पाक सीमा पर रूस संग भारतीय सेना ने किया ISIS से मुकाबले का युद्धाभास

By: | Last Updated: Saturday, 21 November 2015 5:43 AM
Indra-2015 Russian-Indian Joint Military Exercise

नई दिल्ली: पेरिस हमले ने दुनिया को दिखा दिया है कि वैश्विक-आतंकवाद को कोई भी देश नजरअंदाज नहीं कर सकता है. इसलिए बेहद जरूरी है कि भारत और रूस जैसे ताकतवर देश ना केवल आतंकवाद का मिलकर मुकाबला करें बल्कि पूरी दुनिया में एकीकरण और लोकतांत्रिक व्यवस्था कायम करें. ये मानना है खुद भारत और रूस की सेनाओं का जो इनदिनों राजस्थान के महाजन फील्ड रेंज में साझा युद्धभ्यास, ‘इंद्रा’ कर रहीं हैं.

 

पढ़ें : ISIS को बड़ा झटका, उसका टेलिग्राम बंद!

 

भारत और रूस की सेनाएं ऐसे समय में साझा युद्धभ्यास कर रहीं हैं जब पेरिस में आईएसआईएस के आतंकी हमले हुए हैं और रूस के विमान को आतंकियों ने मार गिराया है. 14 दिन की इस साझा सैन्य युद्धाभ्यास में दोनों देशों की सेनाओं ने आतंकविरोधी ड्रिल का कड़ा अभ्यास किया. अभ्यास 7 नवंबर को शुरू हुआ और 20 नवंबर को संपन्न.

 

इस युद्धभ्यास में दोनों सेनाओं के 250-250 सैनिकों ने हिस्सा लिया. भारतीय सेना के स्ट्राइक कोर-1 के स्पेशल फोर्स के कमांडोज और ग्रेनेडियर रेजीमेंट के जवानों ने इसमें हिस्सा लिया. तो रूस की इंडीपेंडेंट-ब्रिगेड ने युद्धभ्यास में शिरकत की. युद्धभ्यास यूएन (यानि संयुक्त राष्ट्र) के चार्टर के तहत किया गया. जिसमें एक तीसरे देश में जाकर दोनों देशों की सेनाएं मिलकर आतंकियों के खिलाफ हमला करती हैं.

 

पढ़ें : फ्रांस का असली हीरो था डीजल

 

ऐसे हुई आतंक से लड़ने की तैयारी :

 

इसके लिए पाकिस्तानी सीमा के करीब महाजन फील्ड रेंज में एक काल्पनिक गांव बनाया गया जिसमें आतंकी घुस गए हैं और गांववालों को बंधक बनाया हुआ है. आतंकी इस गांव को अपने ठिकाने के तौर पर इस्तेमाल करते हैं. गांव में दाखिल होने के लिए भारत और रूस के कमांडोज पैराशूट और हेलीकॉप्टर के जरिए आसमान से नीचे आते हैं और एक घर में छिपे आतंकियों पर अचानक हमला बोल देते हैं.

 

घरों में छिपे आतंकियों की टोह लेने के लिए ड्रोन (यूएवी) की भी मदद ली जाती है. आधुनिक हथियारों और एडवांस कम्युनिकेशन सिस्टम से लैस कमांडोज के अचानक हुए हमले से आतंकियों में हडकंप मच जाता है और वे इधर-उधर भागने लगते हैं. कुछ दूसरे घरों में छिपकर सुरक्षाबलों पर जवाबी फायरिंग करते हैं और हथगोले फेंकते हैं. लेकिन 15-20 मिनट के भीतर स्पेशल फोर्स के कमांडोज सभी आतंकियों को ढेर कर देते हैं.

 

पढ़ें : जब हमले की जगह आंखों में पट्टी बांधे मुस्लिम शख्स को गले लगाकर रोने लगे पेरिसवासी!

 

कमांडो ऑपरेशन के बाद बैक-अप टुकड़ी, घरों और मारे गए आतंकियों की तलाशी लेते हैं ताकि कोई आतंकी बच ना गया हो या कोई बम या आईईडी ना रह गई है. उन बमों को निष्कृय कर दिया जाता है. इस ऑपरेशन के बीच आतंकियों का सरगना गांव से भागने की कोशिश करता है लेकिन उसे जिंदा पकड़ लिया जाता है. सरगना के पकड़े जाने के साथ ही ऑपरेशन खत्म हो जाता है.

