क्या आतंकवाद को सूफीवाद से खत्म किया जा सकता है?

By: | Last Updated: Sunday, 15 November 2015 12:44 PM
Is Sufism way to tackle to Terrorism?

नई दिल्ली : पश्चिमी देशों की कोशिशों के बावजूद आतंकवाद पर अब तक काबू पाया नहीं जा सका है. यूपी के कैबिनेट मंत्री आजम खान ने तो पेरिस हमले के लिए पश्चिमी देशों को ही जिम्मेदार ठहरा दिया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मुताबिक आतंकवाद को पनपने से रोका जा सकता था अगर सूफीवाद को बढ़ावा दिया जाता. सवाल खड़ा होता है कि जिस आतंकवाद से दुनिया के कई देश पीड़ित हैं. क्या उस आतंकवाद को सूफीवाद से खत्म किया जा सकता है?

 

पेरिस में हुए आतंकी हमले के लिए यूपी के कैबिनेट मंत्री आजम खान ने पश्चिमी देशों को ही जिम्मेदार ठहराया है. आजम खान ने आतंकी हमले को क्रिया की प्रतिक्रिया करार दिया है. पेरिस में जिस आतंकी संगठन ISIS ने हमला किया है. फ्रांस, अमेरिका और रुस उसके खिलाफ इराक और सीरिया में जंग लड़ रहे हैं.

 

सरेआम लोगों के गले काटना और उन्हें जलाने जैसी इंसानियत को शर्मसार करने वाली हरकतें ISIS की हैं. अब जब पश्चिमी देश मिलकर आतंकी संगठन को रोकने की कोशिश में लगे हैं, तो ISIS उसका बदला ले रहा है.

 

नासूर की तरह फैलते आतंकवाद को रोकने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक नया रास्ता दिखाने की कोशिश की है. पेरिस हमले से पहले लंदन के वेंबले स्टेडियम में प्रधानमंत्री ने कहा कि आतंकवाद का जवाब सूफीवाद हो सकता है.

 

क्या है सूफीवाद?

सूफीवाद इस्लाम धर्म का ही एक संप्रदाय है. दिल्ली में हज़रत निजामुद्दीन की दरगाह और अजमेर में ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह देश में सूफीवाद के दो प्रमुख केंद्र हैं.

 

सूफीवाद की परंपरा भी इस्लाम धर्म के प्रचार के लिए शुरू की गई थी. इसमें खुदा की इबादत को ही सर्वोच्च स्थान दिया गया है. सूफीवाद में इस बात पर भी जोर दिया जाता है कि हम अपने अंतर्मन को कैसे पवित्र बनाएं और ईश्वर की प्रार्थना के जरिए आत्मा की शुद्धि कैसे करें. बिना किसी धार्मिक या सामुदायिक भेदभाव के ईश्वर की सच्चे दिल से प्रार्थना सूफीयत कहलाती है.

 

सूफीवाद का प्रचार और प्रसार मुगलों के समय दक्षिण एशिया के मुल्कों में सबसे ज्यादा हुआ. ये भी हकीकत है कि इस्लाम धर्म में सूफीवाद को मानने वाले बेहद कम हैं.

 

अब सूफीवाद के जरिए आतंकवाद को खत्म करने के प्रधानमंत्री मोदी के संदेश पर दुनिया अमल करती है या नहीं ये देखने वाली बात होगी.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Is Sufism way to tackle to Terrorism?
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: India Narendra Modi Sufism
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017