भारत के कड़े एतराज के बाद लखवी को पाक सरकार ने फिर हिरासत में लिया

By: | Last Updated: Tuesday, 30 December 2014 6:24 AM

नई दिल्ली: भारत के कड़े एतराज के बाद पाकिस्तान ने 26/11 हमलों के मास्टरमाइंड जकीउर रहमान लखवी को 6 साल पुराने अपहरण के मामले में फिर से हिरासत में लिया है.

 

इस्लामाबाद हाईकोर्ट ने हिरासत में रखने की अधिसूचना रद्द कर दी थी. जिससे उसकी रिहाई का रास्ता साफ हो गया था. लखवी ने अपने दस लाख रूपये के जमानती मुचलके को सौंप दिया था और उसके बाद माना जा रहा था कि उसकी रिहाई तय थी.

 

इस्लामाबाद जिला प्रशासन ने 18 दिसम्बर को पाकिस्तान की आतंकवाद निरोधक अदालत से लखवी को जमानत मिलने के बाद उसे व्यवस्था बनाए रखने के तहत हिरासत में लेने का आदेश दिया था, जिसके बाद उसे 19 दिसम्बर को गिरफ्तार कर लिया गया था. लखवी ने जिला प्रशासन के इस आदेश को इस्लामाबाद उच्च न्यायालय में चुनौती दी थी.

 

इस्लामाबाद उच्च न्यायालय द्वारा सोमवार को लखवी हिरासत में रखने के जिला प्रशासन के आदेश को निलंबित करने का फैसला दिए जाने के बाद लखवी के खिलाफ इस्लामाबाद में अपहरण का एक मामला दायर किया गया.

 

लखवी के खिलाफ सोमवार देर रात दायर एफईआर में उस पर अनवर नाम के एक व्यक्ति के अपहरण में शामिल होने का आरोप लगाया गया है. उसे मंगलवार को कड़ी सुरक्षा में इस्लामाबाद की एक अदालत में पेश किया गया. कोर्ट में पेशी के बाद अपहरण के एक मामले में फिर गिरफ्तार कर लिया.

 

लखवी को मुंबई हमले के एक मात्र जिंदा पकड़े गए आतंकवादी अजमल कसाब के बयान पर फरवरी 2009 में पाकिस्तान की संघीय जांच एजेंसी ने गिरफ्तार किया था. कसाब को आतंकवादी हमले के लिए भारत की जेल में 21 नवंबर, 2012 को फांसी दे दी गई थी.

 

यह भी पढें-

आतंकी पाकिस्तान में कानून की गिरफ्त से कैसे छूट जाते हैं? 

आतंक के खिलाफ पाकिस्तान की अधूरी लड़ाई  

लखवी को जमानत मिलने पर अमेरिका चिंतित 

क्या कोई पाकिस्तान पर भरोसा कर सकता है? 

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Islamabad: A day after court relief, 26/11 accused Zakiur Rehman Lakhvi detained again in a case related to kidnapping 6 years back
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017