अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस: कब, क्या और कैसे?

By: | Last Updated: Sunday, 21 June 2015 12:26 PM
International Yoga Day

नई दिल्ली: अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर देश ही नहीं विदेशो में भी लोगों ने बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया. आज जहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संयुक्त राष्ट्र अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के शुभारंभ पर राजपथ पर रिकॉर्ड तोड़ 37,000 हजार योगार्थियों के साथ एक योग कार्यक्रम की अगुवाई की. वहीं विश्व के दूसरे देशो में भी योग के प्रति लोगों में काफी उत्सुकता देखी गई.

 

मोदी ने की अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की अगुवाई

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को संयुक्त राष्ट्र अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के शुभारंभ पर राजपथ पर रिकॉर्ड तोड़ 37,000 हजार योगार्थियों के साथ एक योग कार्यक्रम की अगुवाई की. मोदी ने राजपथ पर अपने भाषण में 21 जून को मानव मन को शांति और सौहाद्र्र का प्रशिक्षण देने के युग की शुरुआत बताया.

 

मोदी ने अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के शुभारंभ के प्रतीक एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि योग न केवल शरीर को लचीला बनाने का कसरत है, बल्कि यह आंतरिक विकास का मार्ग भी है. राजपथ पर पूरी बांह के ढीले-ढाले सफेद कुर्ते और तिरंगे वाले स्टॉल में योग करते दिखे मोदी ने कहा, “यह शांति और सौहाद्र के लिए मानव मन को प्रशिक्षण देने के नए युग का प्रतीक है.” अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर आधिकारिक कार्यक्रमों में देशभर से 20 करोड़ से ज्यादा लोगों ने भाग लिया. योग दिवस पर भारतीय मिशनों और योग केंद्रों द्वारा 192 देशों में भी योग संबंधी कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं.

 

राजपथ पर योग कार्यक्रम में अमेरिका के राजदूत रिचर्ड वर्मा, नेपाल के राजदूत दीप कुमार उपाध्याय, अफगानिस्तान के राजदूत शैदा मोहम्मद अब्दाली, असंख्य विदेशी राजनयिक और भारत में पढ़ रहे विदेशी विद्यार्थियों ने विभिन्न योग किए. योग कार्यक्रम में उपस्थित नामचीन हस्तियों में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया, दिल्ली के उप राज्यपाल नजीब जंग और दिल्ली की पूर्व शीर्ष पुलिस अधिकारी किरण बेदी सहित अन्य लोगों के नाम शामिल हैं.

 

मोदी ने राजपथ पर उमड़े जनसैलाब के बारे में कहा, “क्या किसी ने कभी सोचा था कि राजपथ योगपथ बन सकता है?” मोदी ने रविवार को ‘कॉमन योग प्रोटोकॉल’ में दर्ज सभी 35 आसन किए. राजपथ पर आयोजित डेढ़ घंटे के योग कार्यक्रम की शुरुआत प्रधानमंत्री के आगमन के साथ करीब 6.45 बजे हुई. यह आठ बजे संपन्न हुआ. इसके कुछ मिनट बाद ही बारिश की फुहारों ने राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली को भिगो दिया.

 

मुस्लिम योगार्थियों ने भी इस कार्यक्रम में पूरे उत्साह के साथ भाग लिया. विवेक विहार स्थित सरकारी स्कूल के छात्र मोहम्मद असीम(11) ने कहा कि उसे योग करके मजा आया. वहीं, अमेरिका के राजनयिक ने कहा कि उन्हें योग सत्र ‘बढ़िया’ लगा और वह इसमें शामिल होकर खुश हैं. बुर्किना फासो के राजनयिक इदरिस रउआ औएद्राओगो पिछले 27 वर्षो से योगाभ्यास कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि उन्हें इस कार्यक्रम का हिस्सा बनकर खुशी हुई.

 

राजपथ पर 35 मिनट में 35 योगासन

 

राजपथ पर रविवार को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के उपलक्ष्य में आयोजित एक योग सत्र में प्रतिभागियों ने 35 मिनट में 35 योगासन किए. अधिकारियों ने कहा कि आयुष मंत्रालय द्वारा तय योग प्रोटोकॉल के अनुसार, योग सत्र में प्राणायाम और ध्यान (35 मिनट) सहित अन्य व्यायाम शामिल रहे. विशाल योग कार्यक्रम एक प्रार्थना और शरीर को लचीला बनाने के हल्के-फुल्के व्यायामों के साथ शुरू हुआ. इस दौरान ताड़ासन, वक्रासन, भद्रासन और भुजंगासन सहित अन्य योगासन करवाए गए.

 

योग दिवस नए युग के प्रारंभ का प्रतीक : मोदी

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को हजारों योगार्थियों के साथ यहां राजपथ पर योग किया. उन्होंने कहा कि 21 जून का दिन मानव मन को शांति और सौहाद्र्र का प्रशिक्षण देने के युग की शुरुआत है. मोदी ने राजपथ पर अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के शुभारंभ के प्रतीक एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि योग न केवल शरीर को लचीला बनाने की कसरत है, बल्कि यह आंतरिक विकास का मार्ग भी है.

 

राजपथ पर सफेद कुर्ते में योग करते दिखे मोदी ने कहा, “यह शांति और सौहाद्र्र के लिए मानव मन को प्रशिक्षण देने के नए युग का प्रतीक है.” राजपथ पर योग कार्यक्रम में करीब 37,000 लोगों ने बढ़-चढ़कर भाग लिया. मोदी ने अपने भाषण की शुरुआत करते हुए लोगों से सवाल किया, “क्या किसी ने कभी सोचा था कि राजपथ योगपथ बन सकता है?” उन्होंने कहा, “संयुक्त राष्ट्र आज अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मना रहा है. मेरे ख्याल से यह एक साधारण दिन नहीं, बल्कि शांति और सौहाद्र्र पाने का एक प्रयास है.”

 

मोदी ने कहा, “मैं उन गुरुओं को नमन करता हूं, जो सदियों से इस परंपरा को जीवित रखे हुए हैं.” उन्होंने कहा, “योग एक शारीरिक गतिविधि नहीं है, अगर ऐसा होता तो सर्कस में काम कर रहे लोग योगी कहलाते.” योग दिवस पर अरब राष्ट्र सहित 192 देशों में योग संबंधी कार्यक्रमों का आयोजन हो रहा है.भारत आज एक तय जगह पर 37,000 लोगों के साथ सबसे बड़ी योग सभा आयोजित करने के अलावा कई अन्य रिकॉर्ड भी तोड़ेगा.

 

योग के लिए साथ हुए मोदी और केजरीवाल

 

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर यहां राजपथ पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित हजारों लोगों के साथ योग शिविर में हिस्सा लिया. केजरीवाल ने कहा कि योग करने से तनाव से मुक्ति मिलती है. उन्होंने कहा, “योग अच्छी चीज है. हर किसी को योग करना चाहिए.”

 

केजरीवाल ने फरवरी में दिल्ली विधानसभा चुनाव प्रचार के बाद विपासना ध्यान शिविर में समय बिताया था. मुख्यमंत्री का पदभार संभालने के बाद भी उन्होंने बेंगलुरू में प्राकृतिक चिकित्सा शिविर का लाभ लिया था, जिसमें योग भी शामिल है.

 

उपराज्यपाल नजीब जंग एवं उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने भी राजपथ पर आयोजित योग शिविर में हिस्सा लिया. अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर रविवार को देशभर में अलग-अलग जिलों, शहरों और कस्बों सहित विश्वभर के 192 देशों में योग शिविर और योग कार्यक्रम आयोजित किए गए.

 

राजपथ पर योग कार्यक्रम ने तोड़ा रिकॉर्ड

 

दिल्ली के राजपथ पर रविवार को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के उपलक्ष्य में आयोजित एक योग सत्र में करीब 37 हजार लोगों ने भाग लेकर एक कीर्तिमान रच दिया. आयुष मंत्रालय के अधिकारियों ने कहा कि उन्हें मध्य दिल्ली स्थित राजपथ और इसके आसपार के इलाकों में योग कार्यक्रम में हजारों लोगों के शामिल होने की उम्मीद है.

