IRNSS 1.C का सफल प्रक्षेपण, अपनी निर्दिष्ट कक्षा में पहुंचा

By: | Last Updated: Wednesday, 15 October 2014 10:56 PM
IRNSS 1.C successfully launched

श्रीहरिकोटा: अमेरिका के ग्लोबल पोजीशनिंग सिस्टम के अनुरूप क्षेत्रीय नौवहन प्रणाली स्थापित करने के उद्देश्य से भेजे जाने वाले सात उपग्रहों की श्रृंखला ‘‘इंडियन रीजनल नेविगेशनल सैटेलाइट सिस्टम’’ (IRNSS) के तीसरे उपग्रह IRNSS 1.C का आज देर रात श्रीहरिकोटा स्थित सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से सफल प्रक्षेपण किया गया.

 

इसरो का पीएसएलवी सी26 श्रीहरिकोटा से अपने साथ नौवहन उपग्रह आईआरएनएसएस 1.सी को लेकर रवाना हुआ. पीएसएलवी सी26 ने कुल 1,425 किग्रा वजन वाले नौवहन उपग्रह आईआरएनएसएस 1.सी को उसकी निर्दिष्ट कक्षा में सफलतापूर्वक स्थापित कर दिया.

 

पूर्व में इसे 10 अक्तूबर को तड़के एक बज कर 56 मिनट पर भारतीय रॉकेट पीएसएलवी-सी.26 की 28 वीं उड़ान से प्रक्षेपित किया जाना था. लेकिन तकनीकी कारणों के चलते प्रक्षेपण की तारीख आगे बढ़ा दी गई.

 

 

इसरो ने अमेरिका के ग्लोबल पोजीशनिंग सिस्टम के अनुरूप क्षेत्रीय नौवहन प्रणाली स्थापित करने के उद्देश्य से सात उपग्रहों की श्रृंखला भेजने का फैसला किया है. ‘‘इंडियन रीजनल नेविगेशनल सैटेलाइट सिस्टम’’ (आईआरएनएसएस) श्रृंखला के पहले दो उपग्रह आईआरएनएसएस 1.ए और आईआरएनएसएस 1.बी का प्रक्षेपण क्रमश एक जुलाई 2013 को और इस साल 4 अप्रैल को श्रीहरिकोटा से किया गया था.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: IRNSS 1.C successfully launched
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: ??????????? irnss 1 c satalite
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017