 

पढ़ें : इस्लामिक स्टेट ने ऐसे गिराया था रूसी प्लेन, जिसमें 224 जानें तबाह हुई थीं

 

इस युद्धभ्यास का उद्देश्य है कि दोनों देशों की सेनाएं एक दूसरे की युद्ध-शैली और कार्यशैली से कैसे सीख सकतीं हैं. क्योंकि रूसी सेना दुनिया की सबसे ताकतवर सेनाओं में से एक है तो भारतीय सेना सबसे प्रोफेशनल आर्मी मानी जाती है. भारत पिछले कई दशकों से पहले पंजाब और फिर कश्मीर और उत्तर-पूर्व में आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई लड रही है तो रूसी सेना इनदिनों आईएसआईएस के खिलाफ सीरिया में जंग लड़ रही है.

 

पढ़ें : पेरिस हमला: मास्टरमाइंड अब्देल हामिद की खुदकुशी पर सस्पेंस बरकरार

 

सीरिया में रूसी सेना आईएस के ठिकानों पर हवाई हमले कर यही है. लेकिन अगर भविष्य में रूसी सेना को ईराक और सीरिया जैसे रेगिस्तानी और मरूस्थल देशों में जमीनी हमले (ग्राउंड-स्ट्राइक) की जरूरत पड़ी तो इंद्रा-2015 युद्धभ्यास से काफी मदद मिलेगी. क्योंकि युद्धभ्यास के दौरान एक ऐसे ही किसी तीसरे देश में जाकर एक मित्र-देश की सेना के साथ मिलकर कैसे आतंकियों को नेस्तानबूत किया जा सकता है उसकी 14 दिनों की कड़ी ड्रिल की गई.

 

पढ़ें : भारत पर बड़ा खतरा, ISIS की चपेट में 150 भारतीय युवक?

 

युद्धभ्यास के दौरान भारतीय सेना की अगुवाई कर रहे स्ट्राइक कोर के जीओसी लेफ्टिनेट-जनरल शौकीन चौहान ने कहा कि भारत और रूस दोनों ही कट्टरपंथ और वैश्विक आंतकवाद से पीड़ित रहे हैं. लेकिन दोनों ही शक्तिशाली देशों की ये जिम्मेदारी बनती है कि पूरी दुनिया में एकीकरण और लोकतांत्रिक व्यवस्था को कायम करें. ले. जनरल चौहान ने कहा कि पेरिस हमले ने दिखा दिया है कि कोई भी देश आतंकवाद को नजरअंदाज नहीं कर सकता.

 

पढ़ें : Anonymous  ने जारी की गाइडलाइन, बताया कैसे करें IS की बेबसाइट हैक

 

रूसी सेना के ऑब्जर्बर, मेजर-जनरल व्लादमिर ग्रेजलोव ने कहा कि सिनाई (मिस्र) में रूसी विमान को गिराना एक आतंकी घटना है. और दोनों देश की सेनाएं इस वैश्विक दानव के खिलाफ लड़ने के लिए प्रतिबद्ध है. इस युद्धभ्यास के जरिए हम आतंकवाद के खिलाफ साझा रणनीति बना सकते हैं. आईएसआईएस के खिलाफ रूसी सेना ने सीरिया में जंग छेड़ रखी है.

 

पढ़ें : पेरिस हमले के मास्टरमाइंड ने खुदकुशी की!

 

दोनों देशों ने ‘इंद्रा’ एक्सरसाइज 2005 में शुरू की थी. इस साल दोनों देशों के बीच हुई ये सातवीं (07) एक्सरसाइज है. इस युद्धभ्यास के दौरान दोनों देशों की सेनाओं ने एक दूसरी की संस्कृति समझने की भी कोशिश की. रूसी सेना ने योगा का भी प्रशिक्षण लिया.

 

पढ़ें : धर्म के नाम पर आतंक क्यों फैलाया जा रहा है?