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी लोगों के साथ योग किया. योग सत्र के आयोजकों ने सबसे बड़ी योग सभा आयोजित करने के गिनीज रिकॉर्ड के लिए आवेदन किया है. फिलहाल सबसे बड़ा योग कार्यक्रम आयोजित करने का गिनीज रिकॉर्ड विवेकानंद केंद्र के नाम है. इस केंद्र ने 19 नवंबर, 2005 को ग्वालियर में एक योग कार्यक्रम रखा था, जिसमें 29,973 लोगों ने प्रतिभाग किया था.

 

चंडीगढ़ में पत्रकारों ने किया योगासन

 

चंडीगढ़ में रविवार को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर पत्रकारों ने योगासन किया. चंडीगढ़ प्रेस क्लब परिसर में रविवार को आयोजित योग कार्यक्रम में करीब 25 पत्रकारों एवं उनके परिवारों ने हिस्सा लिया. प्रेस क्लब के महासचिव नलिन आचार्य ने आईएएनएस को बताया, “प्रत्येक वर्ष जून में हम क्लब के सदस्यों एवं उनके परिवार के लिए 15 दिनों का योग शिविर आयोजित करते हैं. इस साल अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर हमने योग शिविर आयोजित किया है.”

 

राजपथ पर विदेशी प्रतिभागियों ने किया शीर्षासन

 

राजपथ पर रविवार को विदेशी राजनयिक, गणमान्य हस्तियां और अन्य अतिथि जहां अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस से जुड़े आधिकारिक कार्यक्रम की शुरुआत का इंतजार कर रहे थे, वहीं अचानक फ्रांसीसी प्रतिभागियों को बेहद दक्षता के साथ शीर्षासन की मुद्रा में आते देखा गया. फ्रांसीसी दूतावास की कैमिली ने बेहद दक्षता के साथ शीर्षासन किया, जिसके बाद कुछ और लोगों ने शीर्षासन किया. यह कांगो गणराज्य के मपियाना थे, जिन्होंने बेहद उत्कृष्टता के साथ योगासन किया.

 

300 विदेशी अतिथियों में राजनयिक, विद्यार्थी मौजूद थे, जिनमें से अधिकांश ने आईएएनएस संवाददाता को बताया कि वे नियमित रूप से योग नहीं करते.  लेकिन कुछ लोग नियमित योग करते हैं और वे इसमें पारंगत हैं. फ्रांसीसी दूतावास की कैमिली ने शीर्षासन बेहद दक्षता से किया, और उसी अवस्था में कुछ मिनट तक बनी रहीं.

 

कैमिली ने बताया, “मैंने शिवानंद हठ योग केंद्र से योग सीखा है.” कैमिली ने बताया कि वह पिछले 10 सालों से योगाभ्यास कर रही हैं और न्यूयार्क में रहने के दौरान उन्होंने योग सीखा. उन्होंने बताया कि यह उन्हें लाभदायी लगता है. उन्होंने कहा, “मैं सप्ताह में चार दिन एक-एक घंटे योग करती हूं.”

 

स्टूडेंट ऑफ लवली प्रोफेशनल युनिवर्सिटी के छात्र मपियाना ने कहा कि वह इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहे हैं और योग का आनंद ले रहे हैं. विदेशी नागरिकों की भीड़ में कुछ ऐसे भी थे जो योग में पारंगत थे. बुर्कियाना फासो के राजदूत इदरिस रौवा ओएड्राओगो के आसपास उनके प्रशंसक मौजूद थे. इदरिस ने कहा कि उन्हें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के लिए तय 35 आसन बेहद सामान्य लगे.

 

जामिया मिलिया इस्लामिया कॉलेज के आठ विदेशी छात्र-छात्राओं ने भी कार्यक्रम में हिस्सा लिया. अफगानिस्तान की लीजा दार्विश कानून की छात्रा हैं. लीजा ने सिर पर हिजाब पहन रखा था. उन्होंने कहा कि उन्हें योग करना पसंद है, लेकिन वह कभी-कभी करती हैं.

 

लीजा ने बताया, “मैं कभी-कभार योग करती हूं.” इराक के अमर आरिफ रासायन शास्त्र में शोध कर रहे हैं और कहते हैं कि उन्हें भारत बहुत पसंद है. नाइजीरिया की हेलन गौतमबुद्ध नगर स्थित गलगोटिया युनिवर्सिटी से नर्सिग की पढ़ाई कर रही हैं. उन्होंने बताया कि उनके विश्वविद्यालय के आठ विद्यार्थियों को आमंत्रित किया गया था.

 

मध्य कमान के 9500 सैन्य कर्मियों ने योग किया

 

सुरक्षा के अलावा राष्ट्रीय विरासत और परंपराओं के प्रहरी की अपनी छवि को साकार करते हुए मध्य कमान ने रविवार को बड़े उत्साह एवं जोश के साथ अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया गया.लखनऊ छावनी में अलग-अलग स्थानों पर आयोजित योगाभ्यास में मध्य कमान के सभी कर्मियों ने भाग लिया. वरिष्ठ सैन्य अधिकारियों के नेतृत्व में लखनऊ छावनी स्थित सूर्या खेल परिसर, एएमसी सेंटर एवं कालेज तथा ग्यारहवीं गोरखा राइफल्स रेजिमेंटल सेंटर में आयोजित योगाभ्यास में 9,500 से अधिक सैन्य कर्मियों ने भाग लिया.

 

इस अवसर पर लखनऊ छावनी में आयोजित योगाभ्यास कार्यक्रम में बड़ी संख्या में युवाओं एवं बुजुर्गो सहित सैन्य एवं असैन्यकर्मियों के परिवारों ने जोश एवं उल्लास के साथ भाग लिया. इसी प्रकार मध्य कमान के अंतर्गत आने वाले परिक्षेत्रों में स्थित सैन्य यूनिटों एवं फारर्मेशनों में भी योगाभ्यास आयोजित किया गया, जिसमे सैन्यकर्मियों ने बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया. वैसे तो सेना पहले से ही योग के प्रति सजग है, फिर भी आगामी अपने नियमित शारीरिक प्रशिक्षण एवं अभ्यासों में योग को शामिल करने के लिए तत्पर है.

 

योग में मानवता की भलाई की शक्ति : राष्ट्रपति

 

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने रविवार को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर कहा कि योग कला के साथ विज्ञान भी है और यह मानवता की भलाई की उपचारात्मक और निवारक शक्तियां रखता है. मुखर्जी ने राष्ट्रपति भवन में एक विशाल योग कार्यक्रम का शुभारंभ किया. उन्होंने कहा कि योग आधुनिक जीवनशैली से संबंधित तनावों एवं परेशानियों की रोकथाम और उनसे बचाने में मदद कर सकता है.

 

राष्ट्रपति ने कहा, “योग कला के साथ ही एक विज्ञान भी है. इसमें मानवता की भलाई से संबंधित और आधुनिक जीवनशैली से संबंधित तनावों एवं अवसादों के प्रबंधन की उपचारात्मक शक्तियों के साथ ही निवारक शक्तियां भी हैं.” मुखर्जी ने इस मौके पर अपनी शुभकामनाएं देते हुए कहा कि भारत योग का घर है. यहां सदियों से अधिक समय से योग किया जाता आ रहा है.

 

राष्ट्रपति ने इस बात पर खुशी जाहिर की कि राष्ट्रपति भवन के कई बाशिंदे अर्से से योगाभ्यास कर रहे हैं और अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस उत्सव में जोशोखरोश के साथ शामिल हुए. राष्ट्रपति भवन के करीब 1,000 निवासियों और स्टाफ ने विशाल योग सत्र में भाग लिया. योग सत्र कार्यक्रम मोरारजी देसाई नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ योग के सहयोग से आयोजित किया गया था. अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की तैयारी के लिए राष्ट्रपति भवन के बाशिंदों के लिए एक से 20 जून, 2015 तक योग कक्षाएं चलाई गई थीं.

