: सेना ने आज स्वीकार किया कि गोलाबारूद की कमी है, हालांकि उसने यह भी कहा कि सरकार इस मामले से अवगत है और इस मुद्दे के समाधान के प्रयास किए जा रहे हैं.

 

सेना की उत्तरी कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल डीएस हुड्डा ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘देखिए इसे संसद में बताया गया है. गोलाबारूद की कुछ कमी है और इसे किसी की ओर अथवा किसी सीमा की ओर निर्देशित मत करिए.’’ हुड्डा ने कहा कि इस कमी से सेना के रोजमर्रा के अभियानों पर कोई असर नहीं है, लेकिन युद्ध जैसी स्थिति के लिए बड़ी मात्रा में भंडारण की जरूरत होगी.

 

उन्होंने कहा, ‘‘निश्चित तौर पर इसका रोजमर्रा के अभियान पर इसका असर नहीं होने जा रहा है. हथियारों का भंडार है. परंतु अगर आप युद्ध जैसी स्थिति की ओर देखते हैं तो आपको बड़े मात्रा में जखीरे की जरूरत है. कुछ कमी है और सरकार इससे अवगत है. रक्षा मंत्रालय इससे अवगत है और (इसके निदान को लेकर) प्रयास किए जा रहे हैं.’’

 

‘वन रैंक वन पेंशन’ के क्रियान्वयन के बारे में उन्होंने कहा कि सरकार ने इसे स्वीकार किया है और ‘मैं आशावान हूं कि यह होगा.’ लेफ्टिनेंट जनरल हुड्डा ने कहा कि सेना अपने सैनिकों की जरूरतों को समझती है और वह उनकी जरूरतों को लेकर संवेदनशील है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: indian military
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017