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Indra-2015 Russian-Indian Joint Military Exercise
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

बिहार: लालू का नीतीश पर सृजन घोटाला दबाने का आरोप, तेजस्वी की सबौर सभा में लगी धारा 144
बिहार: लालू का नीतीश पर सृजन घोटाला दबाने का आरोप, तेजस्वी की सबौर सभा में...

पटना: सृजन घोटाले को लेकर बिहार की राजनीति में संग्राम छिड़ गया है. आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद...

यूपी: बहराइच में बाढ़ में फंस गई बारात, ट्रैक्टर पर मंडप पहुंचा दूल्हा
यूपी: बहराइच में बाढ़ में फंस गई बारात, ट्रैक्टर पर मंडप पहुंचा दूल्हा

बहराइच: उत्तर प्रदेश के कई जिलों में बाढ़ आने से जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है. इस बीच बहराइच में...

बेनामी संपत्ति: लालू के बेटा-बेटी, दामाद और पत्नी के खिलाफ चार्जशीट दाखिल करेगा आयकर
बेनामी संपत्ति: लालू के बेटा-बेटी, दामाद और पत्नी के खिलाफ चार्जशीट दाखिल...

नई दिल्ली:  लालू परिवार के लिए मुश्किलें बढ़ाने वाली है. एबीपी न्यूज को जानकारी मिली है कि...

अनुप्रिया की पार्टी अपना दल की मंडल अध्यक्ष संतोषी वर्मा और उनके पति की हत्या
अनुप्रिया की पार्टी अपना दल की मंडल अध्यक्ष संतोषी वर्मा और उनके पति की...

इलाहाबाद: उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद में केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अनुप्रिया पटेल की...

गोरखपुर ट्रेजडी: डीएम की रिपोर्ट में डॉक्टर सतीश, डॉक्टर राजीव ठहरा गए जिम्मेदार
गोरखपुर ट्रेजडी: डीएम की रिपोर्ट में डॉक्टर सतीश, डॉक्टर राजीव ठहरा गए...

गोरखपुर: बीते हफ्ते गोरखपुर अस्पताल में ऑक्सीजन सप्लाई रुकने से हुई 36 बच्चों की मौत के मामले...

अगर हम सड़कों पर नमाज़ नहीं रोक सकते, तो थानों में जन्माष्टमी भी नहीं रोक सकते: CM योगी
अगर हम सड़कों पर नमाज़ नहीं रोक सकते, तो थानों में जन्माष्टमी भी नहीं रोक...

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने धार्मिक स्थलों और कांवड़ यात्रा के दौरान...

बच्चे की बलि देने वाले दंपत्ति की फांसी पर सुप्रीम कोर्ट ने लगाई रोक
बच्चे की बलि देने वाले दंपत्ति की फांसी पर सुप्रीम कोर्ट ने लगाई रोक

नई दिल्ली: तंत्र साधना के लिए 2 साल के बच्चे की बलि देने वाले दंपत्ति की फांसी पर सुप्रीम कोर्ट...

जब बेंगलुरू में इंदिरा कैन्टीन की जगह राहुल गांधी बोल गए ‘अम्मा कैन्टीन’
जब बेंगलुरू में इंदिरा कैन्टीन की जगह राहुल गांधी बोल गए ‘अम्मा कैन्टीन’

बेंगलूरू: कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने कर्नाटक सरकार की सस्ती खानपान सुविधा का उद्घाटन...

घुटने के दर्द से परेशान बुजुर्गों को तोहफा, 70% सस्ती होगी नी-रिप्लेसमेंट
घुटने के दर्द से परेशान बुजुर्गों को तोहफा, 70% सस्ती होगी नी-रिप्लेसमेंट

नई दिल्ली: घुटने के दर्द से परेशान बुजुर्गों के लिए अच्छी खबर है. मोदी सरकार ने नी-रिप्लेसमेंट...

बिहार में बाढ़ का कहर: अबतक 72 की मौत, पानी घटा पर मुश्किलें जस की तस
बिहार में बाढ़ का कहर: अबतक 72 की मौत, पानी घटा पर मुश्किलें जस की तस

पटना: पडोसी देश नेपाल और बिहार में लगातार हुई भारी बारिश के कारण अचानक आयी बाढ़ से बिहार बेहाल...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017