 

राजस्थान : वसुंधरा राजे ने 30 हजार लोगों के बीच किया योग

 

इन दिनों विवादों में घिरी हुईं राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने रविवार को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर राजधानी जयपुर में आयोजित योग कार्यक्रम में हिस्सा लिया. एक अधिकारी ने बताया, “करीब 30,000 लोगों के योग करने के लिए प्रबंध किए गए थे और स्टेडियम लोगों से खचाखच भरा था.”

 

लोग बड़ी संख्या में सवाई मान सिंह (एसएमएस) स्टेडिम में जमा हुए थे, जहां अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर मुख्य कार्यक्रम आयोजित किया गया था. अधिकारी ने आगे बताया, “हमारी मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे एवं स्वास्थ्य मंत्री राजेंद्र राठौर ने भी योग में हिस्सा लिया. कार्यक्रम में लोगों को योग सिखाने के लिए योग गुरु भी मौजूद थे. कार्यक्रम 30-40 मिनट तक चला.”

 

राज्य के अन्य 33 जिलों में भी अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर योग कार्यक्रम आयोजित किए गए.राज्य सरकार के अधिकारियों ने दावा किया कि राज्य भर में आयोजित अलग अलग योग कार्यक्रमों में लाखों लोगों ने हिस्सा लिया. एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस को सफल बनाने के लिए करीब तीन हजार अधिकारियों, सैनिकों और उनके परिवारों ने 61 कैवेलरी पोलो ग्राउंड पर योगासन किया.

 

वसुंधरा ने शनिवार को कहा था कि योग इंसान को तनाव से राहत देता है और और चिंताओं से मुक्त करता है. वसुंधरा ने एक बयान में कहा, “श्वसन क्रियाओं, ध्यान और आसान से व्यायाम से इंसान हमेशा स्वस्थ और खुशहाल रह सकता है.”

 

हरियाणा के मुख्यमंत्री ने ट्रैकसूट में किया योग

 

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने रविवार को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के शुभारंभ के प्रतीक राज्य स्तरीय योग कार्यक्रमों में भाग लिया. योग कार्यक्रमों में 20,000 लोगों ने योगासन किए. योग कार्यक्रम में खट्टर ट्रैकसूट पहने नजर आए. योगार्थियों में सरकारी कर्मचारी, विद्यार्थी और स्थानीय लोग शामिल रहे.

 

खट्टर के विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र में योग कार्यक्रम में भाग लेने वाली प्रमुख हस्तियों में योग गुरु बाबा रामदेव के करीबी सहयोगी बाल कृष्ण शामिल रहे. खट्टर ने रोजाना की भांति योग किया. वह कहते हैं कि योग उन्हें शांत और संतुलित बनाए रखने में मदद करता है. मुख्यमंत्री ने पूर्व में आईएएनएस को बताया था, “योग एक महान गुरु है. योग व्यक्ति के शरीर, मन और मानस को समक्रमिक बनाने में मदद करता है.”

 

पटना में अमित शाह ने किया योग कार्यक्रम का शुभारंभ

 

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर रविवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने बिहार की राजधानी पटना के मोईनुल हक स्टेडियम में योग दिवस कार्यक्रम का शुभारंभ किया. योग दिवस के मौके पर स्टेडियम में करीब 20 हजार लोगों ने एक साथ योग किया. कार्यक्रम में महिलाएं और बच्चे भी बड़ी संख्या में शामिल थे. शाह ने योग कार्यक्रम का शुभारंभ करते हुए कहा, “योग से भारतीय संस्कृति का दुनिया में मान बढ़ा है. योग पूरी दुनिया को जोड़ने का महत्वपूर्ण कारक बन गया है.”

 

शाह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भारतीय संस्कृति की धरोहर योग को संयुक्त राष्ट्र संघ से मान्यता दिलाने के लिए बधाई दी और आशा जताई कि आज जहां पूरी दुनिया में संघर्ष हो रहा है, वहीं योग ‘वसुधव कुटुंबकम’ की उक्ति को चरितार्थ करेगा. अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर आयोजित कार्यक्रम में यहां बिहार की भाजपा इकाई के कई प्रमुख नेता भी उपस्थित थे.

 

योग करें स्वस्थ रहें : चौहान

 

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रविवार को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर स्वस्थ रहने के लिए योग करने का आह्वान किया. उन्होंने कहा कि योग से हरएक अंग-प्रत्यंग का व्यायाम होता है और शरीर पूरी तरह स्वस्थ रहता है, इससे मन भी प्रसन्न रहता है. चौहान ने राजधानी भोपाल के लाल परेड मैदान पर अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लिया और योग भी किया. इस मौके पर चौहान के साथ राज्य सरकार के मंत्रियों, विधायकों, अधिकारियों और स्कूली बच्चों ने भी योग किया.

 

चौहान ने कहा, “आज का दिन हमारे लिए प्रसन्नता व गर्व का दिन है, क्योंकि पूरी दुनिया ने इस दिन को योग दिवस के रूप मेंअपनाया है. योग लोगों को जोड़ने का काम करता है. एक तरफ यह शरीर को स्वस्थ और मन को प्रसन्न रखता है, वहीं दूसरी ओर लोगों को आपस में जोड़ता भी है.

 

चौहान ने कहा कि योग को बढ़ावा देने के लिए राज्य सरकार की ओर से हर संभव प्रयास किए जाएंगे. राजधानी के अलावा राज्य के अन्य स्थानों पर भी योग दिवस पर कार्यक्रम आयोजित किए गए. वहीं इंदौर में नगरीय प्रशासन मंत्री और भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय कार्यक्रम में साइकिल से पहुंचे और योग कार्यक्रम में हिस्सा लिया.

 

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री, मंत्रियों का विजयवाड़ा में योग

 

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन. चंद्रबाबू नायडू ने रविवार को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर योग कार्यक्रम में हिस्सा लिया. उन्होंने इसके प्रचार-प्रसार के लिए 25 करोड़ रुपये की विशेष कोष की घोषणा की. नायडू ने विशेषज्ञों के मार्गदर्शन में अपने मंत्रिमंडल सहयोगियों, अधिकारियों और स्कूली विद्यार्थियों के साथ विभिन्न योगासन किए.

 

मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर प्रतिभागियों के साथ शपथ भी ली कि वे तनावरहित जीवन जीने के लिए योग करेंगे. नायडू ने कहा कि उनकी सरकार योग के प्रचार के लिए कोई भी धनराशि खर्च करने के लिए तैयार है, क्योंकि यह स्वास्थ्य, समृद्धि और धन निर्माण में सर्वोत्तम निवेश है.

 

तेलुगू देशम पार्टी (तदेपा) के प्रमुख ने कहा कि योग का अभूतपूर्व लाभ है, क्योंकि यह बीमारियों को रोकने, तनाव और अवसाद को कम करने, आत्मानुशासन और एकाग्रता बढ़ाने में मदद करता है. उन्होंने कहा, “योग हमारे जीवन का हिस्सा है. यह हमारे पूर्वजों द्वारा हमें दी गई सबसे बड़ी संपत्ति है. यह धर्म, जाति, क्षेत्र और आर्थिक दर्जे से ऊपर है.”

 

नायडू ने योग को वैश्विक पहचान दिलाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रशंसा की. उन्होंने कहा कि यह प्रधामंत्री मोदी के ही प्रयास हैं कि संयुक्त राष्ट्र ने 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के रूप में मनाने का ऐलान किया. इसके समर्थन में कई देश आगे आए हैं.

