रेल बजट से पहले एक नजर में भारतीय रेल का 162 साल लंबा सफर

interesting facts about indian railway before rail budget

नई दिल्ली: संसद का बजट सत्र जोरदार हंगामे के साथ शुरू हो चुका है. कल 25 फरवरी को देश के रेल मंत्री सुरेश प्रभु मोदी सरकार का दूसरा रेल बजट पेश करेंगे. पूरा देश सुरेश प्रभु के ‘लाल ब्रीफकेस’ पर टकटकी लगाए है. आम जनता जहां सरकार से किराए में कमी की उम्मीद लगा रही है तो वहीं जानकारों की माने तो किराया कम होने के बजाए बढ़ने के आसार ज्यादा है.

prabhu 1

कल जब रेल मंत्री प्रभु की रेल आपके सपनों को अपनी बजट की रेल गाड़ी में बैठाकर मंजिल की ओर दौड़ेगी तो आपके मन में कई सवाल कौंधेंगे. आपके इन्हीं सवालों के जवाब हम आपके लिए लेकर आए हैं. कल पेश होने वाले पहले बजट से पहले हम आपको भारतीय रेल और रेलवे से जुड़ूी रोचक जानकारी देंगे जिसे आपके लिए जानना बेहद जरूरी है.

क्या आपको पता है भारतीय रेल में पहली बार टॉयलेट का इस्तेमाल कब हुआ? रेल बजट को आम बजट से कब अलग किया गया ? या फिर भारतीय रेल में रोज कितने लोग यात्रा करते हैं ? हम आपके लिए कुछ ऐसे ही सवालों के जवाब लेकर आए हैं. तो आइए डालते हैं एक नजर देश की पहली ट्रेन के सफर से 162 साल लंबे रेलवे के शानदार सफर पर.

देश में पहली रेल कब चली थी ?

देश में पहली बार दो पटरियों पर आम आदमी का सपना 16 अप्रैल 1853 को दौड़ा था. यह पहला सफर बॉम्बे (अब मुंबई) से ठाणे (थाने) के बीच 35 किलोमीटर लंबा था. जानकारी के मुताबिक 14 बोगी की इस ट्रेन में करीब 400 लोगों ने सफर किया था.

आखिर क्यों एशिया का सबसे बड़ा रेल नेटवर्क है भारतीय रेलवे?

आपको जनरल नॉलेज की किताब में इस सवाल का जवाब अक्सर मिल जाता होगी कि भारतीय रेलवे एशिया का सबसे बड़ा रेल नेटवर्क है. भारतीय रेलवे को यह शानदार उपलब्धि क्यों हासिल है. आपको जानकर हैरानी होगी भारत में रोजाना 12,000 ट्रेनों से करीब 2 करोड़ 50 लाख लोग यात्रा करते हैं.

इसके अलावा भारतीय रेलवे के ट्रैक्‍स का जाल 115,000 किमी तक फैला है और करीब 65,000 किमी का रूट रेलवे के तहत कवर होता है.इसके साथ ही देश में एक तिहाई माल ढुलाई अभी तक ट्रेनों के जरिए ही होती है. अगर भारतीय रेल की माल ढुलाई की व्यवस्था प्रभावित होती है तो यह सीधे सीधे देश के उत्‍पादन और विकास को प्रभावित करता है.

आम बजट से कब अलग हुआ रेल बजट?

क्या आप जनते हैं कि साल 1924 तक रेल बजट को आम बजट के साथ ही पेश किया जाया था. आपको जानकर हैरानी होगी जिस वक्त रेल बजट को आम बजट से अलग किया उस वक्त संपूर्ण बजट में रेल बजट की 70 फीसदी हिस्सेदारी थी.

 सबसे तेज और सबसे धीमी रफ्तार वाली ट्रेन

भारतीय रलवे में सबसे तेज रफ्तार ट्रेन का रिकॉर्ड भोपाल से नई दिल्ली के बीच चलने वाली शताब्दी एक्सप्रेस के नाम है. इसकी अधिकतम स्पीड 150 किलोमीटर प्रतिघंटा है. वहीं सबसे धीमी गति की ट्रेन की बात की जाए तो मेतुपलयम ऊटी नीलगिरी पैसेंजर ट्रेन देश की सबसे धीमी चलने वाली ट्रेन है. इसकी रफ्तार 10 किलोमीटर प्रति घंटा है. आपको जानकर हैरानी होगी भारतीय रेलें दिन भर में जितनी दूरी तय करती हैं, वह धरती से चांद के बीच की दूरी का लगभग साढ़े तीन गुना है.

गिनीज़ बुक में भी दर्ज है भातीय रेलवे का नाम?

जी हां कई कीर्तमान अपने नाम करने वाली भारतीय रेलवे का नाम गिनीज़ बुक में भी नाम दर्ज है. देश की राजधानी नई दिल्ली स्टेशन के नाम दुनिया के सबसे बड़े रूट रिले इंटरलॉकिंग सिस्टम का रिकॉर्ड दर्ज है. इसके साथ ही दुनिया के सबसे पुराने स्टीम इंजन से चलने वाली फेयरी क्वीन नई दिल्ली और राजस्थान के अलवर में चलती है. यह दुनिया का सबसे पुराना भाप वाला इंजन है. इस इंजन का नाम भी गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड में शामिल हो चुका है.

पहली बार ट्रेन में कब और ट्रेन कैसे बना टॉयलेट?

आज ट्रेन में शौचालय को लेकर भी नए नए प्रयोग किए जा रहे हैं. लेकिन क्या आपको पता है ट्रेन में पहली बार टॉयलेट रेल की शुरुआत के 56 साल बाद बना था. इसके बनने की कहानी भी बेहद रोचक है.

