गणतंत्र दिवस के जश्न के बीच देश के सात कोनों को दहलाने की साजिश रची जा रही थी?

By: | Last Updated: Saturday, 23 January 2016 10:16 PM
isis plan to spring seven place in india?

नई दिल्ली: 26 जनवरी से ठीक पहले देश के कोने-कोने से गिरफ्तारियां हो रही हैं. ये वो लोग हैं जो गणतंत्र दिवस के मौके पर देश को दहलाने की साजिश में शामिल हो सकते हैं. आतंकी संगठन आईएस से संबंध रखने के आरोप में 18 गिरफ्तारियां हुई हैं. लेकिन ये गिरफ्तारियां हुई कैसे इसका खुलासा आज एबीपी न्यूज करने जा रहा है. अमेरिकी खुफिया एजेंसी सीआईए ने एक कोडवर्ड डिकोड किया था. वो कोडवर्ड था – 7 कलश रख दो.

क्या 26 जनवरी के मौके पर देश में सात जगहों पर आतंकी हमला होने वाला था?

क्या गणतंत्र दिवस के जश्न के बीच देश के सात कोनों को दहलाने की साजिश रची जा रही थी?

खुफिया एजेंसियों ने पिछले 48 घंटों में देश भर से ताबड़तोड़ गिरफ्तारियां की है?

देश के दक्षिणी हिस्से में हैदराबाद से लेकर बंगलुरु तक
और उत्तरी हिस्से में यूपी की राजधानी लखनऊ से लेकर कुशीनगर तक

एक के बाद एक 18 गिरफ्तारियां हुई. भारत में IS के फैले हुए नेटवर्क को ध्वस्त करने की ये अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई है . लेकिन ये हुआ कैसे?

दरअसल आतंकी गतिविधि को रोकने के लिए भारत अमेरिका और इजरायल तीनों देशों की खुफिया एजेंसी आपस में खुफिया जानकारियां साझा कर रही थी.

इसी के लिए अमेरिकी खुफिया एजेंसी लगातार पश्चिमी एशिया में आतंकी संगठन आईएस के फोन और कंप्यूटर पर नजर बनाए हुई थी. ऐसे सैकड़ों आईपी एड्रेस की निगरानी हो रही थी जो आईएस के कंप्यूटर और स्मार्टफोन में इस्तेमाला हो रहे थे. आतंकी इनमें से कुछ आईपी एड्रेस का इस्तेमाल फेसबुक खोलने के लिए भी कर रहे थे.

इनमें से एक आईपी एड्रेस का इस्तेमाल आईएस का कमांडर शफी अरमार कर रहा था जिसका कोडनेम यूसुफ अल हिंदी था. शफी इस कोड नेम के जरिए भारत में अखलाक उर रहमान जैसे दूसरे लोगों से बात करने के लिए कर रहा था. अखलाक को तीन और लोगों के साथ हरिद्वार में गिरफ्तार कर लिया गया है.

इसी बातचीत में सीआईए को कुछ ऐसा मिला जो भारत के लिए खतरे की घंटी बजा रहा था. खबरों के मुताबिक जनवरी के आसपास यूसुफ और अखलाक के बीच एक मैसेज भेजा गया जिसमें लिखा था 7 कलश रख दो. इसे 7 जगहों पर बम रखने के तौर पर डिकोड किया गया है.

ये खुफिया जानकारी जैसे ही भारत के हाथ लगी. राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकर अजीत डोभाल ने मोर्चा संभाल लिया.

जानकारी के मुताबिक गणतंत्र दिवस के मौके पर आतंकियों के नापाक साजिश रोकने के लिए अजीत डोभाल की देखरेख में ऑपरेशन शुरू हुआ. एनआईए और अलग-अलग राज्यों की एटीएस ने देश में कुल 12 जगहों पर छापेमारी की है, कल से अब तक कुछ 16 संदिग्ध आतंकवादी गिरफ्तार किए जा चुके हैं .

operation 7

आज महाराष्ट्र एटीएस ने औरंगाबाद जिले से इमरान पठान नाम के एक संदिग्ध को गिरफ्तार किया है . इमरान पर आतंकी संगठन IS से संबंध रखने का आरोप है . यूपी के कुशीनगर से रिजवान नाम के संदिग्ध को भी IS से संबंध रखने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है .

कई संदिग्धों से पूछताछ भी हो रही है . महाराष्ट्र एटीएस ने कल ही भारत में आईएस के सरगना मुश्ताक शेख उर्फ मुदब्बीर शेख को भी ठाणे की गिरफ्तार किया था . मुश्ताक़ शेख 34 साल का वो शख्स है जो भारत में आईएस के लिए भर्तियां करता था .

भारत में आईएस के आतंक की साजिश रचने के पीछे किसका दिमाग है?

कौन है भारत में इस्लामिक स्टेट के आतंक का आका. ये शख्स आईएस के मुखिया अबु बकर अल बगदादी का करीबी है. हरिद्वार में IS से जुड़े चार आतंकियों के पकड़े जाने के बाद उनके आका का भी चेहरा भी साफ हो गया है .

8 फरवरी … हमले की तारीख तक तय हो चुकी थी

देखें खबर का वीडियो-http://abpnews.abplive.in/videos/abp-news-special-opration-7-lalash-320589/

8 फरवरी इसलिए क्योंकि हरिद्वार का अर्धकुंभ का मेला आतंकियों के निशाने पर था. बम धमाकों से लेकर अंधाधुंध गोलियां बरसाने तक ज्यादा से ज्यादा नुकसान पहुंचाना चाहता था आतंकी संगठन आईएस.

fb 1हरिद्वार समेत दिल्ली के कई मॉल में हमला करने की साजिश रची जा रही थी. हरिद्वार से गिरफ्तार हुए चार संदिग्ध आतंकियों ने अपने आका का नाम उगला है. पूछताछ में संदिग्धों ने दो नाम लिए हैं.

एक का नाम है यूसुफ जो भारत से करीब 3210 किलोमीटर दूर इराक में बैठा है. और दूसरा है शफी अरमार जो भारत से 3642 किमी दूर सीरिया में बैठकर देश के खिलाफ साजिश रच रहा है.

शफी अरमार के नाम ने सुरक्षा एजेंसियों को चौकन्ना कर दिया है. क्योंकि ये नाम बार बार भारत मे IS जुड़े संदिग्धों की पूछताछ में सामने आ रहा है. यही शफी अरमार है भारत में IS का आतंक फैलाने वाला आतंक का आका.

भारत में हुई आतंकी घटनाओं में पहलीबार शफी अरमार का नाम आया है क्योंकि अब तक वो सिर्फ अपने भाई सुलतान अरमार के बड़े आतंकी ऑपरेशन में मदद करता रहा था और यही थी उसकी पहचान .

 

 

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: isis plan to spring seven place in india?
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: ajit dobhal isis
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017