 

आडवाणी, स्मृति ने बारिश के बीच किया योग

 

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने रविवार को हिमाचल प्रदेश में बारिश के बावजूद योग शिविरों में प्रतिभाग किया. रविवार सुबह हिमाचल प्रदेश के शिमला शहर में आयोजित योग शिविर में सरकारी और सेवानिवृत्त कर्मचारियों, विद्यार्थियों और पर्यटकों सहित करीब 1,000 लोगों ने शिरकत की. केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने रुक-रुक कर पड़ रहीं रिमझिम फुहारों के बावजूद शिविर में भाग लिया. इस मौके पर स्थानीय विधायक सुरेश भारद्वाज भी मौजूद थे.

 

वरिष्ठ भाजपा नेता आडवाणी ने रिमझिम फुहारों के बावजूद पालमपुर शहर में योग शिविर में शिरकत की. अपने परिवार के साथ छुट्टी मनाने शिमला आए दिल्ली निवासी पर्यटक पंकज सिन्हा ने योग संबंधी कार्यक्रमों के बारे में प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि ‘क्या शांतिपूर्ण एवं आरामदायक सुबह है.’

 

राज्य सरकार ने स्कूलों, कॉलेजों, विश्वविद्यालयों, जनता, योग संस्थानों, पुलिस कर्मियों, एनसीसी कैडेट्स, नेशनल सर्विस स्कीम (एनएसएस) स्वयंसेवकों और नेहरू युवा केंद्र को शामिल कर अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाने की घोषणा की थी.

 

स्मृति ईरानी ने यहां ऐतिहासिक रिज में आर्ट ऑफ लिविंग फाउंडेशन द्वारा आयोजित योग सत्र में भी भाग लिया, जिसमें 500 से ज्यादा लोग पहुंचे. भाजपा नेता और दो बार मुख्यमंत्री रह चुके प्रेम कुमार धूमल ने अपने गृह निर्वाचन क्षेत्र हमीरपुर शहर में आयोजित एक योग शिविर में भाग लिया.

 

महाराष्ट्र में भारी बारिश के बीच मनाया विश्व योग दिवस

 

महाराष्ट्र में रविवार को भारी बारिश के बीच हजारों वरिष्ठ नागरिकों, युवाओं, नामचीन हस्तियों, विद्यार्थियों और आम लोगों ने जोश के साथ अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस में हिस्सा लिया. मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के नेतृत्व में नागपुर के यशवंत स्टेडियम में 21,000 से अधिक लोग एकत्रित हुए.

 

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रदेश अध्यक्ष रावसाहेब दानवे और अन्य ने योग कार्यक्रम में हिस्सा लिया. इस कार्यक्रम का समन्वय राज्य की प्रवक्ता शैना एन.सी और अन्य ने दक्षिण मुंबई के मरीन ड्राइव इलाके में किया.

 

इस दौरान बड़ी संख्या में लोगों ने योग किया. ये लोग अपने साथ चटाई लेकर पहुंचे थे. राज्य की विभिन्न जेलों में भी इसी तरह के कार्यक्रम आयोजित किए गए, जिसमें नागपुर केंद्रीय कारावास शामिल है. यहां फडणवीस ने दौरा कर कैदियों से योग करने के लिए कहा.

 

पटना : शाह ने कार्यक्रम का शुभारंभ किया, नहीं किया योग

 

पटना, 21 जून (आईएएनएस)| अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर रविवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने पटना के मोईनुल हक स्टेडियम में योग दिवस कार्यक्रम का शुभारंभ तो किया परंतु योग नहीं किया. यद्यपि योग दिवस के मौके पर स्टेडियम में मौजूद करीब 20 हजार लोगों ने एक साथ योग किया.

 

कार्यक्रम में महिलाएं और बच्चे भी बड़ी संख्या में शामिल हुए. शाह ने स्टेडियम में दीप प्रज्जवलन के साथ कार्यक्रम का शुभारंभ किया. सबसे पहले प्रणवगमन और प्रार्थना से कार्यक्रम की शुरुआत हुई. शाह हालांकि पूरे कार्यक्रम के दौरान योग गुरुओं के साथ मंच पर उपस्थित रहे, लेकिन कोई भी योगासन नहीं किया.  शाह ने कार्यक्रम में कहा, “योग से भारतीय संस्कृति का दुनिया में मान बढ़ा है. योग पूरी दुनिया को जोड़ने का एक महत्वपूर्ण कारक बन गया है.”

 

शाह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भारतीय संस्कृति की धरोहर योग को संयुक्त राष्ट्र संघ से मान्यता दिलाने के लिए बधाई दी और आशा जताई कि आज जहां पूरी दुनिया में संघर्ष हो रहा है, वहीं योग ‘वसुधव कुटुंबकम’ की उक्ति को चरितार्थ करेगा. अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष नंद किशोर यादव, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष मंगल पांडेय, सी पी ठाकुर सहित कई नेता उपस्थित थे.

 

असम में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का आयोजन

 

असम में रविवार को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर हजारों लोगों ने योग किया. इस अवसर पर राज्य में विभिन्न स्थानों पर कार्यक्रम आयोजित किए गए. राज्य स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग ने यहां सारुसाजय इनडोर स्टेडियम में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का कार्यक्रम आयोजित किया.

 

शहर में लतासिल खेल मैदान में विभिन्न संगठनों और संस्थानों ने बड़े पैमाने पर योग कार्यक्रम आयोजित किए. खानापाड़ा में असम पशु चिकित्सा महाविद्यालय के खेल मैदान, श्रीमंत शंकरदेव कलाश्रेष्ठ और शहर के अन्य स्थानों पर ये कार्यक्रम आयोजित किए गए.

 

योग गुरु देवाजीत नाथ ने प्रतिभागियों के समक्ष विभिन्न योग आसन किए, जिसके बाद हजारों प्रतिभागियों ने लगभग 35 मिनट तक उनका अनुसरण किया. केंद्रीय खेल एवं युवा मामलों के मंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने खानापाड़ा के पशु चिकित्सा महाविद्यालय के खेल मैदान में योग कार्यक्रम में हिस्सा लिया.

 

सोनोवाल ने कहा, “योग विश्व को दिया गया हमारे देश का उपहार है. हम खुश हैं कि संयुक्त राष्ट्र ने इस दिन को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के रूप में घोषित किया और मुझे उम्मीद है कि योग के जरिए भावी पीढ़ियों के शरीर और मन स्वस्थ होंगे.” गुवाहाटी से लोकसभा सांसद और भाजपा के उपाध्यक्ष बिजॉय चक्रबर्ती ने पशु चिकित्सा महाविद्यालय के खेल मैदान में आयोजित योग कार्यक्रम में हिस्सा लिया.

 

पंजाब : हरसिमरत बादल ने योग कार्यक्रम में दर्ज कराई उपस्थिति

 

केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण मंत्री हरसिमरत बादल ने रविवार को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर पंजाब में आयोजित योग कार्यक्रम में हिस्सा लिया. पंजाब के फजिलका में आयोजित राज्य स्तरीय योग कार्यक्रम में हरसिमरत और स्वास्थ्य मंत्री सुरजीत कुमार जयानी शामिल हुए.

 

वहीं, सिखों की पावन नगरी अमृतसर में आयोजित एक अन्य राज्य स्तरीय कार्यक्रम में राज्य के कैबिनेट मंत्रियों ने हिस्सा लिया. दोनों शहरों में हजारों स्थानीय निवासियों, एनसीसी कैडेट और सरकारी अधिकारियों ने योग कार्यक्रम में हिस्सा लिया.

 

उप मुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल ने शनिवर को कांग्रेस को आड़े हाथों लेते हुए कहा था कि कांग्रेस अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस को राजनीतिक रंग देने में जुटी है. उन्होंने अमृतसर में कहा, “इस कार्यक्रम को किसी तरह का राजनीति या धार्मिक रंग नहीं देना चाहिए.”

 

योग एक-दूसरे से जोड़ने की प्रक्रिया: राजनाथ

 

उत्तर प्रदेश में रविवार को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर लाखों लोगों ने निरोग रहने का संकल्प लिया. राजधानी लखनऊ में केंद्रीय गृह मंत्री तथा लखनऊ से सांसद राजनाथ सिंह ने के डी सिंह बाबू स्टेडियम में आयोजित योग शिविर में भाग लिया. राज्यभर में कई केंद्रीय मंत्रियों व सांसदों ने अलग-अलग स्थानों पर लोगों के साथ योग किया.

