आखिर चैनल फोर ने कैसे मेहदी से संपर्क किया ?

By: | Last Updated: Saturday, 13 December 2014 3:14 PM
isis

नई दिल्ली: आतंकवादी संगठन IS का ट्विटर अकाउंट जो शख्स हैंडल करता था, उसे बैंगलुरु से गिरफ्तार कर लिया गया है. ब्रिटेन के एक न्यूज चैनल ने उसका इंटरव्यू किया और फिर भारतीय एजेंसियों को बताया कि आरोपी मेहदी काफी समय से आतंकवादी संगठन IS का ट्विटर अकाउंट हैंडल कर रहा है . चैनल फोर की इस जानकारी के बाद बैंगलुरु पुलिस मेहदी को गिरफ्तार कर पायी .

 

सूत्रों का कहना है कि अगर बेंगलूरु पुलिस अलर्ट रहती तो मेहदी की गिरफ्तारी अक्टूबर में ही हो जाती. दरअसल एक शख्स ने तब दावला ISIS नाम से चल रहे वाईफाई कनेक्शन की जानकारी पुलिस को दी थी, लेकिन तब पुलिस ने इसे हल्के में लिया. ये वाईफाई कनेक्शन किसी और का नहीं…मेहदी मसरूर बिस्वास का था, जिसके जरिये वो ISIS के आतंकियों के संपर्क में रहता था.

 

पुलिस ने बताया कि अभी ताजा जानकारी मिली है. जिस पर कार्रवाई करके हमने मेहदी को पकड़ा है. इससे पहले हमें मेहदी के बारे में कोई जानकारी नहीं थी. बैंगलूरु पुलिस का दावा अपनी जगह, लेकिन ABP न्यूज को सूत्रों के हवाले से जो जानकारी मिली है…उसके मुताबिक अक्टूबर में ही एक शख्स ने बेंगलुरू पुलिस को मेहदी के नेटवर्क कनेक्शन के बारे में  जानकारी दी थी  लेकिन पुलिस ने तब उसे बहुत हल्के में लिया.

 

शिकायत करनेवाले शख्स ने पुलिस को बताया था कि वाई-फाई कनेक्शन से जुड़ने के दौरान उसे दावला आईएआईएस नाम से एक नेटवर्क दिखा था जिसका मतलब होता है आईएसआईएस का साम्राज्य.

 

शिकायत करनेवाले के मुताबिक उसने पुलिस को बताया था कि दावला ISIS नाम ये नेटवर्क बार-बार उसके फोन से जुड़ने की कोशिश कर रहा था जिसके बाद उसने पुलिस से इसकी शिकायत की. शिकायकर्ता के मुताबिक उसे शक था कि उसके घर के पास ही होस्टल में रहनेवाले अरब देशों के छात्र इस नाम से नेटवर्क ऑपरेट कर रहे हैं .

 

हैरानी की बात ये है कि आईएसआईएस नाम से नेटवर्क होने की शिकायत बेंगलुरु के पुलिस कमिश्नर के पास भी पहुंची थी. लेकिन पुलिस हाथ पर हाथ धरे बैठे रही.

 

आखिर चैनल फोर ने कैसे संपर्क किया ?

 

मेहदी की गिरफ्तारी के बाद सवाल उठ रहा था कि आखिर चैनल फोर ने उससे कैसे संपर्क किया और कैसे जाना कि वो IS का ट्विटर अकाउंट हैंडल करता था . इस बारे में खुफिया सूत्रों से जो जानकारी मिली है उसके मुताबिक चैनल फोर ने पूरी प्लानिंग के साथ मेहदी से उसका सच कबूलवाया था.

 

आतंकवादी संगठन IS के नापाक हरकत पर नजर जमाए चैनल फोर को कुछ समय पहले भनक लगी थी कि कि बैंगलूरू में काम करनेवाला मेहदी मसरूर बिस्वास IS के ट्विटर अकाउंट को हैंडल करता है. इस जानकारी के बाद चैनल फोर ने खुद को जेहादी जॉन की टीम के फाइटर बताकर मेहदी मशरूर से संपर्क साधा .

मेहदी को नहीं पता था कि खुद को जेहादी बताने वाले चैनल 4 के पत्रकार थे क्योंकि चैनल 4 की टीम ने खुद को ब्रिटिश फाइटर बताया. चैनल 4 के पत्रकारों ने मेहदी की तारीफ करते हुए कहा कि वो आईएसआईएस के लिए शानदार काम कर रहा है. चैनल फोर के पत्रकारों की बात में मेहदी फंसता चला गया . इसके बाद चैनल फोर ने मेहदी से पूछा कि वो इराक में होने की बजाय बैंगलूरू में क्यों है ?

 

इसके जवाब में मेहदी ने कहा कि वो भी इराक जाना चाहता है लेकिन घर परिवार की जिम्मेदारी की वजह से बैंगलुरू में फंसा हुआ है . इसके बाद मेहदी ने अपना राज खुद खोलते हुए बताया कि वो IS का ट्विट करता है और वो पश्चिम बंगाल का रहनेवाला है.

‘दिन में दफ्तर और रात को आतंकी संगठन ISIS के लिए काम करता था मेहदी’ 

कौन है मेहदी मसरूर बिस्वास? 

बेंगलुरु पुलिस ने ISIS कनेक्शन के आरोपी मेहदी को हिरासत में लिया 

बेंगलुरू से हैंडल हो रहा था ISIS का ट्विटर एकाउंट, जांच में जुटा NIA 

ISIS के ट्विटर अकाउंट को हैंडल करता है भारतीय शख्स!

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: isis
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017