दरअसल 1909 में ओखिल चंद्र सेन नाम के यात्री ट्रेन से यात्रा कर रहे थे. इस दौरान ट्रेन में शौचालय ना होने की वदह उन्हें बहुत तकलीफ का सामना करना पड़ा. इससे परेशान ओखिल चंद्र सेन ने अपने बुरे् अनुभव को पत्र के जरिए साहिबगंज रेल डिवीजन को बताया. इसके बाद ही अग्रेज शासन में ट्रेन में शौचालय की स्थापना की गई. आपको बता दें सेन के इस लेटर की इस कॉपी को रेल म्यूजियम में संभाल कर रखा गया है.

देश के सबसे बड़े और छोटे नाम वाले स्टेशन?

ट्रेन से यात्रा के दौरान कई बार हमें अजीबोगरीब नाम वाले स्टेशनों से गुजरना पड़ता है. आपको जानकर हैरानी होगी देश में सबसे बड़े नाम वाले स्टेशन ”वेंकटनरसिंहराजुवारिपटा” की अंग्रेजी स्पेलिंग में (Venkatanarasimharajuvariipeta) में 29 अक्षर हैं. वहीं सबसे छोटे नाम वाले स्टेशन ओडिशा के ”इब” की अंग्रेजी स्पेलिंग में महज 2 अक्षर हैं.

गुजरात और महाराष्ट्र के बीच बनी है नवापुर रेलवे स्टेश की बिल्डिंग

सुनने में भले ही आपको यह अजीब लगता हो लेकिन ये सच है. भारतीय रेलवे का नवापुर रेलवे स्टेशन दो राज्यों में बना हुआ है. इस रेलवे स्टेशन का पहला आधा हिस्सा महाराष्‍ट्र में है, जबकि दूसरा आधा हिस्सा गुजरात में है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: interesting facts about indian railway before rail budget
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

सिद्धार्थनगर/बलरामपुर/गोरखपुर: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को...

पीएम मोदी ने की नेपाल के प्रधानमंत्री से बात, बाढ़ से निपटने में मदद की पेशकश की
पीएम मोदी ने की नेपाल के प्रधानमंत्री से बात, बाढ़ से निपटने में मदद की पेशकश...

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को नेपाल के अपने समकक्ष शेर बहादुर देउबा से...

एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें
एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें

1. डोकलाम विवाद के बीच पीएम नरेंद्र मोदी का चीन जाना तय हो गया है. ब्रिक्स देशों के सम्मेलन के लिए...

सरकार के रवैये से नाराज यूपी के शिक्षामित्रों ने फिर शुरू किया आंदोलन
सरकार के रवैये से नाराज यूपी के शिक्षामित्रों ने फिर शुरू किया आंदोलन

मथुरा: यूपी के शिक्षामित्र फिर से आंदोलन के रास्ते पर चल पड़े हैं. सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद...

बाढ़ से रेलवे की चाल को लगा 'ग्रहण', सात दिनों में करीब 150 करोड़ का नुकसान
बाढ़ से रेलवे की चाल को लगा 'ग्रहण', सात दिनों में करीब 150 करोड़ का नुकसान

नई दिल्ली: असम, पश्चिम बंगाल, बिहार और उत्तर प्रदेश में आई बाढ़ की वजह से भारतीय रेल को पिछले सात...

डोकलाम विवाद पर विदेश मंत्रालय ने कहा- समाधान के लिए चीन के साथ करते रहेंगे बातचीत
डोकलाम विवाद पर विदेश मंत्रालय ने कहा- समाधान के लिए चीन के साथ करते रहेंगे...

नई दिल्ली: बॉर्डर पर चीन से तनातनी और नेपाल में आई बाढ़ को लेकर शुक्रवार को विदेश मंत्रालय ने...

15 अगस्त को राष्ट्रगान नहीं गाने वाले मदरसों के खिलाफ होगी कार्रवाई, यूपी सरकार ने मंगवाए वीडियो
15 अगस्त को राष्ट्रगान नहीं गाने वाले मदरसों के खिलाफ होगी कार्रवाई, यूपी...

लखनऊ: स्वतंत्रता दिवस के मौके पर योगी सरकार ने राज्य के सभी मदरसों में राष्ट्रगान गाए जाने का...

ब्रिक्स सम्मेलन: तनातनी के बीच सितंबर के पहले हफ्ते में चीन जाएंगे पीएम मोदी
ब्रिक्स सम्मेलन: तनातनी के बीच सितंबर के पहले हफ्ते में चीन जाएंगे पीएम मोदी

नई दिल्ली: डोकलाम विवाद को लेकर चीन युद्ध का माहौल बना रहा है. इस तनाव के माहौल में पीएम नरेंद्र...

गोरखपुर ट्रेजडी: इलाहाबाद HC ने योगी सरकार से पूछा सवाल, बच्चों की मौत कैसे हुई ?
गोरखपुर ट्रेजडी: इलाहाबाद HC ने योगी सरकार से पूछा सवाल, बच्चों की मौत कैसे...

इलाहाबाद: गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में बच्चों की मौत के मामले की न्यायिक जांच की मांग को...

योगी के बयान पर बोले अखिलेश- थानों में पहले भी मनती थी जन्माष्टमी, हमने रोक नहीं लगाई
योगी के बयान पर बोले अखिलेश- थानों में पहले भी मनती थी जन्माष्टमी, हमने रोक...

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के नेता अखिलेश यादव ने मुख्यमंत्री...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017