 

राजनाथ सिंह ने इस अवसर पर कहा कि योग लोगों को एक दूसरे से जोड़ने की एक प्रक्रिया है. इस वर्ष विश्व के कई देशों में योग दिवस पर कार्यक्रम आयोजित किए गए हैं. योग समाज से समाज को जोड़ता है.

 

उन्होंने कहा, “हमारे देश में पुरातन समय से ही इस विधा को पहचान हासिल है. हमारे देश की चिकित्सा पद्घति आयुर्वेद को अभी तक 151 देशों ने मान्यता दी है और अपनाया है.” लखनऊ में के डी सिंह बाबू स्टेडियम में राजनाथ सिंह के साथ पूर्व सांसद लालजी टंडन भी मौजूद थे.

 

इस बीच उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने लखनऊ के स्वर्ण जयंती पार्क में आयोजित योग शिविर में भाग लिया. राजधानी के लोहिया पार्क, जनेश्वर मिश्र पार्क तथा गोमती नगर व इंदिरा नगर में जगह-जगह पर योग शिविर आयोजित किए गए.

 

केंद्रीय सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योग मंत्री कलराज मिश्र वाराणसी में तथा भाजपा प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मीकांत बाजपेयी मेरठ में योग दिवस पर आयोजित कार्यक्रमों में मौजूद रहे.

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में योग दिवस की धूम रही. यहां भारत माता मंदिर के साथ बनारस हिंदू विश्वविद्यालय तथा अस्सीघाट पर लोगों ने योग किया. योग शिविर में मंत्री कलराज मिश्र भी मौजूद रहे.

 

नोएडा स्टेडियम में योग दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में केंद्रीय पर्यटन मंत्री तथा नोएडा से सांसद महेश शर्मा ने भी हजारों लोगों के साथ योग कार्यक्रम में हिस्सा लिया. शर्मा ने इस मौके पर कहा कि योग से मन की शांति मिलती है.

 

गाजियाबाद में केंद्रीय मंत्री वी. के. सिंह ने आईटीएस कालेज के मैदान में लगे योग शिविर में भाग लिया.  फैजाबाद के स्पोर्ट्स स्टेडियम में पंतजलि योग पीठ ने योग दिवस पर कार्यक्रम आयोजित किया. बांदा में जीआईसी मैदान में योग शिविर लगाया गया.

 

आगरा में योग दिवस पर पार्को में लोगों की भारी भीड़ देखी गई. आगरा कालेज ग्राउंड पर भाजपा के उत्तर प्रदेश प्रभारी ओम माथुर मुख्य अतिथि थे.  वहीं, आगरा केंद्रीय कारागार में छह सौ से अधिक कैदियों ने एक साथ योग किया.

 

लखनऊ में राजनाथ ने योग दिवस कार्यक्रम की अगुवाई की

 

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस को सफल बनाने के लिए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती है. एक तरफ जहां गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने लखनऊ में योग कार्यक्रम की शुरूआत की, वहीं दूसरी ओर बनारस के निवेदिता स्कूल में संघ प्रमुख मोहन भागवत योग करवाने के लिए खुद मौजूद रहे.

 

इसी क्रम में उप्र के अलग-अलग शहरों में योग को सफल बनाने के लिए भाजपा सांसद या मंत्री मौजूद रहे. पार्कों, स्कूलों, कॉलेजों और संस्थानों में योग का आयोजन किया गया.  सुबह ही लोग योग के लिए घरों से निकल गए थे. एक साथ इतनी बड़ी संख्या में जुटने वाली भीड़ को देखते हुए सुरक्षा के भी कड़े इंतजाम किए गए थे. किसी प्रकार की असुविधा न हो इसके लिए जगह-जगह पुलिस बल तैनात किया गया था.

 

राजधानी लखनऊ में योग को लेकर लोगों में खासा उत्साह दिखा. केडी सिंह बाबू स्टेडियम के अलावा शहर के अन्य पार्कों, स्कूलों और कॉलेजों मे योग का आयोजन किया गया. सुबह से ही लोगों का यहां आना शुरू हो गया था.

 

स्टेडियम में करीब चार से पांच हजार लोग योग के लिए जुटे थे. ज्यादा भीड़ आने की वजह से स्टेडियम का मार्ग भी बंद कर दिया गया था.  केंद्रीय गृहमंत्री और लखनऊ से सांसद राजनाथ सिंह और पूर्व सांसद लालजी टंडन ने स्टेडियम पहुंच लोगों को योग करवाया.

 

इस दौरान राजनाथ सिंह ने कहा कि योग विश्व को सबसे बड़ा उपहार है. उन्होंने कहा कि बौद्ध धर्म और योग पूरी तरह से व्याप्त है. उन्होंने कहा कि योग सीमाओं से परे है. भारतीय क्रिकेटर आर.पी.सिंह और महंत देव्यागिरी भी मौजूद रहीं.

 

बाबा विश्वनाथ की नगरी काशी में भी योगा को लेकर काफी तैयारियां की गई थीं. गंगा घाट के अलावा शहर के अन्य स्थानों पर योग का आयोजन किया गया. इस मौके पर काशी पहुंचे केंद्रीय मंत्री कलराज मिश्र ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर योग को नई पहचान दिलाई है. सभी को इसका सम्मान करना चाहिए.

 

गोरखपुर में गोरक्षानाथ मंदिर में योग का आयोजन किया गया. यहां भाजपा सांसद योगी आदित्यनाथ लोगों को योग करवाया. तड़के सुबह ही यहां लोगों ने सूर्य नमस्कार के साथ योग करना शुरू कर दिया था. गोरक्षानाथ मंदिर के अलावा शहर के कई स्कूलों, कॉलेजों और पार्कों में योग का आयोजन किया गया था. गोरखनाथ मंदिर में हजारों की संख्या में महिलाओं,पुरुषों और बच्चों ने गोरक्षपीठाधीश्वर सांसद महंत योगी आदित्यनाथ अगुवाई में सूर्य नमस्कार सहित विभिन्न योग क्रियाएं कीं.

 

सुरेश प्रभु ने केरल में किया योग

 

रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने रविवार को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर हजारों लोगों के साथ कोच्चि में आयोजित योग सत्र में हिस्सा लिया. कांग्रेस के विधायक हीबी इडेन ने भी इनडोर स्टेडियम में आयोजित 40 मिनट के योग सत्र में हिस्सा लिया. विभिन्न राजनीतिक पार्टियों से विभिन्न जाति और धर्म के हजारों लोगों ने भी योग में हिस्सा लिया.

 

केंद्रीय कानून एवं न्याय मंत्री डी.वी.सदानंद गौड़ा के नेतृत्व में कोच्चि में योग सत्र का आयोजन किया गया, जिसमें भाजपा के 85 वर्षीय नेता ओ.राजगोपाल भी शामिल हुए.  केरल के राज्यपाल पी.सतशिवम के आधिकारिक निवास स्थान पर यहां सभी स्टाफ ने योग सत्र में हिस्सा लिया.

 

कोझिकोड स्थित गुजराती भवन में महिलाओं और बच्चों सहित हजारों लोगों ने योग सत्र में हिस्सा लिया. सुपरस्टार मोहनलाल ने अपने ब्लॉग में लिखा कि दुनिया के कई देशों, राजनीतिक पार्टियों, राजनेताओं और धर्म के अस्तित्व में आने से पहले ही हमारे देश में योग शुरू हो चुका था.

 

चांडी ने योग दिवस पर लगाया साप्ताहिक जनता दरबार

 

केरल के मुख्यमंत्री ओमन चांडी ने रविवार को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर योग नहीं किया. इसके बजाए उन्होंने अपने नियमित जनता दरबार का आयोजन किया. चांडी के पैतृक घर के बाहर तड़के लगभग 500 लोग इकट्ठा हुए. ये लोग उन्हें योग करने के बजाए अपनी शिकायतों और अनुरोधों से अवगत कराना चाहते थे.

