दुनिया भर में खूंखार पंजे फैला रहा है आईएसआईएस

By: | Last Updated: Saturday, 14 November 2015 8:05 AM
ISIS becoming great threat for world

नई दिल्ली : पेरिस में आतंकी हमले की जिम्मेदारी लेने के बाद अब आईएसआईएस के मंसूबे और तैयारियों को साफ देखा जा सकता है. लॉस एंजिलस टाइम्स ने करीब एक साल पहले अमेरिकी खुफिया एजेंसी के हवाले से आईएसआईएस की ताकत का अंदाजा पेश किया था. यह चौंकाने वाला था.

 

पढ़ें : क्या चाहता है आईएसआईएस, कौन है बगदादी ?

 

साल 2014 में करीब 10 हजार लड़ाकों से आईएस में शामिल होने का अनुमान था. लेकिन ये तादाद 20 हजार से 35 हजार के बीच हो सकती है. इसमें से करीब 2000 आतंकी विदेशी मूल के हैं. यानी इराक और सीरिया से जिनका कोई नाता नहीं है. लेकिन साल भर में आईएस की शक्ल एक बड़े दैत्य में बदल चुकी है.

 

पढ़ें : 10 फैक्ट्स जो बताते हैं 26/11 और 14/11 की समानताएं

 

यूएसए टुडे की रिपोर्ट बताती है कि आईएस हर महीने 1000 नए लड़ाके भर्ती कर रहा है. आईएस ने अब तक करीब 20 हजार विदेशी युवाओं को अपना आतंकी बना लिया है. ये अमेरिका के 14000 विदेशी मूल के आईएस आतंकियों के अनुमान से कहीं ज्यादा है. भारत से भी आईएसआईएस में शामिल होने वालों की संख्या है.

 

पढ़ें : Live: पेरिस में 26/11 जैसा आतंकी हमला, 153 की मौत, ISIS ने ली जिम्मेदारी

 

अब आपको उस प्रचार के तरीके को समझना होगा जिसकी वजह से आतंकवादी संगठन आईएस भटके हुए युवाओं को जोड़ने में कामयाब हो रहा है. आप चौंक जाएंगे ये जानकर कि धमाकों का इस्तेमाल यहां अमन का पैगाम देने के लिए नहीं बल्कि आईएस के खौफ की कहानी सुनाने के लिए किया जा रहा है.

पढ़ें : पेरिस में सभी भारतीय सुरक्षित, हेल्पलाइन जारी

 

आईएस के मुंह खून लग चुका है. उसे पता है कि ये खून-खराबा उन लोगों को उसके आतंक की दुनिया तक खींच लाएगा जिन्हें इसमें मजा आता है. भले ही आईएस सुन्नी संगठन हो लेकिन प्रचार के इस तरीके के जरिए वो ब्रिटेन, अमेरिका, फ्रांस, ऑस्ट्रेलिया और यहां तक कि भारत तक के लोगों पर इतना गहरा असर डाल रहा है कि 90 देशों के युवा आईएस का हिस्सा बन चुके हैं.

 

पढ़ें : भारत के राष्ट्रपति-पीएम ने की हमले की निंदा, फ्रांस के साथ दुनिया

 

अब तो आईएस लोगों को संगठन में शामिल होने के लिए वीडियो भी जारी करता है. मौत के वीडियो भी अब किसी हॉलीवुड फिल्म की तर्ज पर तैयार किए जा रहे हैं. आईएस के मीडिया सेल को ना तो पैसों की कमी है और ना ही नई तकनीकों की. यही वजह है कि फ्लेम ऑफ फायर जैसी फिल्म बनाने के लिए किसी हॉलीवुड फिल्म की तरह आईएस ने 2 लाख डॉलर यानी करीब सवा करोड़ रुपये खर्च कर दिए.

 

पढ़ें : पेरिस: हमलों से शॉक में फ्रांसिसी मीडिया, कहा- इस बार यह युद्ध है

 

कहा जाता है कि आईएस ने ये पैसे सद्दाम हुसैन के गृहनगर मोसूल में कब्जे के दौरान के बैंकों से लूटे थे और वो दुनिया का सबसे अमीर आतंकी संगठन बन गया. ये तरीके उसे कही ज्यादा खतरनाक बनाते हैं और अब भारत पर हमले की उसकी योजना एक बड़ी चुनौती बनकर खड़ी है.

 

पढ़ें : फ्रांस में बढ़ी दहशत, जनवरी से ही आतंकी निशाने पर देश

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: ISIS becoming great threat for world
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: France India isis paris attack USA
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017