 

चांडी पिछले कई दशकों से रविवार सुबह जनता दरबार का आयोजन करते हैं. सुबह लगभग 6.30 बजे चांडी बिना किसी सुरक्षा के अपने घर पहुंचे. जल्द ही उनके आसपास लोग अपने आवेदनों और दस्तावेजों के साथ जुटना शुरू हो गए.

 

जब चांडी से पूछा गया कि क्या वह योग नहीं करेंगे तो उनके एक सहायक ने कहा कि लोगों की समस्याओं को सुलझाने में उनकी मदद करने से उन्हें योग करने से अधिक ऊर्जा मिलती है.सहायक ने कहा, “यह उनकी शक्ति है और उन्हें ऐसा करने से योग से अधिक ऊर्जा मिलती है. वह लोगों की परेशानियां सुनकर उन्हें दूर करने की कोशिश करते हैं.”

 

भाजपा का योग ‘राजनीति का योग’ है : लालू

 

राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद ने रविवार को योग दिवस कार्यक्रम को आड़े हाथों लेते हुए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि भाजपा का यह योग-शरीर स्वस्थ बनाने का नहीं, बल्कि राजनीति का योग है. लालू ने सोशल साइट फेसबुक पर लिखा, “भाजपा के अधिकांश राष्ट्रीय नेताओं, केन्द्रीय नेताओं, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के पदाधिकारियों को वर्जिस (कसरत) करने की सख्त जरूरत है. भाजपा के अधिकांश नेताओं की चर्बी अधिक बढ़ गई है.”

 

उन्होंने आगे कहा, “अगर ये लोग योग के इतने हिमायती रहते तो इनकी तोंद इतनी नहीं फूलती. रोज योग करने वाले लोग अलग ही दिखते हैं. एक दिन के लिए ये ढकोसला क्यों?” उन्होंने कहा कि वे योग के विरोधी नहीं हैं, परंतु बेवकूफ बनाने और पाखंड के विरोधी हैं.

 

लालू ने कहा, “मजदूरों को योग की क्या जरूरत है, जो दिन भर शारीरिक श्रम करते हैं. किसान को योग करने की फुर्सत कहां है, वह तो दिनभर खेत-खलिहान में पसीना बहाता है.” लालू ने लिखा है कि अहम मुद्दों से ध्यान भटकाने के लिए आने वाले दिनों में भाजपा ऐसे अनेकों दिवस मनाएगी.

 

दिल्ली में 8000 कैदियों ने योग किया

 

राष्ट्रीय राजधानी स्थित तिहाड़ केंद्रीय जेल में कम से कम 8,000 कैदियों ने अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर रविवार को योग किया. तिहाड़ जेल के उप महानिरीक्षक मुकेश प्रसाद ने आईएएनएस को बताया, “उन्होंने अपने बैरकों में योग किया. जेल अधिकारियों ने भी आयोजन में हिस्सा लिया.”

 

दो घंटे का आयोजन सुबह लगभग 8.30 बजे समाप्त हुआ. जेल प्रशासन ने रविवार से पहले एक महीने का योग प्रशिक्षण सत्र आयोजित किया था.

 

पश्चिम बंगाल: योग दिवस समारोह में हजारों ने हिस्सा लिया

 

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर रविवार को पश्चिम बंगाल में हजारों लोगों ने योग शिविरों में हिस्सा लिया. तृणमूल कांग्रेस शासित पश्चिम बंगाल में केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन एवं रवि शंकर प्रसाद ने योग दिवस पर आयोजित कार्यक्रमों की अगुवाई की.

 

केंद्रीय संचार एवं सूचना-प्रौद्योगिकी मंत्री प्रसाद ने राजधानी कोलकाता के साल्ट लेक इलाके में स्थित भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) परिसर में आयोजित योग कार्यक्रम की अगुवाई की, वहीं केंद्रीय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी, भूविज्ञान मंत्री हर्षवर्धन ने खड़गपुर में योग कार्यक्रम की अगुवाई की.

 

केंद्रीय शहरी विकास राज्य मंत्री बाबुल सुप्रियो ने आसनसोल में पार्टी सदस्यों एवं स्थानीय लोगों के साथ मिलकर योगासन किया. खड़गपुर में भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) के छात्रों और शिक्षकों ने मिलकर संस्थान के जिमखाना में योग किया.

 

बिड़ला इंडस्ट्रीयल एंड टेक्नोलॉजिकल म्युजियम में वर्ल्ड योगा सोसायटी द्वारा रविवार तड़के योगाभ्यास आयोजित किया गया, जिसमें स्कूली छात्रों, अभिभावकों और कर्मचारियों ने हिस्सा लिया. पुरुलिया में राष्ट्रीय विज्ञान संग्रहालय परिषद के अंतर्गत आने वाले जिला विज्ञान केंद्र, दीघा विज्ञान केंद्र एवं राष्ट्रीय विज्ञान केंद्र में योग प्रस्तुतियां और योग गुरुओं से बातचीत का सत्र आयोजित किया गया.

 

कोलकाता के साल्ट लेक में सुरेश नेवतिया सेंटर ऑफ एक्सीलेंस फॉर लीडरशिप में भी भारतीय उद्योग परिसंघ ने योग कार्यक्रम आयोजित किया. भारतीय उद्योग जगत के प्रतिनिधियों, मुख्य कार्यकारी अधिकारियों (सीईओ) और वरिष्ठ कार्यकारी अधिकारियों ने बड़ी संख्या में दो घंटे के योग कार्यक्रम में हिस्सा लिया.

 

उत्तर पश्चिम बंगाल के सिलीगुड़ी, कूचबिहार और हुगली में महिला-पुरुषों ने बड़ी संख्या में योग कार्यक्रमों में हिस्सा लिया. अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर पश्चिम बंगाल में अलग-अलग स्थानों पर स्थानीय लोगों, क्लबों के सदस्यों और रिहायशी इलाकों के लोगों ने रविवार सुबह योगासन किया.

 

ओडिशा में मना अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस

 

ओडिशा में रविवार को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर आयोजित योग कार्यक्रमों में तीन हजार से ज्यादा लोगों ने हिस्सा लिया. राजधानी भुनेश्वर स्थित कलिंग स्टेडियम में आयोजित मुख्य योग कार्यक्रम में राज्य स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री अतनु सब्यसाची नाईक, खेल एवं युवा मामलों के मंत्री सुदाम मरांडी, संस्कृति एवं पर्यटन मंत्री अशोक चंद्र पंडा एवं उच्च शिक्षा मंत्री प्रदीप कुमार पाणीग्रही ने शिरकत की.

 

राज्य स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग एवं राज्य ओडिशा आयुष सोसायटी के संयोजन से स्टेडियम में आयोजित योग कार्यक्रम में तीन हजार से ज्यादा लोगों ने हिस्सा लिया. केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेद्र प्रधान ने कटक में जवाहर लाल नेहरू इनडोर स्टेडियम में आयोजित योग कार्यक्रम में हिस्सा लिया.

 

केंद्रीय जनजातीय मामलों के मंत्री जुआल ओरम कोरापुट जिले के जयपुर में योग कार्यक्रम में शामिल हुए. अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस को सफल बनाने के लिए राज्य भर में विभिन्न विश्वविद्यालयों, कॉलेजों, स्कूलों में रविवार को विशेष योग कार्यक्रम आयोजित किए गए.

 

योग जीवनशैली की बीमारियों से बचा सकता है : नड्डा

 

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जे. पी. नड्डा ने अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर रविवार को यहां कहा कि योग जीवनशैली के रोगों से दूर रख सकता है. उन्होंने कहा कि वर्तमान में जीवनशैली में छोटी-मोटी बीमारियां बड़ी चुनौतियां हैं और इनसे मुकाबला करने में योग मददगार साबित हो सकता है. नड्डा ने कहा कि योग से मानव शरीर की प्रतिरक्षा क्षमता बढ़ती है और शरीर को बीमरियों से लड़ने की ताकत मिलती है.

 

उन्होंने कहा, “हमने संक्रामक बीमारियों पर तो नियंत्रण पा लिया है, लेकिन जीवनशैली की बीमारियां जैसे तनाव, मधुमेह, कैंसर, दिल का दौरा आज के समय में स्वास्थ्य की बड़ी चुनौतियां हैं और योग इन सबका निदान है.”

 

नड्डा ने यह भी कहा कि योग को सिर्फ स्वास्थ्य एवं शारीरिक अभ्यास के तौर पर नहीं देखा जाना चाहिए. इससे योग के साथ न्याय नहीं हो पाएगा. यह जीवात्मा को परमात्मा से मिलाने का एक प्रयास है. उन्होंने कहा कि योग तन, मन, चेतन और आत्मा का संयोग है.

 

नड्डा और केंद्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्री बंडारू दत्तात्रेय सहित भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेताओं ने संजीवैया पार्क में योग किया. उन्होंने कहा कि योग को एक दिन की गतिविधि के रूप में नहीं लेना चाहिए, बल्कि इसे स्वस्थ और संतुलित जीवनशैली में शुमार करना चाहिए.

 

नड्डा ने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर दुनियाभर में करोड़ों लोगों ने योग कार्यक्रमों में हिस्सा लिया. उन्होंने इसे विश्व की सबसे बड़ी सार्वजनिक स्वास्थ्य गतिविधि करार दिया.उन्होंने 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस घोषित किए जाने के लिए संयुक्त राष्ट्र की सराहना की.

 

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस : तेलंगाना, आंध्र में दिखा जोश

 

आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में रविवार को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस बड़े जोशखरोश के साथ मनाया गया. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जे.पी. नड्डा ने हैदराबाद में योग दिवस कार्यक्रम की अगुवाई की.दोनों तेलुगू भाषी राज्यों में लोगों ने योग दिवस पर आयोजित कार्यक्रमों में उत्साह के साथ हिस्सा लिया. नड्डा, केंद्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्री बंडारु दत्तात्रेय और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेताओं ने संजीवैया पार्क में योग किया.

 

दत्तात्रेय ने गछीबाउली स्टेडियम में भी आर्ट ऑफ लिविंग की ओर से आयोजित योग कार्यक्रम में शिरकत की. विभिन्न सूचना-प्रौद्योगिकी कंपनियों में काम करने वाले पेशेवर सॉफ्टवेयर कर्मचारियों ने बड़ी संख्या में योग कार्यक्रमों में हिस्सा लिया.

 

तेलंगाना एवं आंध्र प्रदेश के संयुक्त राज्यपाल ई. एस. एल. नरसिम्हा ने राजभवन में पत्नी विमला नरसिम्हन और अधिकारियों एवं कर्मचारियों के साथ योगासन किया. तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) शासित तेलंगाना में राज्य स्वास्थ्य मंत्री सी लक्ष्मा रेड्डी ने हैदराबाद स्थित कोटा विजया भास्कर रेड्डी इंडोर स्टेडियम में आयोजित योग कार्यक्रम का शुभारंभ किया.

 

हैदराबाद और सिकंदराबाद में आयोजित विभिन्न कार्यक्रमों में सेना के जवानों और एनसीसी कैडेट ने हिस्सा लिया. सिकंदराबाद के गोलकुंडा सैन्य शिविर में सेना के जवानों और अधिकारियों ने भारतीय योग संस्थान के विशेषज्ञों की अगुवाई में योगासन किया. स्टेशन कमांडर ब्रिगेडियर अजय सिंह नेगी ने कहा कि योग सिर्फ व्यायाम नहीं है, बल्कि अपने भीतर, विश्व और प्रकृति के बीच एकत्व की खोज का तरीका है.

 

आंध्र प्रदेश में मुख्यमंत्री एन. चंद्रबाबू नायडू ने विजयवाड़ा में आयोजित योग कार्यक्रम का नेतृत्व किया. उन्होंने योग को बढ़ावा देने के लिए राज्य स्वास्थ्य विभाग को अलग से 25 करोड़ रुपये का कोष जारी करने की घोषणा की. आंध्रप्रदेश के तिरुपति, विशाखापत्तनम, कुरनूल, कडप्पा, अनंतपुर सहित कई स्थानों पर मंत्रियों और अधिकारियों ने योग कार्यक्रमों में हिस्सा लिया.

 

नेपाल में मना अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस

 

भारी बारिश के बावजूद नेपाल सरकार और भारतीय दूतावास ने रविवार को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर काठमांडू में विशेष कार्यक्रमों का आयोजन किया. सरकार द्वारा आयोजित कार्यक्रम स्वास्थ्य एवं आबादी मंत्रालय में आयोजित किए गए, जबकि दूसरा कार्यक्रम दूतावास में आयोजित किया गया. नेपाल के मुख्य सचिव लीलामणि पौड़याल ने कहा, “हमें योग कक्षाएं चलाने के लिए अलग से बजट की जरूरत है.”

 

नेपाल ने देश में योग के प्रचार के लिए अलग से कार्यक्रम शुरू करने के भी निर्देश दिए, जिसमें लोगों को प्रशिक्षित किया जाएगा और उन्हें योग के लाभ के बारे में बताया जाएगा. दूतावास की ओर से आयोजित कार्यक्रम में नेपाल के उपराष्ट्रपति परमानंद झा मुख्य अतिथि थे.

 

योग दिवस से पहले दूतावास के फेसबुक पृष्ठ के जरिए योग पर प्रतिदिन सवाल पूछे जाते थे. योग पर निबंध और चित्र प्रतियोगिता का भी संचालन किया गया. नेपाल की प्रमुख हस्तियों- मनीषा कोइराला, हरिवंश आचार्य, मदन कृष्ण श्रेष्ठ और माला लिंबू ने भी इन आयोजनों में हिस्सा लिया.

 

इन आयोजनों में केंद्रीय विद्यालय के विद्यार्थियों और नेपाल के विभिन्न योग संगठनों के सदस्यों जैसे पतंजलि योग आश्रम, मनोक्रांति योग केंद्र, अरविंदो योग आश्रम, ऑर्ट ऑफ लीविंग, माइंड एंड मैनेजमेंट, ओशो तपोवन, हिमालय अंतर्राष्ट्रीय योग अकादमी और अनुसंधान केंद्र ने भी हिस्सा लिया.

 

इन कार्यक्रमों में 30 मिनट के योग के आसन, प्रणायाम किया गया. इसके बाद तीन योग विद्धानों द्वारा भाषण दिया गया, जिसमें इतिहास एवं सिद्धांतों, योग के वैज्ञानिक एवं व्यवहारिक पहलुओं पर चर्चा की गई.

 

आस्ट्रेलिया में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस

 

आस्ट्रेलिया में रविवार को हजारों लोगों ने प्रथम अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के आयोजनों में हिस्सा लिया. समाचार चैनल ‘एबीसी’ के मुताबिक, योग दिवस का विचार सर्वप्रथम भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रखा था. मोदी स्वयं भी योग करते हैं, उन्होंने पिछले साल नवंबर में संयुक्त राष्ट्र महासभा में अपने भाषण में योग के लाभ के बारे में बात की थी.

 

आस्ट्रेलिया की राजधानी केनबरा में योग गुरु डेरल अलेक्जेंडर ने पुराने संसद भवन के ईस्ट-वेस्ट लॉन में व्यापक स्तर पर योग सत्र का संचालन किया. इस कार्यक्रम का आयोजन योग मंदिर संस्थान ने किया था.

 

सिडनी में योग प्रशिक्षकों ने बांदी समुद्र तट पर योग के विभिन्न सत्र आयोजित किए. इस कार्यक्रम को संयुक्त राष्ट्र विश्व योग दिवस आस्ट्रेलिया ने आयोजित किया था. योग आस्ट्रेलिया की मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) श्यामला बेनाकोविक ने कहा कि आस्ट्रेलिया में योग अधिक लोकप्रिय हो रहा है.

 

उन्होंने कहा, “ऐसे कई शोध और अध्ययन हैं, जिनसे पता चलता है कि योग के बहुत फायदे हैं. यह हर आयु वर्ग के लोगों, बच्चों से वरिष्ठ नागरिक तक के लिए लाभकारी है.” योग शिक्षक और पूर्व होटल व्यवसायी बेट कालमैन (89) अपने अच्छे स्वास्थ्य का श्रेय अनुशासन को देती हैं. उनका कहना है, “मुझे कभी सिदर्द और सर्दी नहीं हुई.”

 

आंध्र प्रदेश और तेलंगाना के राज्यपाल योग दिवस में हुए शामिल

 

आंध्र प्रदेश और तेलंगाना के राज्यपाल ई.एस.एल. नरसिम्हन ने यहां रविवार को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के उपलक्ष्य में आयोजित एक कार्यक्रम में हिस्सा लिया. राज भवन में आयोजित कार्यक्रम में राज्यपाल, उनकी पत्नी विमला नरसिम्हन, राजभवन के अधिकारियों और स्टाफ ने विभिन्न योगासन किए.

 

इस मौके पर नरसिम्हन ने कहा कि सबको योग को अपनी दिनचर्या का हिस्सा और आदत बनानी चाहिए. उन्होंने कहा कि योग जीवन में संतुलन एवं अनुशासन लाने और तनाव से छुटकारा दिलाने में मदद करता है. उन्होंने बताया कि उन्होंने हाल ही में योगाभ्यास शुरू किया. उन्होंने सभी से योग करने की आदत डालने का आग्रह किया.

 

गायत्री परिवार ने 60 देशों में किया योग का शंखनाद

 

अमेरिका, ब्रिटेन, ब्राजील, दक्षिण अफ्रीका, मलेशिया सहित 60 देशों में गायत्री परिवार और देव संस्कृति विश्वविद्यालय के योगाचार्यों ने अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर भारतीय संस्कृति का शंखनाद किया. यहां जारी एक बयान के अनुसार, शांतिकुंज और देसंविवि के योगाचार्यों ने 25 देशों के दूतावासों में विभिन्न देशों के राजनयिकों से लेकर मुम्बई में नौसेना के बहादुर जवानों तक को योग की ताकत से परिचय कराया.

 

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के अर्थशास्त्रियों से लेकर आईआईटी तकनीकविदों तक को योग की शक्ति के दर्शन कराए. बयान में कहा गया है कि राजपथ पर गायत्री परिवार के तीन हजार योग साधकों ने उपस्थित रहकर कार्यक्रम को सफल बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई.

 

गायत्री तीर्थ शांतिकुंज में योग दिवस के मुख्य कार्यक्रम को संबोधित करते हुए अखिल विश्व गायत्री परिवार के प्रमुख डॉ. प्रणव पण्ड्या ने कहा कि योग ने आज अपने नाम को सार्थक करते हुए दिखा दिया है कि इसमें दुनिया को जोड़ने की शक्ति है.

 

उन्होंने कहा कि शांतिकुंज के संस्थापक पं. श्रीराम शर्मा आचार्य ने बरसों पहले प्रज्ञा योग के जरिए योग के सरल और प्रभावी युगानुकूल रूप को जन जन तक पहुंचाने की एक मौन क्रांति की, जिसका अभ्यास आज किया गया.  देसंविवि के कुलाधिपति डॉ. पण्ड्या ने प्रतिदिन योग करने के अलावा योग दिवस पर प्रतिवर्ष वृक्षारोपण करने का संकल्प भी दिलाया.

 

इससे पहले शांतिकुंज में गायत्री परिवार और देसंविवि के 5000 प्रतिनिधियों ने अपने जटिल लेकिन सुन्दर आसनों के जरिए लोगों को मंत्रमुग्ध किया. इस बीच राजपथ पर आयोजित मुख्य कार्यक्रम में विशिष्ट तौर पर आमंत्रित देव संस्कृति विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. चिन्मय पण्ड्या ने भागीदारी की.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: International Yoga Day
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

बाढ़ का कहर: बिहार में 98 तो असम में अबतक 133 लोगों की मौत, यूपी के 15 जिले भी चपेट में
बाढ़ का कहर: बिहार में 98 तो असम में अबतक 133 लोगों की मौत, यूपी के 15 जिले भी चपेट...

नई दिल्ली: बिहार, असम और पश्चिम बंगाल में बाढ़ ने जनजीवन पर बुरी तरह असर डाला है. बिहार में बाढ़...

यूपी के 7000 से ज्यादा किसानों को मिला कर्जमाफी का प्रमाणपत्र
यूपी के 7000 से ज्यादा किसानों को मिला कर्जमाफी का प्रमाणपत्र

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में गुरुवार को 7574 किसानों को कर्जमाफी का प्रमाणपत्र दिया गया. इसके बाद 5...

सेना की ताकत बढ़ाएंगे छह अपाचे लड़ाकू हेलीकॉप्टर, सरकार ने दी खरीदने की मंजूरी
सेना की ताकत बढ़ाएंगे छह अपाचे लड़ाकू हेलीकॉप्टर, सरकार ने दी खरीदने की...

नई दिल्ली: रक्षा मंत्रालय ने गुरुवार को एक बड़ा फैसला लिया. मंत्रालय ने भारतीय सेना के लिए...

क्या है अमेरिकी राजदूत के हिंदू धर्म परिवर्तन कराने का वायरल सच?
क्या है अमेरिकी राजदूत के हिंदू धर्म परिवर्तन कराने का वायरल सच?

नई दिल्लीः सोशल मीडिया पर पिछले कुछ दिनों से एक विदेशी महिला की चर्चा चल रही है.  वायरल वीडियों...

भागलपुर घोटाला: सीएम नीतीश कुमार ने दिए CBI जांच के आदेश
भागलपुर घोटाला: सीएम नीतीश कुमार ने दिए CBI जांच के आदेश

पटना/भागलपुर: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भागलपुर जिला में सरकारी खाते से पैसे की अवैध...

हिजबुल मुजाहिदीन को विदेशी आतंकी संगठन करार देना अमेरिका का नाजायज कदम: पाकिस्तान
हिजबुल मुजाहिदीन को विदेशी आतंकी संगठन करार देना अमेरिका का नाजायज कदम:...

इस्लामाबाद: आतंकी सैयद सलाहुद्दीन को इंटरनेशनल आतंकी घोषित करने के बाद अमेरिका ने कश्मीर में...

डोकलाम के बाद उत्तराखंड के बाराहोती बॉर्डर पर चीन की अकड़, चरवाहों के टेंट फाड़े
डोकलाम के बाद उत्तराखंड के बाराहोती बॉर्डर पर चीन की अकड़, चरवाहों के टेंट...

नई दिल्ली: डोकलाम विवाद पर भारत और चीन के बीच तनातनी जगजाहिर है. इस बीच उत्तराखंड के बाराहोती...

एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें
एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें

1. बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने मिशन 2019 की तैयारियां शुरू कर दी हैं और आज इसको लेकर...

20 महीने पहले ही 2019 के लिए अमित शाह ने रचा 'चक्रव्यूह', 360+ सीटें जीतने का लक्ष्य
20 महीने पहले ही 2019 के लिए अमित शाह ने रचा 'चक्रव्यूह', 360+ सीटें जीतने का लक्ष्य

नई दिल्ली: मिशन-2019 को लेकर बीजेपी में अभी से बैठकों का दौर शुरू हो गया है. बीजेपी के राष्ट्रीय...

अगर लाउडस्पीकर पर बैन लगना है तो सभी धार्मिक जगहों पर लगे: सीएम योगी
अगर लाउडस्पीकर पर बैन लगना है तो सभी धार्मिक जगहों पर लगे: सीएम योगी

लखनऊ: कांवड़ यात्रा के दौरान संगीत के शोर को लेकर हुई शिकायतों पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017